Saturday, November 27संस्थापक, प्रधान संपादक, स्वामी श्री नवनीत जगतरामका जी
Shadow

Tag: cm bhupesh

मुख्यमंत्री की पहल पर छत्तीसगढ़ के ताप विद्युत संयंत्रों को जारी रहेगी कोयले की सुचारू आपूर्ति

मुख्यमंत्री की पहल पर छत्तीसगढ़ के ताप विद्युत संयंत्रों को जारी रहेगी कोयले की सुचारू आपूर्ति

chhattisgarh, india
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल की पहल पर छत्तीसगढ़ के ताप विद्युत संयंत्रों के लिए एसईसीएल द्वारा प्रतिदिन 29 हजार 500 मेट्रिक टन कोयले की आपूर्ति सुनिश्चित की जाएगी। एसईसीएल के सीएमडी ने इसके लिए सहमति दी है। मुख्यमंत्री ने आज यहां अपने निवास कार्यालय में प्रदेश के ताप विद्युत संयंत्रों में कोयले की आपूर्ति एवं उपलब्धता की स्थिति की समीक्षा के दौरान एसईसीएल के सीएमडी से कहा कि छत्तीसगढ़ की खदानों से कोयला निकालकर छत्तीसगढ़ सहित देश के अन्य राज्यों को कोयले की आपूर्ति की जाती है। चूंकि छत्तीसगढ़ से कोयले का उत्पादन किया जा रहा है, इसलिए एसईसीएल द्वारा प्राथमिकता के आधार पर छत्तीसगढ़ के ताप विद्युत संयंत्रों को उनकी आवश्यकता के अनुसार अच्छी गुणवत्ता के कोयले की सप्लाई की जानी चाहिए। बैठक में मुख्य सचिव श्री अमिताभ जैन, मुख्यमंत्री के अपर मुख्य सचिव श्री सुब्रत साहू, मुख्यमंत्री के सचिव श्री सिद्...
रायपुर : नरवा विकास से जल-जंगल और जैव विविधता के संरक्षण को मिली मजबूती

रायपुर : नरवा विकास से जल-जंगल और जैव विविधता के संरक्षण को मिली मजबूती

chhattisgarh, india
मुख्यमंत्री श्री बघेल आज राजधानी स्थित अपने निवास कार्यालय में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कैम्पा मद से नरवा विकास योजना के अंतर्गत वर्ष 2021-22 के लिए 392 करोड़ 26 लाख रूपए की स्वीकृत राशि के 37.99 लाख भू-जल संरक्षण संबंधी संरचनाओं का भूमिपूजन के बाद कार्यक्रम को सम्बोधित कर रहे थे। इसके तहत राज्य के वनांचल स्थित एक हजार 962 नालों में भू-जल संरक्षण संबंधी विभिन्न संरचनाओं का निर्माण किया जाएगा। इससे क्षेत्र के 8 लाख 17 हजार हेक्टेयर भूमि उपचारित होगी। मुख्यमंत्री श्री बघेल ने कहा कि छत्तीसगढ़ में नरवा विकास योजना शासन की एक महत्वपूर्ण योजना है, जो वनों के संरक्षण, भू-जल संवर्धन तथा जैव विविधता संरक्षण के साथ-साथ आदिवासियों, वनाश्रितों और किसानों के जीवन से सीधे जुड़ी हुई है। इस योजना के माध्यम से वनांचल में कृषि और वनोपज के उत्पादन में भी बढ़ोतरी होगी। उन्होंने बताया कि छत्तीसगढ़ में नरवा ...
मुख्यमंत्री आज गोधन न्याय योजना की राशि तथा तेन्दूपत्ता प्रोत्साहन पारिश्रमिक का करेंगे वितरण, कैम्पा मद अंतर्गत भू-जल संरक्षण संबंधी कार्यों का करेंगे शुभारंभ

