छत्तीसगढ के सभी जिला मुख्यालयों में गढ़ कलेवा शुरू, छत्तीसगढ़ी व बस्तरिया व्यजंनो का स्वाद लेने का अवसर

स्वतंत्रता दिवस के दिन 15 अगस्त को राज्य के सभी जिला मुख्यालयों में छत्तीसगढ़ी खानपान एवं व्यंजन विक्रय केंन्द्र गढ़ कलेवा का शुभारंभ हुआ। इस केन्द्र के खुलने से नागरिकों को सस्ते दर पर छत्तीसगढ़ी पकवान मिलेगा । इसके अलावा बड़े पैमाने पर मलिाओं को रोजगार मिलेगा । मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने राज्य के सभी जिला मुख्यालय के मुख्य बाजार, गौरवपथ, राज्यमार्गों राष्ट्रीय राजमार्गों के समीप गढ़ कलेवा शुरू करने का निर्णय लिया था। मुख्यमंत्री ने मुख्यसचिव को इस संबंध में आवश्यक कार्यवाही करने कहा था।

राज्य शासन के निर्देशानुसार बस्तर जिला मुख्यालय के शहीद पार्क में गढ़कलेवा की शुरूआत 15 अगस्त को स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम एवं अन्य गणमान्य जनप्रतिनिधियों के द्वारा किया गया। इस गढ़कलेवा में छत्तीसगढ़ी व्यंजनों सहित बस्तर की स्थानीय व्यंजनों का बिक्री की जा रही है। इस गढ़कलेवा को 15 सदस्यों की महामाया स्व-सहायता समूह के द्वारा संचालित किया जा रहा है। जो सुबह 10 बजे से शाम 5 बजे तक खुला रहेगा। गढ़कलेवा से जिले के वासियों को नाश्ते के रूप में छत्तीसगढ़ी व बस्तरिया व्यजंनो का स्वाद लेने का अवसर। महामाया स्व सहायता समूह की महिला द्वारा फरा, मूंग-उड़द बडा, गुलगुला, आरसा ,तिखुर, टमाटर चटनी सहित अन्य व्यजनों की बिक्री की जा रही है। नगर पालिक निगम के द्वारा इस गढ़कलेवा को सोमवार 17 अगस्त को जनता के लिए खोला गया। इस अवसर पर महापौर श्रीमती सफीरा साहू, अध्यक्ष श्रीमती कविता साहू, नगर निगम आयुक्त श्री प्रेमकुमार पटेल गढ़कलेवा पहुंचकर व्यजंनो का स्वाद लिया।