Tuesday, November 30संस्थापक, प्रधान संपादक, स्वामी श्री नवनीत जगतरामका जी
Shadow

राष्ट्रीय

विशेष लेख : श्री ज्योति प्रसाद अगरवाला जयंती बड़ी महान हस्ती पर राष्ट्रीय स्तर पर गुमनाम, कब आयेंगे अच्छे दिन

विशेष लेख : श्री ज्योति प्रसाद अगरवाला जयंती बड़ी महान हस्ती पर राष्ट्रीय स्तर पर गुमनाम, कब आयेंगे अच्छे दिन

मनोरंजन, राष्ट्रीय
श्री ज्योति प्रसाद अगरवाला का जन्म 17 जून 1903 को असम के तामुलबारी चाय बागान में हुआ था, वे अपने जमाने के महान असमिया क्रन्तिकारी, कवि, नाट्यकार, संगीतकार एवं फिल्मकार थे। इनके रिश्तेदार चंद्रकुमार अगरवाला, आनंद चंद्र अगरवाला भी महशूर असमिया कवि रहे है। अगरवाला जी  मारवाड़ी घराने में जन्मे पर असम एवं पूर्वोत्तर भारत में बहुत प्रख्यात रहे। श्री ज्योति प्रसाद अगरवाला जी को असमिया संस्कृति के मजबूत स्तम्भकार कहा जाता है और इन्हे लोग रूपकुंवर नाम से भी बुलाते आ रहे है. इन्होने ने प्रथम असमिया फिल्म ज्योतिमती (1935) बना कर, असमिया सिनेमा की स्थापना की है. इनकी पुण्यतिथि 17 जनवरी को असम में शिल्पी दिवस के तौर पर मनाया जाता है. भारत की आज़ादी में भी इनका भरपूर योगदान रहा है, वर्ष 1941 में इन्होने भी अपनी आवाज़ अंग्रेज़ो के खिलाफ भरपूर उठाई थी। इन्होने 300+ से भी ज्यादा संगीत, 7 नाट्य, बहुत स...
मुख्यमंत्री ने कोरिया एवं सूरजपुर जिले को दी 460 करोड़ रूपए के विकास कार्याें की सौगात

मुख्यमंत्री ने कोरिया एवं सूरजपुर जिले को दी 460 करोड़ रूपए के विकास कार्याें की सौगात

छत्तीसगढ़ न्यूज़, राष्ट्रीय
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने कहा है कि विकास का सही मतलब लोगों के जीवन में सुख, शांति और समृद्धि लाना है। प्रदेश सरकार द्वारा आमजनता के जीवन में खुशहाली लाने के लिए सुराजी गांव योजना नरवा, गरूवा, घुरूवा, बाड़ी कार्यक्रम, राजीव गांधी किसान न्याय योजना, गोधन न्याय योजना, वनोपज संग्रहण एवं प्रसंस्करण के जरिए ग्रामीण अंचल में छोटे-छोटे उद्यम एवं स्वरोजगार की शुरूआत की गई है। इससे पूरे राज्य में स्वावलंबन का नया वातावरण दिखाई पड़ रहा है। गांवों में उद्यम से रोजगार के नए रास्ते खुले हैं। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल आज अपने रायपुर निवास कार्यालय में आयोजित वर्चुअल कार्यक्रम में सूरजपुर और कोरिया जिले को 460 करोड़ 14 लाख रुपए की लागत के विकास कार्यों के लोकार्पण एवं भूमिपूजन समारोह को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने इस मौके पर कोरिया एवं सूरजपुर जिले में जनसुविधा के विकास के लिए 368 निर्माण कार्यों...
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल : प्रदेश के सभी जिला चिकित्सालय एवं विकासखण्ड स्तरीय अस्पताल बनेंगे सर्व सुविधा संपन्न

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल : प्रदेश के सभी जिला चिकित्सालय एवं विकासखण्ड स्तरीय अस्पताल बनेंगे सर्व सुविधा संपन्न

छत्तीसगढ़ न्यूज़, राष्ट्रीय
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने कहा है कि आम लोगों तक स्वास्थ्य एवं चिकित्सा सुविधाओं की आसान पहुंच सुनिश्चित करने के लिये यह आवश्यक है कि प्रदेश के सभी जिला चिकित्सालयों एवं विकासखण्ड स्तरीय अस्पतालों को सर्वसुविधा संपन्न बनाया जाये। उन्होंने इसके लिए सभी जिला कलेक्टरों के माध्यम से 15 दिनों के भीतर कार्ययोजना तैयार करने के निर्देश मुख्य सचिव को दिए है। मुख्यमंत्री ने सभी कलेक्टरों को जिला चिकित्सालय एवं सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों के विकास की कार्ययोजना तैयार करने के दिए निर्देश मुख्यमंत्री ने कहा है कि पिछले 6 माह में कोरोना के इलाज की व्यवस्थाएं सुदृढ़ करने की दृष्टि से इन अस्पतालों में आक्सीजन संबंधी उपकरण आई.सी.यू. बिस्तर, वेन्टिलेटर्स इत्यादि की संख्या में उल्लेखनीय वृद्धि हुई है। इन स्वास्थ्य उपकरणों का बेहतर रखरखाव और लगातार उपयोग कोरोना की संभावित तीसरी लहर की तैयारी के लिए...
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल : गोधन न्याय योजना से दुग्ध व्यवसाय को मिला संबल

