राष्ट्रीय पोषण माह 2020 : अनाज, फल और सब्जियों की रंगोली के माध्यम से दिया जा रहा सुपोषण का संदेश

रायपुर। राज्य में राष्ट्रीय पोषण माह का आयोजन एक सितम्बर से 30 सितम्बर तक किया जा रहा है। इस दौरान जन-जागरूकता के लिए अनाज, फल और सब्जियों की रंगोली बनाकर लोगों को सही खान-पान का संदेश दिया जा रहा है। आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं द्वारा रंगोली के माध्यम से माताओं को ‘जितनी ऊंची वजन की रेखा, उतना अच्छा बच्चा देखा‘ और ‘सुपोषण तिहार मनाबो बहिनी, कुपोषण ला दूरिहा भगाबो‘ जैसे नारों से समुचित पोषण का संदेश दिया जा रहा है।

रंगोली के माध्यम से गर्भवती माताओं को बताया जा रहा है कि पोषक तत्वों से भरपूर मौसमी फल एवं सब्जियों को अपने आहार में शामिल करें,जो उनके साथ उनकी भावी संतान के लिए भी जरूरी है। पोषण तिहार के दौरान सुपोषण चौपाल का आयोजन कर शिशुवती माताओं को आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और एएनएम पौष्टिक आहार तैयार करने की जानकारी दे रही हैं। इस दौरान बच्चों का अन्नप्राशन संस्कार कर शिशुओं के पोषण स्तर संवर्धन हेतु अर्धठोस ऊपरी आहार के बारे में माताओं को बताया जा रहा है।

साथ ही नवजात बच्चों के लिए स्तनपान, स्वच्छता के महत्व को समझाया जा रहा है। इस दौरान कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए आवश्यक नियमों का पालन करते हुए महिलाओं को संक्रमण से बचाव, साफ-सफाई, बार-बार हाथ धोने और फिजिकल डिस्टेंसिंग के महत्व को भी समझाया जा रहा है।