दिल्ली हिंसा के आरोपी ताहिर हुसैन को पुलिस ने किया गिरफ्तार

दिल्ली पुलिस के आरोपी पूर्व AAP पार्षद ताहिर हुसैन ने गुरुवार को दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। ताहिर हुसैन को दिल्ली पुलिस ने अतिरिक्त मुख्य मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट (ACMM) विशाल पाहुजा द्वारा उनके आत्मसमर्पण आवेदन को खारिज करने के तुरंत बाद गिरफ्तार किया था। अब उनकी चिकित्सा औपचारिकताओं के बाद उन्हें कड़कड़डूमा कोर्ट में पेश किया जाएगा

वह 27 फरवरी को आईबी अधिकारी अंकित शर्मा की हत्या के मामले में दिल्ली पुलिस द्वारा नामित किए जाने के बाद से फरार है। वहीं ताहिर हुसैन ने अपने वकील मुकेश कालिया के जरिए अतिरिक्त मुख्य मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट (ACMM) विशाल पाहुजा के समक्ष सरेंडर याचिका दायर की।

क्राइम ब्रांच के सूत्रों की माने तो ताहिर हुसैन ने जमानत याचिका में मासूम बनते हुए दलील दी है कि वो इस मामले में मुख्य अभियुक्त नहीं है। साथ ही उसे साजिश के तहत फंसाया जा रहा है इसलिए उसे जमानत मिलनी चाहिए। ताहिर पर यह भी आरोप लग रहा है कि 25 फरवरी को उनके चांदबाग स्थित घर से उपद्रवियों ने लोगों पर पथराव किया और पेट्रोल बम फेंके। ताहिर इससे इंकार करते रहे लेकिन अब जो एक वीडियो सामने आया था, उसमें उनके घर की छत पर काफी मात्रा में पत्थर और पेट्रोल बम मिले हैं।

रिपब्लिक भारत ने सबसे पहले ताहिर के घर की रिपोर्ट दिखाई थी जिसमें उसके घर के कोने कोने में हिंसा का सामान इकट्ठा था। दिल्ली पुलिस ने ताहिर हुसैन के खिलाफ धारा 302 (हत्या), धारा 365 (अपहरण), धारा 201 (सबूत मिटाने) और धारा 34 (समान मंशा) के तहत एफआईआर दर्ज की है।