मुख्यमंत्री आज गोधन न्याय योजना की राशि तथा तेन्दूपत्ता प्रोत्साहन पारिश्रमिक का करेंगे वितरण, कैम्पा मद अंतर्गत भू-जल संरक्षण संबंधी कार्यों का करेंगे शुभारंभ

chhattisgarh, india
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल आज 11 अक्टूबर को पूर्वान्ह 11.30 बजे से मुख्यमंत्री निवास कार्यालय में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए राज्य शासन की महत्वाकांक्षी ‘गोधन न्याय योजना‘ के तहत हितग्राहियों के खाते में राशि का अंतरण करेंगे। मुख्यमंत्री श्री बघेल इसके पश्चात् तेन्दूपत्ता प्रोत्साहन पारिश्रमिक का वितरण और कैम्पा मद से संचालित नरवा विकास योजना के अंतर्गत भू-जल संरक्षण कार्यों का शुभारंभ करेंगे।...
मुख्यमंत्री की लोकवाणी : स्थानीय टैलेंट, स्थानीय युवा और स्थानीय संसाधनों के उपयोग से तैयार हुआ विकास का छत्तीसगढ़ मॉडल

मुख्यमंत्री की लोकवाणी : स्थानीय टैलेंट, स्थानीय युवा और स्थानीय संसाधनों के उपयोग से तैयार हुआ विकास का छत्तीसगढ़ मॉडल

chhattisgarh, india
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने कहा है कि स्थानीय टैलेंट, स्थानीय युवा और स्थानीय संसाधनों के उपयोग से हम विकास के छत्तीसगढ़ मॉडल को और ज्यादा विस्तार देंगे। इससे छत्तीसगढ़ का हर क्षेत्र समृद्ध और खुशहाल होगा। मुख्यमंत्री आज प्रसारित मासिक रेडियोवार्ता लोकवाणी की 22 वीं कड़ी में जनता से ‘जिला स्तर पर विशेष रणनीति से विकास की नई राह‘ विषय पर बातचीत कर रहे थे। इस विषय पर यह लोकवाणी की दूसरी कड़ी है। मुख्यमंत्री की मासिक रेडियो वार्ता लोकवाणी का प्रसारण आज आकाशवाणी के सभी केन्द्रों, एफ.एम. रेडियो और क्षेत्रीय समाचार चैनलों में किया गया। श्री बघेल ने कहा कि स्थानीय स्तर पर रोजगार के अवसर पैदा करने में जिला प्रशासन की महत्वपूर्ण भूमिका होती है। डीएमएफ एवं मनरेगा से इसमें काफी मदद की जा सकती है। स्थानीय मौसम, मिट्टी और विशेषता को देखते हुए जिस तरह बीजापुर में मिर्ची की खेती का सपना साकार हो रहा है...
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल : नवगठित मनेन्द्रगढ़-चिरमिरी-भरतपुर जिले को कैसे सजाना-संवारना है यह क्षेत्र के नागरिक मिलकर तय करें

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल : नवगठित मनेन्द्रगढ़-चिरमिरी-भरतपुर जिले को कैसे सजाना-संवारना है यह क्षेत्र के नागरिक मिलकर तय करें

chhattisgarh
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने कहा है कि नवगठित ‘मनेन्द्रगढ़-चिरमिरी-भरतपुर‘ जिले को कैसे सजाना-संवारना है, यह उस क्षेत्र के नागरिक प्रेम, समन्वय, सहमति और भाई-चारे के साथ मिलकर तय करें। मुख्यमंत्री श्री बघेल आज यहां अपने निवास  में चिरमिरी से पद यात्रा कर रायपुर पहुंचे पदयात्रियों और नागरिकों के प्रतिनिधि मण्डल से चर्चा कर रहे थे। प्रतिनिधि मण्डल ने नए जिले के गठन और जिले के नाम में चिरमिरी का नाम भी शामिल करने के लिए मुख्यमंत्री के प्रति आभार प्रकट किया। उन्होंने मुख्यमंत्री को स्मृति चिन्ह भेंटकर उनका अभिनंदन किया। इस अवसर पर मनेन्द्रगढ़ विधायक डॉ. विनय जायसवाल और पाली तानाखार विधायक श्री मोहित राम केरकेट्टा, चिरमिरी नगर निगम की महापौर श्रीमती कंचन जायसवाल भी उपस्थित थीं। मुख्यमंत्री ने प्रतिनिधि मण्डल से कहा कि राज्य सरकार ने इस जिले का गठन कर क्षेत्र की वर्षों पुरानी बहुप्रतिक्षित मा...

