दरिमा एयर स्ट्रिप में हो रही देरी से स्वास्थ्य मंत्री सिंहदेव नाराज, बोले- डीजीसीए उड़ान शुरू करने में नहीं ले रहा दिलचस्पी

अंबिकापुर। स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव ने दरिमा हवाई पट्टी में देरी को लेकर सवाल उठाए हैं। उनकी माने तो उड़ान सेवा शुरू करने में डीजीसीए दिलचस्पी नहीं दिखा रही है। यही कारण है कि हर बार उड़ान सेवा शुरू करने की पहल पर डीजीसीए के ओर से कोई ना कोई आपत्ति लगा दी जाती है। स्वास्थ्य मंत्री ने डीजीसीए से मांग कि है कि आखिर वो हवाई पट्टी निर्माण में क्या कमियां रह गई है इसकी जानकारी दे, ताकि जल्द यहां हवाई सेवा शुरू हो सके।

बता दें सरगुजा जिले से हवाई सेवा शुरू किए जाने के लगातार प्रयास किए जा रहे हैं मगर डीजीसीए के द्वारा अलग-अलग कारणों के कारण अब तक यहां से हवाई सेवा की अनुमति नहीं दी जा सकी है। यही कारण है कि स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव खुद दरिमा हवाई अड्डे पहुंचे और यहां की व्यवस्था का जायजा लिया।

स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव ने कहा कि हवाई पट्टी की मोटाई बढ़ाने के साथ ही वायुयान खड़ा करने का स्थान और टर्मिनल बिल्डिंग को बढ़ाए जाने के निर्देश डीजीसीए ने दिए हैं। इसके अलावा हवाई पट्टी के दोनों ओर नाली निर्माण की भी बात कही गई है। इसे लेकर हम अपनी तैयारी कर रहे हैं और इसे जल्द ही पूरा कर लिया जाएगा।

मंत्री टीएस सिंह देव ने डीजीसीए के कार्यप्रणाली पर सवाल खड़ा करते हुए कहा कि डीजीसीए को यह पता है कि दरिमा हवाई पट्टी से 72 सीटर हवाई सेवा शुरू होनी है, ऐसे में डीजीसीए को जो मानक स्तर पर काम चाहिए उसकी जानकारी एक साथ दे दी जाती तो बेहतर होता। मंत्रियों ने यह भी आरोप लगाया कि डीजीसीए इसे लेकर ज्यादा दिलचस्पी नहीं ले रहा या फिर वह यहां से हवाई सेवा शुरू करना नहीं चाहते। यही कारण है कि दरिमा एयर स्ट्रिप से हवाई सेवा शुरू होने में देर हो रही है।