Saturday, September 18संस्थापक, प्रधान संपादक, स्वामी श्री नवनीत जगतरामका जी
Shadow
ret-khaadan-news-02-aug-2021

रुला रहें रेत के बढ़े दाम, ट्रांसपोर्ट हुआ महंगा, निर्माण का बजट गड़बड़ाया, प्रशासन से दाम पर नियंत्रण की मांग

बीजापुर। बरसात के इस मौसम में रेत के दाम आसमान छूने लगे है। नतीजतन निजी निर्माण कार्य प्रभावित हो रहे है। पांच हजार की दर से  प्रति ट्रिप रेत की ढुलाई हो रही है। यकायक रेत के दाम बढ़ने से निर्माण कार्य करा रहे लोगों पर आर्थिक बोझ बढ़ गया है। जबकि दो-ढाई माह पूर्व यह दर आधे से भी कम थी, लेकिन बारिश का सीजन शरू होने के बाद रेत ठेकेदारों की मनमानी से दाम आसमान छू रहे है। जिस पर स्थानीय प्रशासन का कोई नियंत्रण नहीं है। रेत ढुलाई में लगे वाहन मालिकों की माने तो इसके लिए रेत ठेकेदार जिम्मेदार है। जिन्होंने बारिश से कई टन रेत का उठाव कर डंप कर रखा हुआ हूं।

नदी से रेत उत्खनन बन्द अवश्य है लेकिन पूर्व डंप रेत को ठेकेदार मनमाफिक रेट पर उपलब्ध करा रहे है, जिसके चलते ढुलाई भी महंगी हो चली है। अगर वे अधिक दामों रेत लेने से इनकार भी करें तो इसमें उनका ही नुकसान है। उनकी गाड़ियां खड़ी हो जाएंगी और गाड़ियों की किश्त से लेकर मजदूर, ड्राइवर का भुगतान सम्भव नही होगा। जिसके चलते बढ़े दामों पर रेत परिवहन करने वे मजबूर है। रेत के दाम बढ़ने से निर्माण कार्यो की लागत प्रभावित हो रही है। लागत में इजाफा होने से बजट गड़बड़ा रहा है। इसके मद्देनजर लोग प्रशासन से रेत के बढ़े दामों पर नियंत्रण की मांग कर रहे हैं। इस सम्बंध खनिज विभाग के जिम्मेदार अफसरों से सम्पर्क का प्रयास किया गया, लेकिन फोन पर कोई चर्चा नहीं हो पाई।

पोर्टल/समाचार पत्र विज्ञापन हेतु संपर्क : +91-9229705804
Advertise with us

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *