रायपुर : छत्तीसगढ़ राज्य के जल विद्युत गृहों में 345.42 मिलीयन यूनिट विद्युत का रिकार्ड उत्पादन : माह अक्टूबर के बीते पखवाड़े में टूटा गतवर्ष का रिकार्ड

छत्तीसगढ़ स्टेट पॉवर जनरेशन कंपनी की जल विद्युत गृहों ने अपने पिछले वर्ष के रिकार्ड को तोड़ते हुए अधिकतम विद्युत उत्पादन का कीर्तिमान रचा है। चालू सत्र के माह अक्टूबर के प्रथम पखवाड़े में जनरेशन कंपनी की कुल चार जल विद्युत परियेाजनाओं द्वारा अब तक 345.42 मिलीयन यूनिट से अधिक बिजली का उत्पादन किया गया, जबकि पिछले साल इसी अवधि में 180.04 मिलीयन यूनिट बिजली का ही उत्पादन हुआ था।
जनरेशन कंपनी के प्रबंध निदेशक श्री एन.के.बिजौरा ने बताया कि कोरबा जिला में संचालित हसदेव बांगो प्रदेश की सबसे बड़ी जल विद्युत गृह है, जिसमें 40-40  मेगावाट क्षमता की 3 विद्युत इकाईंयों ने पानी की भरपूर उपलब्धता के कारण अपनी उत्पादन क्षमता का उत्कृष्ट प्रदर्शन किया है। इनके द्वारा 318.2 मिलीयन यूनिट बिजली का उत्पादन किया गया, जोकि बीते 12 वर्षो की तुलना में सर्वाधिक विद्युत उत्पादन की मिसाल है। प्रदेश में इस वर्ष लगातार हुई अच्छी बारिश के फलस्वरूप जनरेशन कंपनी के जल विद्युत गृहों को अधिकतम विद्युत उत्पादन करने के साथ-साथ सतत रूप से संचालित होने का अवसर प्रदान किया।
चालू माह के बीते पखवाड़े में जनरेशन कंपनी के 4 जल विद्युत गृहों में शामिल हसदेव बांगो जल विद्युत गृह, माचाडोली बांगों के अलावा  जल विद्युत गृह, गंगरेल जिला धमतरी में 16 यूनिट, जल विद्युत गृह, सिकासार, जिला गरियाबंद में 8 मिलीयन यूनिट और हसदेव लघुध्लघुत्तम जल विद्युत गृह कोरबा पश्चिम जिला कोरबा 3.1 मिलीयन यूनिट विद्युत उत्पादन किया गया। जनरेशन कंपनी के प्रबंध निदेशक श्री बिजौरा ने उम्मीद जताई है कि पानी की पर्याप्त उपलब्धता के कारण कंपनी के जल विद्युत गृह अपनी कार्य निष्पत्ति का बेहतर प्रदर्शन करेंगे।