Friday, October 22संस्थापक, प्रधान संपादक, स्वामी श्री नवनीत जगतरामका जी
Shadow

Tag: bhupesh baghel

विशेष लेख : गोधन न्याय योजना से ग्रामीण अर्थव्यवस्था को संजोए रखने का मार्ग प्रशस्त हुआ…

विशेष लेख : गोधन न्याय योजना से ग्रामीण अर्थव्यवस्था को संजोए रखने का मार्ग प्रशस्त हुआ…

Gondwana Special, Govt Schemes
अपनी परंपरा की समृद्ध सांस्कृतिक समझ उज्जवल भविष्य का नींव भी तैयार करती है। परंपरा अपने परिवेश की समझ के आधार पर तैयार की गई है। कृषि प्रधान संस्कृतियों के विकास में गोधन की बेहद महत्वपूर्ण भूमिका होती है और हमारे पूर्वजों ने इसे समझते हुए गोधन का उपयोग आर्थिक विकास के लिए पूरी तौर पर किया। अन्नदा, वन्नदा, सुखदा की आवधारणा को लेकर चलते हुए उन्होंने प्रकृति को सहेजते हुए जैविक खेती अपनाई, गोबर खाद का प्रयोग किया। पंचगव्य का प्रयोग कीटनाशक की तरह फसलों की रक्षा के लिए किया। कृषि को संरक्षण प्रदान करने के लिए इसकी अभिवृद्धि के लिए इन्होंने संसाधन स्थानीय परिवेश से ही लिए। यही वजह है कि सैकड़ों वर्षाें से अन्न देने वाली छत्तीसगढ़ की धरती कभी वंध्या न हुई। रासयनिक खादों के बढ़ते प्रयोग ने भूमि पर दबाव डाला और इसकी उर्वरा शक्ति धीरे-धीरे क्षरित होने लगी है। इन सभी बातों को भली-भांती समझते हुए प्र...
तीजा-पोरा तिहार के लिए महिलाओं-बहनों के लिए मायका बना मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल का निवास

तीजा-पोरा तिहार के लिए महिलाओं-बहनों के लिए मायका बना मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल का निवास

chhattisgarh, रायपुर
मुख्यमंत्री निवास में आज तीजा पोरा तिहार धूमधाम से मनाया गया। तीजा-पोरा तिहार के लिए महिलाओं-बहनों के लिए मायका बना मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल का निवास। मुख्यमंत्री निवास में छत्तीसगढ़ी संस्कृति के इंद्रधनुषी रंगों की छटा देखते ही बन रही थी। मुख्यमंत्री के न्यौते पर पारंपरिक वेशभूषा में बड़ी संख्या में महिलाओं ने बड़े उत्साह के साथ आयोजन में हिस्सा लिया। मंत्रोच्चार के बीच मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने धर्मपत्नी श्रीमती मुक्तेश्वरी बघेल और परिवार के सदस्यों के साथ कार्यक्रम में शामिल होकर भगवान शिव, नांदिया बैला और चुकियां-पोरा की पूजा अर्चना कर प्रदेश की सुख-समृद्धि और खुशहाली की कामना की। उन्होंने इस अवसर पर सभी माताओं और बहनों को त्यौहार की बधाई और शुभकामनाएं दी। राऊत नाच दल और छत्तीसगढ़ी लोक कलाकारों के दल ने छत्तीसगढ़ी गीत संगीत से अनोखा शमां बंधा। मुख्यमंत्री निवास में लोगों के लिए छ...
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने पोषण रथ को हरी झण्डी दिखाकर किया रवाना

