रायपुर : विभिन्न राज्यों में फंसे छत्तीसगढ़ के श्रमिकों को लाने राज्य सरकार ने दी 37 विशेष ट्रेनों की सूची जारी

कोरोना वायरस के संक्रमण से सुरक्षा के लिए लागू देशव्यापी लॉकडाउन के कारण देश के विभिन्न राज्यों में फंसे छत्तीसगढ़ के श्रमिकों को वापस लाने के लिए 37 विशेष ट्रेनों की सूची जारी की गई है। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के विशेष प्रयासों से लाकडाउन में अन्य राज्यों में फंसे छत्तीसगढ़ के श्रमिकों का आने का सिलसिला लगातार जारी है। मुख्यमंत्री की विशेष पहल पर अब तक 8 स्पेशल ट्रेन श्रमिकों को लेकर छत्तीसगढ़ आ चुकी हैं। मुख्यमंत्री ने इन प्रस्तावित सभी ट्रेनों के लिए अनुमति प्रदान कर दी है। जैसे-जैसे अन्य राज्यों से अनुमति मिलती जाएगी ट्रेनों का संचालन क्रमशः चरणबद्ध तरीके से किया जाएगा। छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा ट्रेनों में आने वाले श्रमिकों के लिए रेल्वे मण्डलों को अब तक कुल एक करोड़ 16 लाख रूपए का भुगतान भी किया जा चुका है।
इन स्पेशल ट्रेनों में अन्य राज्यों में फंसे छत्तीसगढ़ के श्रमिकों, छात्रों, संकटापन्न और चिकित्सा की आवश्यकता वाले व्यक्तियों की छत्तीसगढ़ वापसी का सिलसिला बीते 11 मई से शुरू भी हो गया है। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने कहा है कि छत्तीसगढ़ पहुंचने वाले श्रमिकों किसी प्रकार की दिक्कत नहीं होनी चाहिए। स्पेशल ट्रेन पहुचनें पर राज्य के निर्धारित स्टेशनों में थर्मल स्क्रीनिंग, भोजन पानी तथा उन्हें अपने गंतव्य स्थान पहुंचाने के लिए बसों की व्यवस्था भी संबंधित जिला प्रशासन द्वारा की जा रही है। ग्राम पंचायतों में इन श्रमिकों के लिए क्वारेंटाइन सेंटर बनाए गए हैं। गांव पहुंचने पर इन सेन्टरों में श्रमिकों के रहने और भोजन का इंतजाम किया जा रहा है। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के निर्देश पर श्रम विभाग के अधीन गठित छत्तीसगढ़ भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण मण्डल द्वारा अभी तक नोडल अधिकारियों से प्राप्त जानकारी के अनुसार ट्रेनों में आने वाले श्रमिकों के लिए रेल्वे मण्डलों को अब तक कुल एक करोड़ 16 लाख रूपए का भुगतान भी किया जा चुका है। छत्तीसगढ़ के श्रमिकों को लेकर अहमदाबाद गुजरात से बिलासपुर के लिए दो ट्रेन, नम्बूर विजयावाड़ा आन्ध्रप्रदेश से बिलासपुर, अमृतसर पंजाब से बिलासपुर-चांपा, लखनऊ उत्तरप्रदेश से बिलासपुर, भाटापारा, रायपुर के लिए तीन ट्रेन, और विरामगम अहमदाबाद से बिलासपुर-चांपा सकुशल आ चुकी हैं।
अधिकारियों ने बताया कि आगामी दिनों में श्रमिकों के लिए जो स्पेशल ट्रेन प्रस्तावित हैं उनमें 17 मई को दिल्ली से बिलासपुर, इलाहाबाद उ.प्र. से बिलासपुर, भाटापारा, रायपुर,  खेड़ा नाडियाड गुजरात से बिलासपुर-चांपा और भोपाल से रायपुर, बिलासपुर तथा वाइजैग आन्ध्रप्रदेश से रायपुर, भाटापारा, बिलासपुर, चांपा ट्रेन आएगी। 18 मई को हैदराबाद तेलंगाना से दुर्ग, रायपुर, इलाहाबाद उत्तरप्रदेश से बिलासपुर, भाटापारा, रायपुर, दुर्ग बिलासपुर, मुज्जफरपुर बिहार से बिलासपुर, भाटापारा, रायपुर, और विरामगम अहमदाबाद गुुजरात से भाटापारा बिलासपुर, चांपा स्टेशन स्पेशल ट्रेनों का आगमन होगा। 19 मई को मेहसाणा गुजरात से बिलासपुर-चांपा,दिल्ली से बिलासपुर, रायपुर एवं पूणे महाराष्ट्र से दुर्ग, रायपुर, भाटापारा, बिलासपुर ट्रेन पहुचेंगी। 20 मई को लखनऊ उत्तरप्रदेश से बिलासपुर, भाटापारा, रायपुर और पूणे महाराष्ट्र से दुर्ग, भाटापारा, बिलासपुर, चांपा। 21 मई को मुम्बई महाराष्ट्र से दुर्ग, रायपुर, भाटापारा, बिलासपुर, पूणे महाराष्ट्र से दुर्ग, भाटापारा, बिलासपुर, चांपा। 22 मई को बैंगलौर कर्नाटक से दुर्ग, रायपुर, भाटापारा, बिलासपुर, सतारा महाराष्ट्र से दुर्ग, रायपुर, भाटापारा, बिलासपुर, अहमदाबाद गुजरात से रायपुर, भांटापारा, बिलासपुर, चांपा स्टेशन ट्रेन पहुंचेगी। 23 मई को साबरमती अहमदाबाद गुजरात से बिलासपुर-चांपा। 24 मई को वीरांगम अहमदाबाद से रायपुर, भाटापारा, बिलासपुर, चांपा। 25 मई को मेहसाणा गुजरात से रायपुर, भाटापारा,बिलासपुर-चांपा। 26 और 27 मई कोवीरांगम अहमदाबाद से रायपुर, भाटापारा, बिलासपुर, चांपा छत्तीसगढ़ के श्रमिकों को लेकर विशेष ट्रेन पहुंचने की संभावना है।