रायपुर : गोबर के दीये से गुलजार होगी दीवाली : गोधन न्याय योजना से लाभान्वित महिलाओं की विशेष पहल

छत्तीसगढ़ शासन की महत्वाकांक्षी गोधन न्याय योजना के तहत् गोठान में खरीदे जा रहे ‘‘गोबर’’ से बने ’’दीये’’ से इस दीपावली में लोगों के घर जगमगायेंगे। कांकेर जिले में बिहान से जुड़ी स्व-सहायता समूहों की महिलाओं द्वारा वर्मी कम्पोस्ट के अलावा दीपावली को ध्यान में रखते हुए दीया, ओम, स्वास्तिक, शुभ-लाभ, गणेश जी की मूर्ति सहित अन्य सजावटी समान भी बनाये जा रहे हैं।

जिला प्रशासन के मार्गदर्शन में गोधन न्याय योजना के तहत् गौठानों में खरीदे गये गोबर से कांकेर, अन्तागढ़ और नरहरपुर विकासखण्ड़ों मे बिहान से जुड़ी 09 स्व-सहायता समूह की 96 महिलाओं द्वारा 14 हजार 845 दीये के साथ, शुभ-लाभ, गणेश जी की मूर्ति, ओम, स्वास्तिक बनाये जा रहे हैं, जिसमें अभी तक 10 हजार 625 दीये बेचकर 42 हजार 300 रूपये की आमदनी प्राप्त कर चुकी हैं। इस प्रकार जिले में गोधन न्याय योजना के तहत् खरीदे जा रहे गोबर से बिहान के स्व-सहायता समूह की महिलाओं द्वारा विभिन्न सामग्री तैयार किये जा रहें है, जिससे उनकी आर्थिक स्थिति मजबूत हो रही है तथा छत्तीसगढ़ शासन की ग्राम सुराजी योजना का लाभ ग्रामीणों को मिल रहा है।
समूह की महिलाओं के द्वारा गोबर से दीये, स्वास्तिक एवं अन्य सजावटी समाग्री बनाये जा रहे है, जिन्हें बिहान के द्वारा बैंक लिंकेज व सामुदायिक निवेश कोष की राशि के माध्यम से आर्थिक सहायता प्रदान की गयी है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*