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल : गोधन न्याय योजना से दुग्ध व्यवसाय को मिला संबल

छत्तीसगढ़ न्यूज़, राष्ट्रीय
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने कहा है कि गोधन न्याय योजना से राज्य में पशुधन के संरक्षण एवं संवर्धन के साथ ही दुग्ध उत्पादन व्यवसाय को एक नया संबल मिला है। उन्होंने कहा है कि पशुपालकों, ग्रामीणों एवं किसानों से उनकी नियमित रूप से चर्चा होते रहती है, लोग इस योजना के लाभ को लेकर बेहद उत्साहित है। दुग्ध का व्यवसाय करने वाले लोग बताते हैं कि गोधन न्याय योेजना के जरिए गोबर की खरीदी होने से उनकी आमदनी बढ़ गई है। कई दुग्ध उत्पादक ग्रामीण किसान गोबर बेचने से मिली अतिरिक्त आय से अपने डेयरी व्यवसाय को बढ़ाने के लिए दुधारू गाय खरीदने, शेड का निर्माण कराने के साथ ही मोटर-सायकिल खरीदने के साथ ही अन्य आवश्यक जरूरतों को पूरा करने लगे हैं। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने कहा कि आज कोरिया एवं सूरजपुर जिले के कई किसानों से उनकी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से चर्चा हुई। चिरमिरी में दुग्ध व्यवसाय कर रहे...
स्वास्थ्य मंत्री टी.एस. सिंहदेव ने प्रदेश में पीसीवी टीकाकरण का किया वर्चुअल शुभारंभ : छत्तीसगढ़ में अब बच्चों को निःशुल्क लगेगी न्युमोकोकल वैक्सीन

स्वास्थ्य मंत्री टी.एस. सिंहदेव ने प्रदेश में पीसीवी टीकाकरण का किया वर्चुअल शुभारंभ : छत्तीसगढ़ में अब बच्चों को निःशुल्क लगेगी न्युमोकोकल वैक्सीन

रायपुर, राष्ट्रीय
छत्तीसगढ़ में नियमित टीकाकरण कार्यक्रम के तहत बच्चों को अब न्युमोकोकल कंजुगेट वैक्सीन (पीसीवी) निःशुल्क लगाया जाएगा। यह टीका बच्चों को न्युमोकोकल बैक्टीरिया से होने वाली निमोनिया, मस्तिष्क ज्वर, सेप्टीसिमिया, साइनुसाइटिस, ओटाइटिस मीडिया (कान का इन्फेक्शन) जैसी कई बीमारियों से बचाएगी। शिशुओं को छह सप्ताह, 14 सप्ताह और नौ माह की आयु में इसकी तीन खुराकें दी जाएंगी। तीन डोज में लगने वाला यह टीका बाजार में काफी महंगे दामों में मिलता है। स्वास्थ्य मंत्री श्री टी.एस. सिंहदेव ने आज एक वर्चुअल कार्यक्रम में नियमित टीकाकरण कार्यक्रम के अंतर्गत प्रदेश में पीसीवी टीकाकरण का शुभारंभ किया। स्वास्थ्य मंत्री श्री सिंहदेव ने कार्यक्रम में सभी जिलों के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारियों तथा विभाग के मैदानी अमले को संबोधित करते हुए कहा कि न्युमोकोकल कंजुगेट वैक्सीन को नियमित टीकाकरण में शामिल करने से...
मुख्यमंत्री आज सरगुजा और बलरामपुर-रामानुजगंज जिले में 324.42 करोड़ रूपए के 302 कार्यों का करेंगे लोकार्पण-भूमिपूजन

मुख्यमंत्री आज सरगुजा और बलरामपुर-रामानुजगंज जिले में 324.42 करोड़ रूपए के 302 कार्यों का करेंगे लोकार्पण-भूमिपूजन

