Wednesday, July 28संस्थापक, प्रधान संपादक, स्वामी श्री नवनीत जगतरामका जी
Shadow

Tag: olympics

मीराबाई चानू ओलिम्पिक में सिल्वर मेडल जीतने वाली की संघर्ष भरी दास्तान

मीराबाई चानू ओलिम्पिक में सिल्वर मेडल जीतने वाली की संघर्ष भरी दास्तान

खेल कूद, मनोरंजन, विशेष लेख
उस समय उसकी उम्र 10 साल थी। इम्फाल से 200 किमी दूर नोंगपोक काकचिंग गांव में गरीब परिवार में जन्मी और छह भाई बहनों में सबसे छोटी मीराबाई चानू अपने से चार साल बड़े भाई सैखोम सांतोम्बा मीतेई के साथ पास की पहाड़ी पर लकड़ी बीनने जाती थीं। एक दिन उसका भाई लकड़ी का गठ्ठर नहीं उठा पाया, लेकिन मीरा ने उसे आसानी से उठा लिया और वह उसे लगभग 2 किमी दूर अपने घर तक ले आई। शाम को पड़ोस के घर मीराबाई चानू टीवी देखने गई, तो वहां जंगल से उसके गठ्ठर लाने की चर्चा चल पड़ी। उसकी मां बोली, ''बेटी आज यदि हमारे पास बैल गाड़ी होती तो तूझे गठ्ठर उठाकर न लाना पड़ता।'' ''बैलगाड़ी कितने रूपए की आती है माँं ?'' मीराबाई ने पूछा ''इतने पैसों की जितने हम कभी जिंदगीभर देख न पाएंगे।'' ''मगर क्यों नहीं देख पाएंगे, क्या पैसा कमाया नहीं जा सकता ? कोई तो तरीका होगा बैलगाड़ी खरीदने के लिए पैसा कमाने का ?'' चानू ने ...
रायपुर : ओलम्पिक में इंडिया का जोश बढ़ाएगा छत्तीसगढ़ : राजधानी में जगह-जगह सेल्फी जोन

रायपुर : ओलम्पिक में इंडिया का जोश बढ़ाएगा छत्तीसगढ़ : राजधानी में जगह-जगह सेल्फी जोन

खेल कूद, रायपुर, राष्ट्रीय
टोक्यो ओलम्पिक में भारतीय खिलाड़ियों का जोश बढ़ाने के लिए छत्तीसगढ़ ने अनोखी तरकीब अपनाई है। इसके लिए राजधानी रायपुर में जगह-जगह सेल्फी जोन बनाए गए हैं। खेल-प्रेमी इन जगहों पर पर अपनी सेल्फी लेकर अपनी वाल के साथ-साथ छत्तीसगढ़ खेल विभाग के फेसबुक पेज पर खास हैशटैग #Cheer4India Tokyo 2020 Olympic ‘‘आई#चीयर फॉर इंडिया टोक्यो 2020 ओलम्पिक’’ के साथ पोस्ट कर सकेंगे। भारत का प्रतिनिधित्व करने वाले खिलाड़ियों को छत्तीसगढ़ के सभी खिलाड़ियों, खेल प्रेमियों एवं आम नागरिकों की ओर से खेल मंत्री श्री उमेश पटेल ने शुभकामनाएं दीं हैं। उनके निर्देश पर खेल एवं युवा कल्याण विभाग द्वारा रायपुर बूढ़ातालाब पर्यटन क्षेत्र एवं तेलीबांधा तालाब- मरीन ड्राइव में फोटो/सेल्फी जोन स्थापित किए गए हैं। साथ ही पं. रविशंकर विश्वविद्यालय के प्रवेश द्वार तथा सरदार वल्लभ भाई पटेल अंतर्राष्ट्रीय हॉकी स्टेडियम के प्रवेश द्वार में भी...