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने पोषण रथ को हरी झण्डी दिखाकर किया रवाना

chhattisgarh, रायपुर
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने आज यहां अपने निवास में आयोजित तीजा पोरा तिहार के अवसर पर महिला एवं बाल विकास द्वारा संचालित पोषण रथ को हरी झंडी दिखाकर विभिन्न जिलों के भ्रमण के लिए रवाना किया । यह रथ विभिन्न गांव में भ्रमण कर पोषण का संदेश देगा। रथ में सुपोषण पर केंद्रित फिल्मों का प्रदर्शन किया जाएगा इस अवसर पर महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती अनिला भेडिया, उद्योग मंत्री श्री कवासी लखमा, वनमंत्री श्री मोहम्मद अकबर, राज्यसभा सांसद श्रीमती फूलोदेवी नेताम, विधायक श्री मोहितराम केरकेट्टा, श्रीमती संगीता सिन्हा, अपर मुख्य सचिव श्री सुब्रत साहू, महिला एवं बाल विकास विभाग की सचिव डॉ. रीना बाबा साहब कंगाले भी उपस्थित थीं । मुख्यमंत्री श्री बघेल एवं महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती अनिला भेडिया ने पोषण प्रतिज्ञा पर हस्ताक्षर कर कुपोषण रहित छत्तीसगढ़ के निर्माण के लिए प्रतिबद्धता व्यक्त किये ...
तीजा-पोरा पर मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने समूह की महिला-बहनों को दी बड़ी सौगात

तीजा-पोरा पर मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने समूह की महिला-बहनों को दी बड़ी सौगात

chhattisgarh, politics
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने आज अपने निवास में आयोजित तीजा-पोरा त्यौहार के कार्यक्रम के अवसर पर समूह की महिला-बहनों को दी बड़ी सौगात दी है। मुख्यमंत्री ने सभी महिला समूहों के कालातीत ऋणों को माफ़ करने की घोषणा की है ताकि वे पुनः ऋण लेकर नवीन आर्थिक गतिविधियाँ आरम्भ कर सकें। मुख्यमंत्री ने इसके साथ ही महिला समूहों को प्रति वर्ष दिए जाने वाले ऋण के बजट में भी 5 गुना वृद्धि की घोषणा की है। मुख्यमंत्री ने किसानों और मजदूरों के बाद अब महिलाओं के लिए न्याय की पहल करते हुए घोषणा पत्र का अपना एक और वादा पूरा कर दिया है। राज्यसभा सांसद श्रीमती फूलोदेवी नेताम ने इस अवसर पर कहा कि छत्तीसगढ़ में मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में नई सरकार के  आने के बाद महिला समूहों की आर्थिक गतिविधियों में अभूतपूर्व वृद्धि हुई है, जिससे लाखों महिलाओं की आय वृद्धि से आर्थिक स्वावलम्बन का मार्ग प्रशस्त हुआ है...
सरकार में कोई भी कानून से ऊपर नहीं फिर चाहे वो मेरे 86 साल के पिता ही क्यों न हो : मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल

सरकार में कोई भी कानून से ऊपर नहीं फिर चाहे वो मेरे 86 साल के पिता ही क्यों न हो : मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल

chhattisgarh, politics
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने कहा है कि विगत दिनों उनके पिता श्री नंदकुमार बघेल द्वारा एक वर्ग विशेष के विरूद्ध की गई टिप्पणी उनके संज्ञान में आयी है। उनकी इस टिप्पणी से समाज के एक वर्ग की भावनाओं और सामाजिक सद्भाव को ठेस लगी है उनके इस बयान से उन्हें भी दुःख हुआ है। मुख्यमंत्री श्री बघेल ने कहा कि मुझे सोशल मीडिया एवं अन्य माध्यमों से यह ज्ञात हुआ है कि ये बात कही जा रही है कि श्री नंदकुमार बघेल पर इसलिये कार्यवाही नहीं होगी क्योंकि वे मुख्यमंत्री के पिता हैं। श्री भूपेश बघेल ने यह स्पष्ट कहा है कि उनकी सरकार सभी को एक ही दृष्टि से देखती है। उनके पिता श्री नंदकुमार बघेल से उनके वैचारिक मतभेद शुरू से हैं ये बात सभी को पता है। मुख्यमंत्री श्री बघेल ने कहा है कि हमारे राजनीतिक विचार एवं मान्यतायें भी बिल्कुल अलग अलग हैं। एक पुत्र के रूप में मैं उनका सम्मान करता हूँ लेकिन एक मुख्यमंत्र...
राज्य शिक्षक पुरस्कार वर्ष 2021 के लिए 56 शिक्षकों का चयन स्कूल, शिक्षा मंत्री ने की घोषणा

