रायपुर : दशहरा और दीपावली में बिहान की महिलाओं द्वारा गोबर से निर्मित रंग-बिरंगे आकर्षक दियों से घर-घर होगा रोशन

दशहरा और दीपावली में स्व-सहायता समूह (बिहान) की महिलाओं द्वारा गोबर से निर्मित रंग-बिरंगे आकर्षक दियों से इस दीवाली घर-घर रोशन होगा। दशहरा और दीपावली का त्यौहार बस कुछ ही दिन बाकी हैं। इन त्यौहारों की रोशनी को दुगुना करने प्रदेश की अनेक स्व-सहायता समूह की महिलाओं और गौठान समिति के माध्यम से गोबर से रंग-बिरंगे और लुभावने दिये व अन्य उत्पाद बनाए जा रहे हैं।

उल्लेखनीय है कि राज्य सरकार राष्ट्रीय अजीविका मिशन (एनआरएलएम) के माध्यम से महिलाओं को जोड़कर उन्हें आत्मनिर्भर बनाने तथा महिला सशक्तिकरण की दिशा में बेहतर प्रयास कर रही हैं। इसी कड़ी में कोरिया जिले में बिहान की महिलाओं द्वारा गोबर से रंग-बिरंगे आकर्षक दीये बनाये गए हैं। इसके साथ ही मिट्टी के कलश भी बनाये जा रहे हैं। इन उत्पादों का बाजार में काफी मांग हैं। महिला समूह द्वारा निर्मित ये दिये प्राकृतिक के अनुरूप होने के साथ-साथ लुभावने और मनमोहक है। आगामी दशहरा और दीपावली त्यौहारों को ध्यान में रखते हुए बनाये गये रंग-बिरंगे ये दिये सुंदर एवं किफायती हैं। राज्य सरकार बिहान की महिलाओं द्वारा वैकल्पिक और नवीन तकनीक के माध्यम से गोबर के आकर्षक दिये एवं अन्य उत्पाद बनाने के लिए प्रोत्साहित कर रही हैं। साथ ही बाजार की उपलब्धता पर भी ध्यान दिया जा रहा है।
गोबर एवं मिट्टी से बने इन उत्पादों में दीपक, ओम, श्री, स्वास्तिक, शुभलाभ, मिट्टी फूल आरती दीया एवं मिट्टी के कलश शामिल हैं। गोबर एवं मिट्टी से बने इन उत्पादों को समूह की महिलाओं द्वारा ऑर्डर के हिसाब से होलसेल कीमत पर भी विक्रय कर मुनाफा कमा रहे हैं।