Saturday, September 18संस्थापक, प्रधान संपादक, स्वामी श्री नवनीत जगतरामका जी
Shadow

कोरबा में सिंचाई विभाग की करोड़ों रुपए की जमीन पर अवैध कब्जा, शिकायत के बावजूद नहीं हो रही कोई कार्रवाई

रायपुर। सिंचाई विभाग के करोड़ों रुपए की बेशकीमती जमीन पर कोरबा में निजी शोरूम वाले अब अवैध कब्जा कर रहे हैं। इस बात की शिकायत सिंचाई मंत्री समेत सिंचाई विभाग के कई बड़े अफसरों की गई है। लेकिन उक्त मामले में किसी प्रकार की कार्रवाई नहीं की गई है। यहीं हैरानी का कारण बना हुआ है। कोरबा में हसदेव बराज के पास नहर के किनारे बनी सड़क से लगी और निजी स्वामियों की जमीन के बीच करोड़ों रुपए के मूल्य की बेशकीमती जमीन का स्वामी सिंचाई विभाग है। लेकिन सिंचाई विभाग अपनी इस बेशकीमती जमीन को शायद सांठगांठ कर निजी भूस्वामी को अप्रत्यक्ष रूप से बांट रहा है। अगर ऐसा नहीं होता तो निजी भूस्वामी अपनी जमीन पर निर्माण करने के बाद सिंचाई विभाग की जमीन पर बाउंड्री वाल और मंदिर नहीं बना देते।

एक शोरूम वाले ने तो बकायदा मंदिर बनाकर उस पर अपने अवैध कब्जे को स्थाई करने का पूरा—पूरा इंतजाम कर लिया है। कोरबा शहर के बीचो बीच करोड़ों—अरबों रुपए की जमीन का इस तरह से बंदरबांट ना केवल विभाग में बल्कि कोरबा शहर में भी चर्चा का विषय बना हुआ है। हैरानी की बात तो यह है कि सिंचाई विभाग के कोरबा समेत राजधानी में बैठे सारे बड़े अफसरों को इस बात की जानकारी है। सभी से इस विषय में शिकायत की जा चुकी है। लेकिन किसी का भी इस ओर ध्यान न देने कहीं न कहीं सांठगांठ और गड़बड़ घोटाले की ओर इशारा कर रहा है। मामले की जांच में बड़े भूमि घोटाले का पर्दाफाश हो सकता है। साथ ही बड़े-बड़े भू माफिया बेनकाब हो जाएंगे।

पोर्टल/समाचार पत्र विज्ञापन हेतु संपर्क : +91-9229705804
Advertise with us