राज्य शिक्षक पुरस्कार वर्ष 2021 के लिए 56 शिक्षकों का चयन स्कूल, शिक्षा मंत्री ने की घोषणा

chhattisgarh, Education & Jobs
राज्यपाल सुश्री अनुसुईया उइके के मुख्य आतिथ्य और मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल की अध्यक्षता में आज शिक्षक दिवस के अवसर पर राजभवन के दरबार हॉल में आयोजित  राज्य स्तरीय शिक्षक सम्मान समारोह में स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह ने राज्य शिक्षक पुरस्कार वर्ष 2021 में चयनित 56 शिक्षकों के नामों की घोषणा की। इन शिक्षकों में सुश्री नंदिनी प्रभा बाजपेई प्रधान अध्यापक जिला कांकेर, श्री राप्रसाद नेताम व्याख्याता कांकेर, श्री मनोज कुमार बागड़े प्राचार्य नारायणपुर, श्रीमती रंजीता नाग सहायक शिक्षक एल.बी. नारायणपुर, श्रीमती पूर्णिमा सरोज व्याख्याता जगदलपुर, श्रीमती माधुरी कुशवाहा व्याख्याता जगदलपुर, श्रीमती टी. विजय लक्ष्मी व्याख्याता दंतेवाड़ा, राकेश कुमार मिश्र व्याख्याता दंतेवाड़ा, श्रीमती मधु तिवारी सहायक शिक्षक एल.बी. कोण्डागांव, श्री राजेश पांडेय व्याख्याता कोण्डागांव, श्री लम्बाड़ी धनंजय व्याख्या...
मुख्यमंत्री की शिक्षक दिवस पर बड़ी घोषणा: अंग्रेजी माध्यम की तर्ज पर हर जिले में खुलेंगे स्वामी आत्मानंद हिन्दी माध्यम उत्कृष्ट शासकीय स्कूल

मुख्यमंत्री की शिक्षक दिवस पर बड़ी घोषणा: अंग्रेजी माध्यम की तर्ज पर हर जिले में खुलेंगे स्वामी आत्मानंद हिन्दी माध्यम उत्कृष्ट शासकीय स्कूल

chhattisgarh, Education & Jobs
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने शिक्षक दिवस के अवसर पर आज राजधानी के आमापारा स्थित स्वामी आत्मानंद उत्कृष्ट विद्यालय योजना के अंतर्गत संचालित आर.डी. तिवारी शासकीय अंग्रेजी माध्यम स्कूल के उन्नयन कार्य का लोकार्पण किया। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर कहा कि छत्तीसगढ़ की पहचान शिक्षा, स्वास्थ्य और रोजगार के क्षेत्र में होनी चाहिए। उन्होंने स्वामी आत्मानंद के नाम से संचालित शासकीय अंग्रेजी माध्यम स्कूल की तर्ज पर अब प्रत्येक जिले में एक-एक हिन्दी माध्यम उत्कृष्ट स्कूल खोलने की बड़ी घोषणा भी की। उन्होंने कहा कि प्रदेश में महापुरूषों के नाम से संचालित होने वाले स्कूल हमारी पहचान है। इन ऐतिहासिक स्कूलों का उन्नयन बहुउद्देशीय शाला के रूप में किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने आर.डी. तिवारी अंग्रेजी माध्यम स्कूल के खेल मैदान के लिए 2 करोड़ रूपए की मंजूरी प्रदान की। मुख्यमंत्री ने शिक्षक दिवस के अवसर पर इस कार्यक्...
मुख्यमंत्री ने स्कूल के बच्चों के आत्मविश्वास, शिक्षकों के नवाचारी प्रयासों और स्कूल की सुविधाओं को सराहा

