कांकेर के BSF कैंप में कोरोना विस्फोट, 15 जवान मिले संक्रमित…..हाल ही में सभी छुट्टी से लौटे थे जवान

छत्तीसगढ़ में कोरोना का कहर लगातार बढ़ता जा रहा है। आलम ये है कि इसकी चपेट में लगातार सुरक्षा बलों के जवान भी जा रहे हैं। पिछले दिनों नारायणपुर और सुकमा में कोरोना पॉजेटिव जवान मिलने के बाद अब कांकेर में बड़े पैमाने पर जवान कोरोना पॉजेटिव मिले हैं।  BSF के 15 जवानों की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. इससे नक्सल मोर्चे पर तैनात जवानों में हड़कंप मच गया है.

मंगलवार शाम को कांकेर में पहले 3 कोरोना पॉजिटिव मरीजों की पुष्टि हुई. जिसमें एक बीएसएफ का जवान भी था. बताया जा रहा है, जवान छुट्टी से वापस लौटा है. इसके बाद रात 11 बजे के आसपास बीएसएफ (BSF) के 14 और जवानों के कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई. जिसमें से 10 जवान कोयलीबेड़ा ब्लॉक के बांदे कैंप में पदस्थ है, वहीं 5 जवान अंतागढ़ के कैंप में पदस्थ है. ये सभी 15 जवान हाल ही में छुट्टी से लौटे हैं. जवानों के किसी संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आकर कोरोना की चपेट में आने की जानकरी अभी नहीं मिल सकी है. पॉजिटिव पाए गए जवानों को आज सुबह अस्पताल भेजा गया है. साथ ही अब बीएसएफ (BSF) के जिन कैंप में ये जवान पदस्थ थे, वहां के जवानों की जांच की जा रही है

नक्सल मोर्चे पर तैनात बीएसएफ (BSF) जवानों के लिए अब नक्सलियों के साथ-साथ कोरोना से निपटना एक बड़ी चुनौती बन सकती है. एक ही दिन में 15 जवानों की रिपोर्ट पॉजिटिव आने से नक्सल मोर्चे पर तैनात जवानों में हड़कंप मच गया है. बता दें, इसके पहले नारायणपुर, कोंडागांव, सुकमा में भी नक्सल मोर्चे पर तैनात जवान कोरोना की चपेट में आ चुके हैं