मुख्यमंत्री : राम वन गमन पर्यटन परिपथ राज्य की संस्कृति को सहेजने की परियोजना है, सांस्कृतिक संध्या समापन कार्यक्रम में पहुंचे मुख्यमंत्री

chhattisgarh, india
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल छत्तीसगढ़ टूरिज्म बोर्ड एवं संस्कृति विभाग द्वारा माता कौशल्या की पावन नगरी चंदखुरी में आयोजित सांस्कृतिक संध्या के समापन कार्यक्रम में पहुंचे। उन्होंने नवरात्रि की बधाई एवं शुभकामनाएं देते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ सांस्कृतिक रूप से समृद्ध राज्य है। इसकी ख्याति हम सबके प्रयास से देश-विदेश तक पहुंचे। उन्होंने कहा कि राम वन गमन पर्यटन परिपथ राज्य की संस्कृति को सहेजने की परियोजना है। चंदखुरी में आयोजित इस महोत्सव के मनोरम एवं भक्तिमय वातावरण को देखकर ऐसा लग रहा है कि कौशल्या माता प्रभु श्री राम को अपने गोद में लिए हुए मायके आई है। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ प्रत्येक क्षेत्र में समृद्ध है। इस मौके पर उन्होंने छत्तीसगढ़ सरकार की जन कल्याणकारी योजनाओं का भी उल्लेख किया और कहा कि राज्य के प्रत्येक व्यक्ति को खुशहाल बनाने के प्रयास में सरकार जुटी है। मुख्यमंत्री श्री बघेल ने...
रायपुर : राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य एवं राज्योत्सव में शामिल होने के लिए विभिन्न राज्यों के अतिथियों को न्यौता दिया गया

रायपुर : राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य एवं राज्योत्सव में शामिल होने के लिए विभिन्न राज्यों के अतिथियों को न्यौता दिया गया

chhattisgarh, india
छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा आयोजित होने वाले राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव में शामिल होने के लिए विभिन्न राज्यों के अतिथियों को आज छत्तीसगढ़ के विधायक, मंत्री एवं नेतागण ने छत्तीसगढ़ सरकार की ओर से न्यौता दिया। सभी मान्यगण ने छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा आमंत्रित किए जाने को लेकर मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल का आभार जताया है। 28 अक्टूबर से 30 अक्टूबर तक आयोजित होने वाले कार्यक्रम में पंजाब के राज्यपाल और चंडीगढ़ के प्रशासक श्री बनवारी लाल पुरोहित, दादर नगर हवेली एवं दमनदीव के प्रशासक श्री प्रफुल्ल भाई पटेल, त्रिपुरा के संस्कृति मंत्री, हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री जयराम ठाकुर एवं मुख्य सचिव श्री राम सुभाग सिंह, उत्तराखण्ड के मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी और पर्यटन मंत्री श्री सतपाल महाराज,  मिजोरम के मुख्यमंत्री श्री जोराम थंगा, पुडुचेरी के मुख्यमंत्री थिरू एन रंगास्वामी, लद्दाख के उप राज्यपा...
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल : कृषि का विकास और किसानों का कल्याण हमारी सर्वाेच्च प्राथमिकता

