छत्तीसगढ़ के बीजापुर में नक्सलियों ने जनअदालत लगाकर 4 ग्रामीणों को मार डाला

छत्तीसगढ़ के बीजापुर में नक्सलियों ने शनिवार को 4 ग्रामीणों की हत्या कर दी। इन ग्रामीणों को जन अदालत लगाकर मारा गया। नक्सलियों के कब्जे में अभी भी 16 ग्रामीणों के होने की आशंका है। मामला गंगालूर थाना क्षेत्र का है। मौके पर पुलिसबल भेजा गया है। इसके बाद ही स्थिति स्पष्ट हो सकेगी। हालांकि, आईजी बस्तर पी. सुंदरराज ने दो ग्रामीणों के मारे जाने की अभी पुष्टि की है।

बीजापुर एसपी कमल लोचन कश्यप का कहना था कि ग्रामीणों के मारे जाने की खबर आई है। उनके नाम और पहचान नहीं हो पाई है। एसपी ने ग्रामीणों के अगवा होने की पुष्टि नहीं की। कश्यप ने बताया कि नदी पार का मामला है। गांव वालों की मानें तो 2 दिन पहले नक्सलियों ने मेटापाल और पूसनार गांव से 25 ग्रामीणों को अगवा किया था। इनमें से 4 की हत्या कर दी गई।

बीजापुर में ही नक्सलियों ने 30 अगस्त को कुटरु थाना में पदस्थ एएसआई (सहायक सब इंस्पेक्टर) नागैय्या कोरसा को अगवा कर लिया था। वह शाम को ड्यूटी करने के बाद घर लौट रहे थे। अगले दिन 31 अगस्त की सुबह उनका शव कुटरू-बीजापुर मार्ग पर केतुलनार के पास सड़क किनारे पड़ा मिला था।