Thursday, July 29संस्थापक, प्रधान संपादक, स्वामी श्री नवनीत जगतरामका जी
Shadow

Tag: bijapur

कोण्डागांव : सीईओ ने आंवराभाटा सचिव को निलंबित कर तकनीकी सहायक को दिया नोटिस

कोण्डागांव : सीईओ ने आंवराभाटा सचिव को निलंबित कर तकनीकी सहायक को दिया नोटिस

बस्तर संभाग
कोण्डागांव, 28 जुलाई 2021. गोठानों को मल्टी एक्टीविटी केन्द्र के रूप में विकसित करने के लिए ग्राम आंवराभाटा में स्थित गोठान का बुधवार को जिला पंचायत सीईओ देवनारायण कश्यप ने निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने गोठान का निरीक्षण करते हुए गोठान में वैट टैंक, वर्मी टांका, पानी टंकी, सीपीटी, कोटना नहीं होने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए ग्राम पंचायत सचिव रूपसिंह प्रधान को निलंबित करते हुए तकनीकी सहायक को गोठान में अपर्याप्त सुविधाओं एवं मल्टी एक्टीविटी सेंटर के रूप में कार्य करने हेतु व्यवस्थाएं न करने के लिये कारण बताओ नोटिस जारी किया गया। इस नोटिस के संबंध में संतुष्टिप्रद जवाब न प्राप्त होने पर दोनों के विरूद्ध कार्यवाही की जावेगी। उन्होंने गोठान समिति के सदस्यों एवं कार्याधीन स्व-सहायता समूह की महिलाओं से भी गोठान के विकास के संबंध में चर्चा की एवं गोठान को विकसित करने के लिए स्थानीय जनप्रतिनिधिय...
बीजापुर : पचास साल में पूरी नहीं हो पाई एक अदद हैंडपंप की मांग

बीजापुर : पचास साल में पूरी नहीं हो पाई एक अदद हैंडपंप की मांग

बस्तर संभाग
बीजापुर। जिला मुख्यालय से करीब 20 किमी दूर गंगालूर ग्राम पंचायत के तोंगबाल पारा में दशकों से बसते आ रहे दो सौ ग्रामीण साफ पानी पीने के अपने अधिकार से बेदखल है। बीजापुर से चेरपाल फिर चेरपाल से कुछ किमी आगे गंगालूर को जोड़ती सड़क को छोड़ कच्ची सड़क के सहारे तोंगबाल पहुंचा जा सकता है। यहां रहने वाले बदरू हेमला, आयतु हेमला समेत पारा के बाषिंदों की एक अदद मांग हैण्डपंप को लेकर है। पांच दशक से बसते आ रहे दो सौ ग्रामीणों की प्यास एक खेत के बीचों-बीच मौजूद कुआ से बुझती है, जिसमें बारह मास पानी रहता है। पंचायत प्रतिनिधियों से हैण्डपंप की मांग करते थक चुके तोंगबाल वासियों के लिए यही कुआ सहारा बना हुआ है। पीने का पानी उन्हें इसी चुए से मिलता है। जिसे सुरक्षित करने पारा के दर्जनभर परिवारों ने उपाय निकाला और एक सूखे पेड़ की खोखले तने को चुए में गाड़ कर कुआ सा आकार दे दिया। इस तरह प्राकृतिक जल स्त्रोत क...
मुख्यमंत्री से सुकमा और बीजापुर जिले के जनप्रतिनिधियों और ग्रामीणों के प्रतिनिधि मण्डल नेे की मुलाकात

मुख्यमंत्री से सुकमा और बीजापुर जिले के जनप्रतिनिधियों और ग्रामीणों के प्रतिनिधि मण्डल नेे की मुलाकात