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल : कृषि का विकास और किसानों का कल्याण हमारी सर्वाेच्च प्राथमिकता

chhattisgarh, india
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने कहा है कि कृषि का विकास और किसानों का कल्याण छत्तीसगढ़ सरकार की सर्वाेच्च प्राथमिकता है। कृषि के क्षेत्र में नई तकनीकों के विकास और इसे किसानों तक पहुंचाने के कार्य में इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। छत्तीसगढ़ के कृषि उत्पादों के निर्यात को बढ़ावा देने में आज से कृषि विश्वविद्यालय में प्रारंभ हो रही फाईटोसेनेटरी लैब का महत्वपूर्ण योगदान होगा। गांवों के रूरल इंडस्ट्रियल पार्क में अब कृषि वैज्ञानिकों द्वारा विकसित प्रसंस्करण तकनीक का उपयोग किया जाएगा। गौठानों में गोबर से जैविक खाद के निर्माण, बिजली उत्पादन और वैल्यू एडीशन के कार्य में वैज्ञानिक अनुसंधान और तकनीक के उपयोग को बढ़ावा दिया जा रहा है। मुख्यमंत्री श्री बघेल आज इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय के अंतर्गत लगभग 30 करोड़ रूपये की लागत से निर्मित भवनों एवं अन्य अधोसंरचनाओं का ...
मुख्यमंत्री ने इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय द्वारा विकसित  प्रसंस्करण इकाईयों की सराहना की

मुख्यमंत्री ने इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय द्वारा विकसित प्रसंस्करण इकाईयों की सराहना की

chhattisgarh, india
मुख्यमंत्री श्री बघेल ने आज इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय परिसर में विभिन्न अधोसंरचनाओं के लोकार्पण के दौरान विश्वविद्यालय के कृषि वैज्ञानिकों द्वारा विकसित की गई विभिन्न प्रसंस्करण इकाईयों का अवलोकन किया। उन्होंने इस मौके पर कृषि वैज्ञानिकों द्वारा विकसित की गई इन प्रसंस्करण इकाईयों की सराहना की और इन इकाईयों को गौठानों में बनाए गए रूरल इंडस्ट्रियल पार्क में स्थापित करने के निर्देश अधिकारियों को दिए। मुख्यमंत्री ने कृषि विज्ञान केन्द्र में मखाना प्रसंस्करण इकाई, बस्तर कॉफी, दाल प्रसंस्करण इकाई, मुर्रा प्रसंस्करण इकाई, खाद्य तेल प्रसंस्करण इकाई, धान, आटा एवँ मसाला प्रसंस्करण इकाई, भाजी एवँ फूलों से हर्बल कलर बनाने को यूनिट, तीखुर प्रसंस्करण, केले के तने से रेशा (फाइबर) बनाने की यूनिट पैकेजिंग मशीन का अवलोकन कर कृषि वैज्ञानिकों से आवश्यक जानकारी ली। कार्यक्रम में कृषि मंत्री श्री रविन्...
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल : देश-दुनिया के लिए छत्तीसगढ़ में खुला राम वन गमन मार्ग : छत्तीसगढ़ के जनमन में रचे बसे हैं राम

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल : देश-दुनिया के लिए छत्तीसगढ़ में खुला राम वन गमन मार्ग : छत्तीसगढ़ के जनमन में रचे बसे हैं राम

chhattisgarh, india
भगवान राम जिस वन पथ पर चलकर मर्यादा पुरूषोत्तम कहलाए आज छत्तीसगढ़ में वह वन पथ देश-दुनिया के लिए खुल गया। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने आज मां कौशल्या की नगरी चंदखुरी में राम वन गमन पर्यटन परिपथ परियोजना के प्रथम चरण का लोकार्पण किया। इस अवसर पर आयोजित तीन दिवसीय भव्य समारोह का शुभारंभ करते हुए मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने कहा कि भगवान श्री राम का छत्तीसगढ़ से बड़ा गहरा नाता है। भगवान श्री राम हम छत्तीसगढ़ियों के जीवन और मन में रचे बसे हैं। सोते-जागते, एक-दूसरे का अभिवादन करते, सुख हो अथवा दुख हर पल हम छत्तीसगढ़िया लोग भगवान श्री राम का सुमिरन करते हैं। हम छत्तीसगढ़िया लोग, भगवान श्री राम को माता कौशल्या के राम, भांचा राम, वनवासी राम, शबरी के स्नेही और दयालु राम के रूप में जानते और मानते हैं। कार्यक्रम की अध्यक्षता लोक निर्माण, गृह एवं पर्यटन मंत्री श्री ताम्रध्वज साहू ने की। मुख्यमंत्री श...