जगदलपुर : राजीव गांधी किसान न्याय योजना के तहत् बस्तर संभाग के एक लाख 43 हजार 915 किसानों को मिला : पहली किस्त में 110 करोड़ 57 लाख से अधिक राशि

राजीव गांधी किसान न्याय योजना के तहत् बस्तर संभाग सातों जिलों 267 उपार्जन केन्द्रों में 01 लाख 70 हजार 650 पंजीकृत किसानों में से 01 लाख 43 हजार 915 धान बेचने वाले किसानों को उपार्जित धान की अंतर राषि 421 करोड़ 22 लाख से अधिक राषि का भुगतान किया जाएगा। प्रथम किस्त के रूप में सातों जिला में 26 प्रतिषत अंतर राषि के तहत् 110 करोड़ 57 लाख 13 हजार से अधिक राषि का किसानों के खातों में अंतरित किया गया। जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक मर्यादित जगदलपुर से प्राप्त जानकारी अनुसार बस्तर जिले में 60 उपार्जन केन्द्र हैं जिसमें 29 हजार 944 पंजीकृत किसानों में से धान बेचने वाले 24728 किसानों को उपार्जित धान की अंतर राशि 80 करोड़ 16 लाख 51 हजार 705 रूपए दिया जाना है जिसमें पहली किस्त में 21 करोड़ 4 लाख 33 हजार 572 रूपए का भुगतान कर दिया गया। बीजापुर जिले में 18 उपार्जन केन्द्रों में 11093 पंजीकृत किसानों में से धान बेचने वाले 9878 किसानों को अंतर राशि 39 करोड़ 86 लाख 98 हजार से अधिक राषि का भुगतान किया जाना है जिसमें पहली किस्त में 10 करोड़ 46 लाख 58 हजार 227 रूपए किसानों दिया गया है। दंतेवाड़ा जिले में 11 उपार्जन  केन्द्रों में 7266 पंजीकृत किसान हैं। 3259 धान बेचने वाले किसानों को उपार्जित धान की राशि 7 करोड़ 22 लाख 54 हजार 108 रूपए अंतर राशि दी जाएगी जिसमें अंतर राशि की पहली किस्त में 1 करोड़ 89 लाख 66 हजार 703 रूपए किसानों के खाते में अंतरित की गई।
इसी प्रकार कांकेर जिले में 113 उपार्जन केन्द्रों में 74282 पंजीकृत किसान में से 66913 धान बेचने वाले किसानों को उपार्जित धान की 187 करोड़ 18 लाख 86 हजार 813 रूपए अंतर राशि दी जाएगी। जिसमें पहली किस्त में 49 करोड़ 13 लाख 70 हजार 288 रूपए अंतर राशि किसानों के खाते में अंतरित किया गया। कोण्डागांव जिले में 44 उपार्जन केन्द्रों में 32 हजार 072 पंजीकृत किसानों में से 27 हजार 491 धान बेचने वाले किसानों को उपार्जित धान की राशि 74 करोड़ 91 लाख एक हजार 628 रूपए अंतर राशि दी जाएगी पहली किस्त में 19 करोड़ 66 लाख 39 हजार 177 रूपए अंतर राशि किसानों दिया गया। नारायणपुर जिले में 8 उपार्जन केन्द्रों में 4453 पंजीकृत किसानों में से 3684 धान बेचने वाले किसानों को उपार्जित धान की अंतर राशि 9 करोड़ 92 लाख सात हजार 604 दी जाएगी। पहली किस्त में किसानों को 2 करोड़ 60 लाख 41 हजार 996 रूपए अंतर राशि दिया गया। इसी प्रकार सुकमा जिले में 13 उपार्जन केन्द्रों में 11540 पंजीकृत किसानों में से 7962 धान बेचने वाले किसानों को उपार्जित धान की अंतर राशि 21 करोड़ 94 लाख 42 हजार 475 रूपए राशि दी जाएगी पहली किस्त में किसानों को 5 करोड़ 76 लाख तीन हजार 649 रूपए अंतर राशि दिया गया है।