chhattisgarh
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल से आज सवेरे यहां उनके निवास कार्यालय में बस्तर अंचल के सुकमा और बीजापुर जिले के जनप्रतिनिधियों और ग्रामीणों के प्रतिनिधि मण्डल ने सौजन्य मुलाकात की। मुख्यमंत्री ने जनप्रतिनिधियों और ग्रामीणों से दोनों जिलों में राज्य शासन की विभिन्न जनकल्याणकारी और विकास योजनाओं की मैदानी स्थिति की जानकारी ली। मुख्यमंत्री ने प्रतिनिधि मण्डल से चर्चा के दौरान कहा कि राज्य सरकार द्वारा सुकमा और बीजापुर जिले सहित बस्तर अंचल के लोगों की विकास से जुड़ी सभी जरुरतों को पूरा करने के हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं। ग्रामीण राज्य शासन की योजनाओं का लाभ लेने के लिए आगे आएं। जनप्रतिनिधियों से भी मुख्यमंत्री ने अधिक से अधिक ग्रामीणों को शासकीय योजनाओं से जोड़ने का प्रयास करने के लिए कहा। ग्रामीणों ने चर्चा के दौरान बताया कि वनांचलों के अंदरुनी क्षेत्रों के गांवों में भी ग्रामीण सड़क, बिजली...
बीजापुर : गोबर बेचकर आत्मनिर्भर बनी आलोचना,  किराना दुकान का शुरू किया संचालन

बीजापुर : गोबर बेचकर आत्मनिर्भर बनी आलोचना, किराना दुकान का शुरू किया संचालन

बस्तर संभाग
बीजापुर.  गोधन न्याय योजनांतर्गत जनपद पंचायत भोपालपटनम के ग्राम अर्जुनल्ली की आलोचना यालम जो बिहान योजना के इंद्रा स्व सहायता समूह से जुड़ी है।उसने ग्राम अर्जुनल्ली गौठान में लगभग 6 माह में 37223 किलोग्राम गोबर का विक्रय किया, जिसके एवज में शासन द्वारा निर्धारित 2 रुपए  प्रति किलोग्राम की दर से कुल 74 हजार 446 रुपए प्राप्त हुआ। उक्त प्राप्त धनराशि के कुछ रुपयों से आलोचना ने अपनी दैनिक जरुरतों को पूरा किया एवं लगभग 40 हजार रुपये से अपना स्वयं का एक निजी किराना दुकान खोला। आलोचना कहती हैं कि समूह से जुड़ने के पूर्व वह एक शिक्षित बेरोजगार थी, बिहान योजना से जुड़े हुए लगभग 2 वर्ष हो गये। बिहान योजना से जुड़कर गोधन न्याय योजना अंतर्गत गोबर विक्रय किया और प्राप्त राशि से स्वयं स्वरोजगार के रुप मे किराना दुकान खोल अपने पैरों पर खड़े हो पाई हूॅ। किसी दूसरे पर आश्रित नही हॅू। आलोचना बताती है कि किरान...
बीजापुर : सागौन मामले में चुप नहीं बैठेगी सीपीआई : कमलेश भाकपा नेता ने प्रशासन पर जांच में पक्षपात का लगाया आरोप

बीजापुर : सागौन मामले में चुप नहीं बैठेगी सीपीआई : कमलेश भाकपा नेता ने प्रशासन पर जांच में पक्षपात का लगाया आरोप

बस्तर संभाग
बीजापुर। नगर के जनपद स्कूल में सागौन पेड़ों की अवैध कटाई को लेकर सियासी बयानबाजी थमने का नाम नहीं ले रही है। मामले में आरोपियों की गिरफतारी की मांग कर रही सीपीआई के जिला सचिव ने अब स्थानीय प्रशासन पर पूरे मामले को दबाने और मामले में संलिप्त रसूखदारों को बचाने का आरोप लगाया है। भाकपा सचिव कमलेश झाड़ी ने जारी विज्ञप्ति में यह आरोप लगाया है। कमलेश का कहना है कि मामला प्रकाश में आए एक माह बीतने को है, बावजूद प्रशासन की जांच आरोपियों को बेनकाब करने में नाकाम रही है। अवैध कटाई की सुक्ष्मता से जांच की मांग को लेकर सीपीआई ने प्रशासन को आंदोलन की चेतावनी भी दी थी, लेकिन इसका कोई असर नहीं हुआ। मामले को लेकर सीपीआई आंदोलन करना चाहती, लेकिन प्रषासन ने उसकी इजाजत भी नहीं दी। इस तरह प्रशासन की कार्रवाई को लेकर बेरूखी से सागौन चोरों के हौसले अब बुलंद हैं। कमलेश का कहना है कि मामले में कई गहरे राज दफन है...
बीजापुर : नीलम सरई तक पर्यटकों की पहुंच आसान बनाने बनेगी समिति शराब ले जाने पर रहेगी पाबंदी, बाइक से सोढ़ी पारा पहुंचे कलेक्टर

