किसान न्याय योजना की दूसरी किस्त : त्यौहार के समय बनी किसानों का सहारा

रायपुर। खेती-किसानी को प्रोत्साहित करने और फसल का उचित मूल्य दिलाने के उद्देश्य से शुरू किए गए राजीव गांधी किसान न्याय योजना की दूसरी किस्त मिलने से किसान उत्साहित है। त्यौहारों के समय यह राशि मिलने से ग्रामीणों को अपनी जरूरत पूरी करनेे में आसानी हो रही है। बिलासपुर जिले के तखतपुर विकासखंड के ग्राम खरकेना के किसान श्री रतिराम को इस योजना के तहत द्वितीय किस्त के रूप में 5 हजार 200 रूपये प्राप्त हुए है। इससे खुश होकर श्री रतिराम ने बताया कि इस राशि का उपयोग उन्होंने त्यौहार के समय अपनी जरूरतों पर खर्च किया।

किसान श्री रतिराम के पास दो एकड़ खेत है। खरीफ वर्ष 2019-20 में रतिराम ने 29 क्विंटल 40 किलो धान समिति में समर्थन मूल्य पर बेचा था। उसे 1800 प्रति क्विंटल के हिसाब से 38 हजार रूपये से कुछ ज्यादा की राशि मिली थी। राजीव गांधी किसान न्याय योजना के तहत छत्तीसगढ़ शासन द्वारा उसे 2500 रूपये प्रति क्विंटल के हिसाब से अंतर की राशि का भुगतान किस्तों में किया जा रहा है। अभी तक उन्हें दो किश्त की राशि 10 हजार 400 रूपये मिली है। लॉकडाउन के दौरान पहली किश्त के रूप मंे 5 हजार 200 रूपये की राशि मिलने से उसके परिवार के लिये एक बड़ा सहारा बनी। द्वितीय किश्त की राशि के रूप में उसे 5 हजार 200 रूपये मिले हैं। यह राशि उसने त्यौहार के लिये खर्च किए। राशि मिलने पर श्री रतिराम ने शासन को धन्यवाद दिया है।