दंतेवाड़ा : जिले में मनरेगा के तहत अब तक 5 लाख 10 हजार 411 मानव दिवस रोजगार के अवसर सृजित : अभी संचालित हैं 546 रोजगारमूलक कार्य

जिले में ग्रामीणों की व्यापक सहभागिता के फलस्वरूप मनरेगा के तहत जल संरक्षण एवं जल संवर्धन कार्यों को बढ़ावा मिला है। इसके साथ ही भूमि समतलीकरण तथा प्रधानमंत्री आवास योजना और नरवा-गरवा, घुरवा एवं बारी योजना के कार्यों को तेजी के साथ संचालित किया जा रहा है। जिससे एक ओर जहां डबरी, तालाब निर्माण और तालाब गहरीकरण जैसे कार्य किये जा रहे हैं, वहीं ग्रामीणों को अपने गांव में ही रोजगार सुलभ हो रहा है। जिले में मनरेगा के तहत रोजगारपरक कार्यों को निरंतर संचालित कर अब तक कुल 5 लाख 10 हजार 411 मानव दिवस रोजगार के अवसर सृजित किये गए हैं। जिले में वर्तमान में मनरेगा के तहत कुल 546 रोजगारपरक कार्य संचालित किये जा रहे हैं। जिसके तहत 125 डबरी निर्माण, 94 तालाब निर्माण, 9 कुआं निर्माण, 44 प्रधानमंत्री आवास निर्माण, 224 भूमि समतलीकरण, 7 उद्यान रोपणी, 3 आंगनबाड़ी केंद्र भवन निर्माण, 35 नरवा-गरवा, घुरवा एवं बारी के कार्यों सहित 5 अन्य कार्य सम्मिलित हैं। वर्तमान में मनरेगा के तहत जिले के दंतेवाड़ा ब्लॉक अंतर्गत 214 रोजगारपरक कार्यों में 6 हजार 706 श्रमिक, गीदम ब्लॉक अंतर्गत 183 रोजगारमूलक कार्यों में 7 हजार 746 श्रमिक, कटेकल्याण ब्लॉक अंतर्गत 73 रोजगारपरक कार्यों में 4 हजार 643 श्रमिक तथा कुआकोंडा ब्लॉक अंतर्गत 76 रोजगारमूलक कार्यों में 3 हजार 380 श्रमिक सलंग्न हैं। जिले में मनरेगा के तहत आगामी 15 जून तक रोजगारपरक कार्यों को नियमित रूप से संचालित कर अधिकाधिक पंजीकृत जॉब कार्डधारी परिवारों को रोजगार उपलब्ध कराये जाने के निर्देश सम्बन्धित अधिकारियों को दिये गए हैं।