राहत की खबर : आज से गोंदिया-मुंबई सुपरफास्ट और 14 अक्टूबर से दुर्ग-छपरा सारनाथ फिर शुरू होगी, पैसेंजर्स को नहीं होना पड़ेगा क्वारैंटाइन

छत्तीसगढ़। कोरोना संक्रमण के बीच त्योहारों पर यात्रियों के लिए राहत की दो खबरें आई हैं। अब बाहर से छत्तीसगढ़ आने वाले यात्रियों को क्वारैंटाइन नहीं रहना होगा। वहीं त्यौहारों को देखते हुए गोंदिया-मुंबई सुपरफास्ट शुक्रवार से शुरू हो रही है। जबकि दुर्ग से छपरा के बीच चलने वाली सारनाथ एक्सप्रेस 14 अक्टूबर से पटरी पर फिर से दौड़ लगाएगी।

पूरी तरह से आरक्षित होगी मुंबई-गोंदिया सुपरफास्ट
दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे नागपुर मंडल के अंतर्गत चलने वाली 02105 मुंबई-गोंदिया सुपरफास्ट स्पेशल ट्रेन छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस मुंबई से 9 अक्टूबर को रवाना होकर अगले दिन गोंदिया पहुंचेगी। इसी तरह ट्रेन नंबर 02106 गोंदिया से 10 अक्टूबर को चलेगी। इगतपुरी छोड़कर शेष स्टेशनों से तय समय पर ही ट्रेन की रवानगी होगी।

यह ट्रेन पूरी तरह से आरक्षित श्रेणी की होगी। इसमें 10 स्लीपर क्लास, 5 एसी-थ्री टीयर, 3 एसी-टू टीयर, 1 फर्स्ट एसी और 5 आरक्षित सेकंड क्लास सीटिंग कोच रहेगें। इस विशेष गाड़ी में यात्रियों को केवल कन्फर्म टिकट ही मिलेगा, वेटिंग और आरएसी उपलब्ध नहीं होगा। यात्रा के दौरान कोविड-19 की गाइडलाइन का पालन करना होगा ।

प्रयागराज जाने वाले यात्रियों को मिलेगी सुविधा
दुर्ग-छपरा सारनाथ एक्सप्रेस को 13 अक्टूबर को छपरा से रवाना होगी। वहीं 14 अक्टूबर से दुर्ग से परिचालन शुरू होगा। इसके परिचालन की मांग लंबे समय से की जा रही थी। यह ट्रेन 05159 व 05160 नंबर के साथ चलेगी। ट्रेन के चलने से उन्हें राहत मिलेगी जो प्रयागराज जाते हैं। कोरोना की वजह से ट्रेन का परिचालन मार्च से बंद था।

दुर्ग-छपरा सारनाथ एक्सप्रेस पुराने समय पर चलेगी। दुर्ग से रात 8.25 बजे छूटकर 9.05 बजे रायपुर और 11.10 बजे बिलासपुर पहुंचेगी। वहीं छपरा से सुबह 7.10 बजे चलकर सारनाथ, वाराणसी, प्रयागराज, सतना होते हुए दुर्ग पहुंचेगी। यह ट्रेन 45 में से 37 स्टेशनों पर ठहरेगी। बिल्हा, करगी रोड और बेलगहना स्टेशनों पर नहीं रुकेगी।

आने वाले यात्रियों की होगी स्वास्थ्य जांच, नहीं होंगे क्वारैंटाइन
छत्तीसगढ़ में दूसरे राज्यों से आने वाले लोगों को क्वारैंटाइन नहीं रहना होगा। हवाई, रेल और सड़क मार्ग से जो भी प्रदेश में आएंगे उनके स्वास्थ्य की जांच की जाएगी। इसके साथ ही उन्हें आवश्यक दिशा-निर्देश दिए जांएगे। राज्य सरकार ने यात्रियों के लिए क्वारैंटाइन में रहने की बाध्यता समाप्त करने का आदेश जारी कर दिया है।