मुख्यमंत्री ने स्कूल के बच्चों के आत्मविश्वास, शिक्षकों के नवाचारी प्रयासों और स्कूल की सुविधाओं को सराहा

chhattisgarh
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने आर.डी. तिवारी स्वामी आत्मानंद शासकीय उत्कृष्ट अंग्रेजी माध्यम स्कूल के बच्चों के आत्म विश्वास, स्कूल में विकसित की गयी अध्ययन-अध्यापन की सुविधाओं और कोरोना काल में बच्चों को शिक्षा दान के लिए स्कूल के शिक्षकों द्वारा किए गए नवाचारी प्रयासों की मुक्तकंठ से सराहना की है। मुख्यमंत्री श्री बघेल ने आज शिक्षक दिवस के अवसर पर राजधानी रायपुर के आर.डी. तिवारी स्वामी आत्मानंद शासकीय उत्कृष्ट अंग्रेजी माध्यम स्कूल आमापारा का नए स्वरूप में लोकार्पण करने के बाद वहां आयोजित ’शिक्षा मड़ई’ प्रदर्शनी में नवाचारी शिक्षकों के प्रदर्शित कार्यों का अवलोकन किया। उन्होंने विद्यार्थियों और शिक्षकों से पढ़ाई-लिखाई और स्कूल में विकसित की गयी उत्कृष्ट सुविधाओं के बारे में जानकारी ली और स्कूल के अवलोकन के बाद स्कूल की ऑटोग्राफ बुक में लिखा कि पहले भी आर.डी. तिवारी स्कूल में आना हुआ है। क...
मुख्यमंत्री श्री बघेल ने दंतेवाड़ा नगर पालिका के पूर्व अध्यक्ष श्री दीपक कर्मा  के  निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया

मुख्यमंत्री श्री बघेल ने दंतेवाड़ा नगर पालिका के पूर्व अध्यक्ष श्री दीपक कर्मा  के  निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया

छत्तीसगढ़ न्यूज़
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने दंतेवाड़ा नगर पालिका के पूर्व अध्यक्ष श्री दीपक कर्मा के आकस्मिक निधन पर गहरा दुख व्यक्त किया है।  श्री दीपक कर्मा प्रदेश के पूर्व केबिनेट मंत्री शहीद महेंद्र कर्मा और विधायक श्रीमती देवती कर्मा के पुत्र थे। श्री बघेल ने कहा है कि श्री दीपक कर्मा के रूप में हमने एक युवा नेता को खो दिया है। मुख्यमंत्री श्री बघेल ने भगवान से दिवंगत आत्मा की शांति और शोक संतप्त परिजनों को इस दुःख को सहन करने की शक्ति प्रदान करने की प्रार्थना की है।...
मुख्यमंत्री श्री बघेल ने दंतेवाड़ा नगर पालिका के पूर्व अध्यक्ष श्री दीपक कर्मा  के  निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया

मुख्यमंत्री श्री बघेल ने दंतेवाड़ा नगर पालिका के पूर्व अध्यक्ष श्री दीपक कर्मा  के  निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया

छत्तीसगढ़ न्यूज़
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने दंतेवाड़ा नगर पालिका के पूर्व अध्यक्ष श्री दीपक कर्मा के आकस्मिक निधन पर गहरा दुख व्यक्त किया है।  श्री दीपक कर्मा प्रदेश के पूर्व केबिनेट मंत्री शहीद महेंद्र कर्मा और विधायक श्रीमती देवती कर्मा के पुत्र थे। श्री बघेल ने कहा है कि श्री दीपक कर्मा के रूप में हमने एक युवा नेता को खो दिया है। मुख्यमंत्री श्री बघेल ने भगवान से दिवंगत आत्मा की शांति और शोक संतप्त परिजनों को इस दुःख को सहन करने की शक्ति प्रदान करने की प्रार्थना की है।...