Thursday, July 29संस्थापक, प्रधान संपादक, स्वामी श्री नवनीत जगतरामका जी
Shadow

Tag: sukuma

मुख्यमंत्री से सुकमा और बीजापुर जिले के जनप्रतिनिधियों और ग्रामीणों के प्रतिनिधि मण्डल नेे की मुलाकात

मुख्यमंत्री से सुकमा और बीजापुर जिले के जनप्रतिनिधियों और ग्रामीणों के प्रतिनिधि मण्डल नेे की मुलाकात

chhattisgarh
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल से आज सवेरे यहां उनके निवास कार्यालय में बस्तर अंचल के सुकमा और बीजापुर जिले के जनप्रतिनिधियों और ग्रामीणों के प्रतिनिधि मण्डल ने सौजन्य मुलाकात की। मुख्यमंत्री ने जनप्रतिनिधियों और ग्रामीणों से दोनों जिलों में राज्य शासन की विभिन्न जनकल्याणकारी और विकास योजनाओं की मैदानी स्थिति की जानकारी ली। मुख्यमंत्री ने प्रतिनिधि मण्डल से चर्चा के दौरान कहा कि राज्य सरकार द्वारा सुकमा और बीजापुर जिले सहित बस्तर अंचल के लोगों की विकास से जुड़ी सभी जरुरतों को पूरा करने के हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं। ग्रामीण राज्य शासन की योजनाओं का लाभ लेने के लिए आगे आएं। जनप्रतिनिधियों से भी मुख्यमंत्री ने अधिक से अधिक ग्रामीणों को शासकीय योजनाओं से जोड़ने का प्रयास करने के लिए कहा। ग्रामीणों ने चर्चा के दौरान बताया कि वनांचलों के अंदरुनी क्षेत्रों के गांवों में भी ग्रामीण सड़क, बिजली...
सुकमा : उद्यानिकी फसलों का बीमा 15 जुलाई तक

सुकमा : उद्यानिकी फसलों का बीमा 15 जुलाई तक

बस्तर संभाग
सुकमा 06 जुलाई 2021. जिले के किसान अब चालू खरीफ सीजन में उद्यानिकी फसलों टमाटर, बैंगन, मिर्च केला के लिए बीमा करा सकते हैं। इसके साथ ही सब्जी और फल उत्पादन किसानों की फसलों का भी बीमा कराया जाएगा। इच्छुक भू-स्वामी और बटाईदार किसानों को घोषणा पत्र के साथ फसल बुआई प्रमाण पत्र या फसल बोने के आशय का घोषण पत्र सहित अन्य जरूरी दस्तावेज के साथ लोक सेवा केन्द्र, बैंक शाखा, सहकारी समिति, बीमा कम्पनी, बजाज एलायंस जनरल इंश्योरेंस कम्पनी के प्रतिनिधि और शासकीय उद्यान रोपणी से सम्पर्क कर 15 जुलाई तक मौसम आधारित फसलों का बीमा करा सकते हैं। फसल बीमा के लिए निर्धारित ऋणमान का पांच प्रतिशत प्रीमियम के रुप में जमा करना होगा। उद्यानिकी विभाग के सहायक संचालक ने बताया कि मौसम आधारित फसल बीमा योजना के तहत् प्रतिकुल मौसम से उद्यानिकी फसलों को होने वाले नुकसान की भरपाई किसानों को होगी।...
सुकुमा : हेण्डपम्प में क्लोरीन डालकर किया जा रहा शुद्धिकरण

सुकुमा : हेण्डपम्प में क्लोरीन डालकर किया जा रहा शुद्धिकरण

छत्तीसगढ़ न्यूज़
सुकमा. वर्षा ऋतु में जल जनित बीमारियों से बचने के लिए ग्रामीण क्षेत्र के पेयजल स्त्रोतों का पीएचई विभाग द्वारा क्लोरीनेशन किया जा रहा है। बारिश के मौसम में वर्षा का दूषित जल पेयजल स्त्रोतों में मिल जाने से पीने योग्य पानी भी दूषित हो जाता है। जिसे पीने से बीमारियां होने का खतरा रहता है। जल स्त्रोतों में बारिश का जल पहुंचने व जल भराव से प्रभावित गांवों में लोक स्वास्थ यांत्रिकी विभाग द्वारा पेयजल स्त्रोतों में तरल क्लोरीन डालकर शु़िद्धकरण का कार्य किया जा रहा है। इसके तहत् जिले में स्थापित हेण्डपम्प, जल टंकी, नलजल योजनाओं से होने वाली पेजयल स्त्रोतों में क्लोरीनेशन का कार्य सतत् रूप से किया जा रहा है। जिले में 6096 हेण्डपम्पों में से 3445 हेण्डपम्पों को क्लोरिनेशन किया जा चुका है। गंदे पानी के नुकसान शुद्ध पेयजल स्वास्थ्य का मूलाधार है। बचपन में अच्छे पोषण और विकास के लिए शुद्ध पेय...
सुकमा : प्रदेश में हुआ मुख्यमंत्री वृक्षारोपण प्रोत्साहन योजना का शुभारंभ : कृषकों को निजी भूमि में वृक्ष लगाने पर मिलेंगे 10 हजार की प्रोत्साहन राशि

सुकमा : प्रदेश में हुआ मुख्यमंत्री वृक्षारोपण प्रोत्साहन योजना का शुभारंभ : कृषकों को निजी भूमि में वृक्ष लगाने पर मिलेंगे 10 हजार की प्रोत्साहन राशि

छत्तीसगढ़ न्यूज़
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने आज राजधानी स्थित अपने निवास कार्यालय में आयोजित कार्यक्रम मेें ‘मुख्यमंत्री वृक्षारोपण प्रोत्साहन योजना‘ का औपचारिक शुभारंभ किया। इसके साथ ही उन्होने कार्यक्रम में जनप्रतिनिधियों सहित विभिन्न वनमंडलों के वन प्रबंधन समिति के सदस्यों तथा किसानों से वर्चुअल संवाद के माध्यम से इस योजना के लाभ के बारे में अवगत कराते हुए वृक्षारोपण के लिए प्रोत्साहित किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस योजना से क्षेत्र में हरियाली आने के साथ ही फलदार वृक्षों के रोपण से बच्चों को पौष्टिक फलों का स्वाद घर पर ही मिलेगा, जिससे बच्चों के कुपोषण दर मे कमी आएगी। इसके साथ ही पर्यावरण संतुलित होगा और इमारती लकड़ियों के वृक्ष लगाने से कृषकों को आर्थिक संबल भी मिलेगा। मुख्यमंत्री वृक्षारोपण प्रोत्साहन योजना के अंतर्गत जिन किसानों ने खरीफ वर्ष 2020 में धान की फसल ली हैे, यदि वे धान फसल के बदले अ...