Friday, October 22संस्थापक, प्रधान संपादक, स्वामी श्री नवनीत जगतरामका जी
Shadow

Tag: india

कवर्धा में तीसरे दिन भी कर्फ्यू जारी, 70 लोगो की गिरफ़्तारी, धरने पर बैठे भाजपा नेताओ ने कहा “हमारे कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी अनुचित”

कवर्धा में तीसरे दिन भी कर्फ्यू जारी, 70 लोगो की गिरफ़्तारी, धरने पर बैठे भाजपा नेताओ ने कहा “हमारे कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी अनुचित”

chhattisgarh, india
छत्तीसगढ़ के कवर्धा जिले में तनावपूर्ण शांति है। पुलिस ने 70 लोगों की पहचान की थी। इन सभी को बुधवार देर रात तक गिरफ्तार कर लिया गया है। अन्य उपद्रवियों की पहचान के लिए वीडियो फुटेज खंगाले जा रहे हैं। क्षेत्र में तनाव की स्थिति को देखते हुए जिला प्रशासन ने गुरुवार को कर्फ्यू में ढील देने से साफ मना कर दिया है। आगे का निर्णय स्थिति को देखते हुए लिया जाएगा। वहीं शहर में घुसने से रोकने पर पूर्व मंत्री सहित कई भाजपा नेता बाहर धरने पर बैठ गए हैं। दूसरी ओर विश्व हिंदू परिषद के कार्यकर्ता उपद्रव के दौरान हुए लाठीचार्ज का विरोध कर रहे हैं। इसके चलते कार्यकर्ता गुरुवार दोपहर गिरफ्तारियां देने निकले थे, लेकिन पुलिस ने उन्हें रोक दिया। शहर में धारा-144 के साथ-साथ कर्फ्यू का हवाला देते हुए उन्हें लौटा दिया गया है। पहले की स्थिति को देखते हुए प्रशासन कोई भी कोताही बरतने के मूड में नहीं है। दूसरी ओर कार्...
रायपुर : मुख्यमंत्री ने गुरूजनों को शिक्षक दिवस पर दी शुभकामनाएं

रायपुर : मुख्यमंत्री ने गुरूजनों को शिक्षक दिवस पर दी शुभकामनाएं

chhattisgarh, education, Education & Jobs
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने 5 सितम्बर को शिक्षक दिवस के अवसर पर सभी गुरूजनों और प्रदेशवासियों को बधाई और शुभकामनाएं दी है। मुख्यमंत्री ने अपने बधाई संदेश में कहा कि पूर्व राष्ट्रपति भारतरत्न डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन ने अध्यापक के रूप में उच्च नैतिक मूल्यों को अपने जीवन में उतारने के साथ ही अपने छात्रों को भी इसके लिए प्रेरित किया। डॉ. राधाकृष्णन कठिन विषय को अपनी शैली से सरल, रोचक और प्रिय बना देते थे। उनका जन्मदिन शिक्षक दिवस के रूप में मनाकर हम सभी गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारे देश में गुरू को गोविंद से भी बड़ा दर्जा दिया गया है, क्योंकि ईश्वर तक पहुंचने और सत्मार्ग पर चलने का रास्ता गुरू ही बताते हैं। समाज के लिए अच्छा नागरिक तैयार करने में शिक्षक की अत्यंत महत्वपूर्ण भूमिका होती है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार सभी बच्चों को अच्छी शिक्षा प्राप्त हो सके इस...
विशेष लेख- शिक्षक दिवस : शिक्षा की रोशनी ने दृष्टिबाधित गोपेन्द्र के जीवन में लाया उजियारा

विशेष लेख- शिक्षक दिवस : शिक्षा की रोशनी ने दृष्टिबाधित गोपेन्द्र के जीवन में लाया उजियारा

chhattisgarh, Education & Jobs, india
शिक्षा एक ऐसा माध्यम है जिससे देश का भविष्य निर्माण होता है। समाज को गतिशील बनाकर विकास का आधार प्रदान करने के साथ व्यक्तित्व के विकास में भी शिक्षा के योगदान को भुलाया नहीं जा सकता। शिक्षा एक ऐसी रोशनी है जो किसी के अंधकारमय जिंदगी को संवार कर उजाले की ओर सही दिशा में ले जाती है। कुछ ऐसी ही कहानी गोपेन्द्र सोनकर की है। भले ही वह अपनी आंखों से देख नहीं पाता। लेकिन गांव के स्कूल में मिली शिक्षा ने उसकी जिंदगी को संवार दिया है। दृष्टिबाधित होने के बावजूद गोपेन्द्र ने अपनी पढ़ाई पूरी की। अब अपनी योग्यता की बदौलत वह उसी स्कूल में शिक्षक बनकर गांव के बच्चों को पढ़ाने जाने वाला है  जहां उसने अपनी पढ़ाई शुरू की थी। खास बात यह भी है कि इसी विद्यालय में गोपेन्द्र सोनकर के पिता श्री ढालेन्द्र सोनकर प्रधानपाठक है। रायपुर जिले के आरंग विकासखण्ड अंतर्गत ग्राम पंचायत कागदेही निवासी गोपेन्द्र सोनकर ने शि...
विशेष लेख : स्टोकास्टिक कंप्यूटिंग – एक नया शोध क्षेत्र

विशेष लेख : स्टोकास्टिक कंप्यूटिंग – एक नया शोध क्षेत्र

यूनिवर्सिटी न्यूज़
वर्ष १९६५ में, दुनिया के विभिन्न हिस्सों में अनुसंधान टीमों ने, काफी स्वतंत्र रूप से, कंप्यूटर के एक नए रूप की खोज की,  जो पैटर्न और गहन शिक्षण को पहचानने में उपयोगी हो सकता है। इसे "स्टोकेस्टिक कंप्यूटर" कहा जाता था। यह मानव मस्तिष्क की तरह समानांतर प्रसंस्करण करता है और कंप्यूटिंग तकनीकों के परिवार के लिए एक नया अतिरिक्त है। स्टोकेस्टिक कंप्यूटिंग को पारंपरिक बाइनरी कंप्यूटिंग के कम लागत वाले विकल्प के रूप में प्रस्तावित किया गया था। यह अलग है क्योंकि यह डिजीटल संभावनाओं के रूप में सूचना का प्रतिनिधित्व करता है और संसाधित करता है। यह बहुत कम कठिन गणना इकाइयों का उपयोग करता है। जो कैलक्यूलेशन करने के लिए एक पारंपरिक बाइनरी कंप्यूटिंग लगभग ३० तर्क द्वार लेता है, वही स्टोकास्टिक कंप्यूटर केवल 1 तर्क द्वार का उपयोग करता है! डिजिटल सर्किटरी में गुणा और जोड़ के लाखों गणना की जरूरत पड़ती ह...