Thursday, October 21संस्थापक, प्रधान संपादक, स्वामी श्री नवनीत जगतरामका जी
Shadow

Tag: rainfall

महानदी की बाढ़ में फंसे 8 ग्रामीणों को बचाया गया, गोबरा-नवापारा की कई बस्तियां हुईं खाली; रायपुर में 144 मकान ढहे

महानदी की बाढ़ में फंसे 8 ग्रामीणों को बचाया गया, गोबरा-नवापारा की कई बस्तियां हुईं खाली; रायपुर में 144 मकान ढहे

chhattisgarh, india
छत्तीसगढ़ के कई हिस्सों में भारी बरसात से आई बाढ़ ने कहर बरपा रखा है। रायपुर जिले में 144 मकान ढह गए हैं। सबसे अधिक नुकसान गोबरा-नवापारा में हुआ है। वहां की कई बस्तियों को खाली करा लिया गया है। वहीं, अभनपुर के पास महानदी की बाढ़ में फंसे आठ ग्रामीणों को SDRF की टीम बचाकर लाई है। अभनपुर के लखना कोलियारी गांव के बीच महानदी में बाढ़ आने से टापू की स्थिति बन गई थी। खेतों में काम करने गए आठ ग्रामीण उस टापू पर फंस गए। इनमें चंपारण गांव के प्रेमबती, दुर्गा, टिकेश्वरी, उमेश, हलधर, मंशाराम, सालिक, टिकेश्वर और लखना के मनराखन शामिल थे। रात में ग्रामीणों ने प्रशासन को मजदूरों के बाढ़ में फंस जाने की जानकारी दी। उसके बाद SDRF के बचाव दल को वहां भेजा गया। कोलियारी का एक ग्रामीण पोखराज बचाव दल को उस जगह ले गया जहां मजदूर फंसे हुए थे। करीब दो घंटे की मशक्कत के बाद सभी मजदूरों को नाव से बाहर निकाल लिया गया। र...
रायपुर : छत्तीसगढ़ में एक-दो दिनों में मानसून के सक्रिय होने की संभावना

रायपुर : छत्तीसगढ़ में एक-दो दिनों में मानसून के सक्रिय होने की संभावना

रायपुर
भारत मौसम विज्ञान के पूर्वानुमान के अनुसार छत्तीसगढ़ राज्य में आगामी एक-दो दिनों में मानसून के सक्रिय होने की संभावना जताई गई है। राज्य के अधिकांश हिस्सों में कही कही हल्के और कही कही गहरे बादल छाए हुए है। छत्तीसगढ़ में 11 एवं 12 जून को कहीं-कहीं भारी बारिश की संभावना व्यक्त की गई है। इस दौरान बादलों की गरज और बिजली की चमक तथा 30-40 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से तेज हवाएं चलने का भी अनुमान है।...
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सभी जिला कलेक्टरों को बेमौसम बारिश से हुई क्षति, के लिए तत्काल सहायता उपलब्ध कराने के दिये निर्देश

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सभी जिला कलेक्टरों को बेमौसम बारिश से हुई क्षति, के लिए तत्काल सहायता उपलब्ध कराने के दिये निर्देश

छत्तीसगढ़ न्यूज़
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने प्रदेश में हुई बेमौसम बारिश से फसल सहित अन्य हानि का आंकलन करने और प्रभावितों को तत्काल आवश्यक सहायता उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री ने कलेक्टरों से कहा है कि बारिश और आंधी-तूफान की वजह से फसल सहित अन्य जन-धन के नुकसान के सर्वे के लिये तत्काल टीम का गठन कर आंकलन करें और पीड़ितों को तत्काल राजस्व पुस्तक परिपत्र 6-4 के तहत आवश्यक आर्थिक सहायता राशि प्रदान की जाए।...