बीजापुर : नीलम सरई तक पर्यटकों की पहुंच आसान बनाने बनेगी समिति शराब ले जाने पर रहेगी पाबंदी, बाइक से सोढ़ी पारा पहुंचे कलेक्टर

बस्तर संभाग
बीजापुर। नीलम सरई जलप्रपात को पर्यटन के लिहाज से विकसित करने प्रशासन ने खास दिलचस्पी दिखाई है। शुक्रवार को कलेक्टर रितेष अग्रवाल उसूर के सोढ़ी पारा पहुंचे। उन्होंने बतौर टूर गाइड काम कर रहे गांव के स्थानीय युवकों से मुलाकात की। गौरतलब है कि मनवा बीजापुर के तहत् कलेक्टर रितेष अग्रवाल ने नीलम सरई जलप्रपात तक सैलानियों की पहुंच को आसान बनाने सोढ़ी पारा के ही कुछ युवकों के लिए टूरिस्ट गाइड हेतु प्रशिक्षण की व्यवस्था की थी। अनएक्सप्लोर्ड बस्तर के माध्यम से गांव के कुछ युवकों का चयन किया गया और उन्हें वर्कषाॅप के जरिए प्रषिक्षित किया गया। नीलम सरई को पर्यटकों का आकर्षण का केंद्र बनाने के साथ गांव वालों की समस्याएं सुनने के मकसद से कलेक्टर गांव के अंतिम छोर पर स्थित माता गुड़ी में पहुंचे। यहां शेड के नीचे चैपाल लगाई और ग्रामीणों से उनकी समस्याएं सुनी। यह पहला मौका था जब सुदूर उसूर इलाके के सोढ़ी पारा...
बीजापुर में बारिश : चेरपाल रपटा डूबा गंगालूर समेत कई गांवों का टूटा संपर्क

बीजापुर में बारिश : चेरपाल रपटा डूबा गंगालूर समेत कई गांवों का टूटा संपर्क

बस्तर संभाग
बीजापुर। जिले में पिछले दो दिनों से रूक-रूककर हो रही बारिश से जनजीवन प्रभावित है। नदी-नालों का जलस्तर बढ़ने लगा है। बारिश के कारण गंगालूर समेत कई गांवों का जिला मुख्यालय से संपर्क टूट गया है तो वही मिरतूर इलाके में मरी नदी पर बना रपटा भी बारिष की वजह से परेषानी का सबब बना हुआ है। बीती रात से चेरपाल के समीप रपटे के उपर से पानी बह रहा है। नतीजतन मार्ग पर आवागमन ठप है। चेरपाल, रेड्डी, गंगालूर समेत दो दर्जन गांव रपटे पर पानी होने से प्रभावित है। स्वास्थ्य सेवाएं भी इससे प्रभावित है। हालांकि इंद्रावती नदी का जलस्तर अभी खतरे के निषान से नीचे है। भोपालपट्नम, ताड़लागुड़ा समेत आस-पास के इलाके में हालात सामान्य है। वही बीजापुर की महादेव घाटी का नजारा देखते ही बन पड़ रहा है। पहाड़ियों पर कोहरे की धुंध और हरियाली का नजारा राह गुजर रहे लोगों का ध्यान अपनी ओर खींच रहा है। बारिष के बीच लोग मौसम का लुत्फ लेते ...
बीजापुर : नीलम सरई को शराबियों की लगी नजर, जलप्रपात के उपर शराब-बीयर की खाली बोतलों से बिगड़ी सूरत

बीजापुर : नीलम सरई को शराबियों की लगी नजर, जलप्रपात के उपर शराब-बीयर की खाली बोतलों से बिगड़ी सूरत