छत्तीसगढ़ न्यूज़, राष्ट्रीय
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल 15 जून मंगलवार को दोपहर 12 बजे अपने रायपुर निवास कार्यालय में आयोजित वर्चुअल कार्यक्रम में सरगुजा और बलरामपुर-रामानुजगंज जिले में 324 करोड़ 42 लाख 88 हजार रूपए की लागत के 302 कार्याें का लोकार्पण-भूमिपूजन करेंगे। इनमें 107 करोड़ 56 लाख 77 हजार रूपए की लागत के 122 कार्याें का लोकार्पण और 216 करोड़ 86 लाख 12 हजार रूपए की लागत के 180 कार्याें का भूमिपूजन शामिल है। मुख्यमंत्री श्री बघेल सरगुजा जिले में 247 करोड़ 91 लाख रूपए के 107 विभिन्न विकास कार्यों का वर्चुअल लोकार्पण एवं भूमिपूजन करेंगे। इनमें 165 करोड़ 33 लाख रूपए की लागत के 82 कार्यों का भूमिपूजन और 82 करोड़ 58 लाख रूपए की लागत के 25 कार्यों का लोकार्पण शामिल है। इसी तरह मुख्यमंत्री बलरामपुर-रामानुजगंज जिले में 76 करोड़ 51 लाख 88 हजार रूपए के 195 विकास कार्यों का लोकार्पण-भूमिपूजन करेंगे। इनमें 24 करोड़ 98 लाख ...
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल : कोरोना संकट काल में भी राज्य सरकार की योजनाओं से छत्तीसगढ़ की अर्थव्यवस्था रही मजबूत

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल : कोरोना संकट काल में भी राज्य सरकार की योजनाओं से छत्तीसगढ़ की अर्थव्यवस्था रही मजबूत

रायपुर, राष्ट्रीय
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने कहा है कि कोरोना संकट ने पूरे देश की अर्थव्यवस्था को प्रभावित किया है, लेकिन पूरे कोरोना काल में छत्तीसगढ़ में न तो रोजगार की कमी हुई और न रोटी की। राज्य सरकार की योजनाओं से इस चुनौती पूर्ण समय में भी छत्तीसगढ़ की अर्थव्यवस्था मजबूत और गतिशील रही। प्रदेश में किसानों और वनवासियों के कल्याण के लिए प्राथमिकता से कार्य किए जा रहे हैं। राजीव गांधी किसान न्याय योजना, सुराजी गांव योजना, गोधन न्याय जैसी योजना शुरू की गई है। इन योजनाओं के माध्यम से किसानों, महिलाओं और ग्रामीणों को गांवों में ही रोजगार मिल रहा है। मुख्यमंत्री श्री बघेल आज अपने निवास कार्यालय में आयोजित वर्चुअल कार्यक्रम में रायगढ़ और जशपुर जिले में करीब 592 करोड़ रूपए की लागत के विभिन्न निर्माण कार्यों का लोकार्पण और भूमिपूजन करने के बाद कार्यक्रम को सम्बोधित कर रहे थे। इनमें रायगढ़ जिले के 308 करोड़ 31 ल...
छत्तीसगढ़ में जल्द शुरू होगी पर्वतारोहण अकादमी : एवरेस्ट फतह करने वाली नैना सिंह धाकड़ से की मुलाकात

छत्तीसगढ़ में जल्द शुरू होगी पर्वतारोहण अकादमी : एवरेस्ट फतह करने वाली नैना सिंह धाकड़ से की मुलाकात

रायपुर, राष्ट्रीय
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने कहा है कि प्रदेश में एडवेंचर स्पोटर््स को बढ़ावा देने के लिए छत्तीसगढ़ में जल्द ही पर्वतारोहण अकादमी प्रारंभ की जाएगी। यह अकादमी बस्तर में शुरू होगी। मुख्यमंत्री श्री बघेल ने आज यहां निवास कार्यालय में छत्तीसगढ़ की युवा पर्वतारोही नैना सिंह धाकड़ से मुलाकात के दौरान यह घोषणा की। नैना सिंह ने मुख्यमंत्री को बताया कि उन्हें एक जून को दुनिया की सबसे ऊंची चोटी माऊंट एवरेस्ट फतह करने में सफलता मिली है। मुख्यमंत्री ने इस शानदार उपलब्धि के लिए नैना सिंह को बधाई दी। उन्होंने कहा कि इस उपलब्धि से छत्तीसगढ़ का गौरव बढ़ा है। श्री बघेल ने नैना सिंह को उनके उज्जवल भविष्य के लिए शुभकामनाएं दी। मुख्यमंत्री श्री बघेल से मुलाकात के दौरान पर्वतारोही नैना सिंह धाकड़ ने बताया कि वे जगदलपुर जिला मुख्यालय से 17 किलोमीटर दूर टाकरागुड़ा गांव की रहने वाली हैं, वे वर्ष 2010 से पर्वतारोहण स...