बस्तर संभाग
बीजापुर। बीते वर्षों में सुर्खियों में आया नीलम सरई जलप्रपात को शराबियों की नजर लग गई है। परिणामस्वरूप इस खूबसूरत जलप्रपात का साफ सुथरा परिवेष शराबियों की हरकतों की भेंट चढ़ रहा है। बतौर गाईड आगुंतकों को जलप्रपात तक ले जाने वाले स्थानीय युवाओं ने संवाददाता को तस्वीरें भेजी है, जिसमें जलप्रपात के कुण्ड के उपरी हिस्से यानी कि पहाड़ी की चोटी पर जगह-जगह अंग्रेजी शराब, बीयर की खाली बोतलें पड़ी हैं तो कहीं कहीं कांच के टुकड़े। गौरतलब है कि गत दो वर्षों में नीलम सरई जलप्रपात की खूबसूरती बाहर आने के बाद जलप्रपात को करीब से निहारने पहाड़ी पर लोगों का तांता लगा हुआ है। लोग जलप्रपात तक पहुंच रहे हैं और फूर्सत के पल का आनंद उठाने पिकनिक भी मना रहे हैं। पिकनिक के दौरान ही शराब के आदियों ने इस खूबसूरत दर्षनीय स्थल को भी नहीं बख्शा। जलप्रपात के उपर जगह-जगह शराब और बीयर की खाली बोतलें नजर आ रही है। वही खाने...
बीजापुर : झमाझम बारिष में जाल से मछलियां पकड़ विधायक ने जाहिर की खुषी, लोगों को खूब भाया अंदाज

बीजापुर : झमाझम बारिष में जाल से मछलियां पकड़ विधायक ने जाहिर की खुषी, लोगों को खूब भाया अंदाज

बस्तर संभाग
बीजापुर। खण्ड वर्षा जैसे हालात के बीच जिले में बीते चैबीस घंटे से मानसून मेहरबान है। मंगलवार रात से अंचल में लगातार तेज-मध्यम बारिष हो रही है, जिससे किसानों में फसल बुआई को लेकर उम्मीदें बढ़ गई है।  मानसून मेहरबान होते ही अंचल के तालाब-पहाड़ी नालों का भी जल स्तर बढ़ना शुरू हुआ है। मौसम के इस मिजाज को जहां आम लोग अपने-अपने हिसाब से लुत्फ उठाते दिखे तो वही बस्तर विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष और बीजापुर विधायक विक्रम शाह मंडावी भी खुद को रोक नहीं पाए। भैरमगढ़ मंे निवासरत् विधायक मंडावी झमाझम बारिष के बीच भैरमगढ़ के समीप गणेष बहार नाला पहुंचे और मछली पकड़ रहे ग्रामीणों से जाल की डोर अपने हाथों में थाम ली। फिर क्या था, बहाव के उल्टे विधायक ने जाल फेंकी । देखते ही देखते विधायक विक्रम के जाल में कई प्रजातियों की मछलियां भी फंसी। बारिष का आनंद उठाते और मत्स्याखेट का लुत्फ लेते विधायक ने तस्वीरें भी सो...
बीजापुर : महंगाई भत्ते की मांग को लेकर सौंपा ज्ञापन

बीजापुर : महंगाई भत्ते की मांग को लेकर सौंपा ज्ञापन

बस्तर संभाग
बीजापुर। डीए की माँग को कर्मचारी-अधिकारी फेडरेषन के सदस्यों ने मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा।फेडरेशन के जिलाघ्यक्ष जाकीर खान, जिला संयोजक केडी राय के नेतृत्व मे एसडीएम बीजापुर देवेश धु्रवे को ज्ञापन प्रति सौंपी। पदाधिकारियों के मुताबिक फेडरेशन ने चैदह सूत्रीय माँगो को लेकर दिसंबर 2020 मे तीन चरणों में आंदोलन किया है। केंद्र सरकार द्वारा जनवरी 2020 का चार प्रतिशत ,जुलाई 2020 का तीन प्रतिशत एवं जनवरी 2021 का चार प्रतिशत कुल ग्यारह प्रतिशत मँहगाई भत्ता के भुगतान का निर्णय लिया गया है। इस तरह केंद्र के कर्मचारियों को कुल 28 प्रतिशत मँहगाई भत्ता मिलेगा। यह भी कहना था कि प्रदेश मे कोरोना संक्रमण को रोकने शासकीय सेवकों ने दिन रात परिश्रम किया । शासन से उनका यह अधिकार अपेक्षित है। प्रतिनिधि मंडल में विभिन्न संगठन के पदाधिकारी शामिल थे। जिसमें शिक्षक संघ के आरडी झाड़ी, ईश्वर झाड़ी, तलाण्डी नारायण, ...