Monday, June 14संस्थापक, प्रधान संपादक, स्वामी श्री नवनीत जगतरामका जी
Shadow

रायपुर

रायपुर : किसानों के विकास के लिए मील का पत्थर है ’राजीव गांधी किसान न्याय योजना : मुख्यमंत्री श्री बघेल

रायपुर : किसानों के विकास के लिए मील का पत्थर है ’राजीव गांधी किसान न्याय योजना : मुख्यमंत्री श्री बघेल

रायपुर
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने आकाशवाणी से  प्रत्येक माह प्रसारित होने वाली ’लोकवाणी’ की 18वीं कड़ी में बातचीत की शुरूआत जय जोहार के अभिवादन के साथ करते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ किसानों का, खेती-किसानी का राज्य है। हमारा मानना है कि किसान खुशहाल होगा, तभी प्रदेश खुशहाल होगा। विकास की इसी दूरगामी सोच के साथ हमने छत्तीसगढ़ में 21 मई 2020 को ’राजीव गांधी किसान न्याय योजना’ की शुरूआत की है। यह योजना हमारी सरकार की कृषक हितैषी सोच को साफ-साफ दर्शाती है। इससे छत्तीसगढ़ में किसानों की आय बढ़ेगी और वे आर्थिक रूप से सक्षम बनेंगे।उन्होंने कहा कि यह योजना छत्तीसगढ़ के किसानों के विकास के लिए मील का पत्थर साबित होगी। राजीव गांधी किसान न्याय योजना-2020 में साल भर के भीतर 18.45 लाख किसानों को चार किस्तों में 5 हजार 628 करोड़ रूपए की पूरी राशि का भुगतान मुख्यमंत्री श्री बघेल ने कहा कि हमने छत्तीसगढ़ में 21 ...
रायपुर : यूएनडीपी और नीति आयोग ने मलेरिया मुक्त बस्तर अभियान को सराहा

रायपुर : यूएनडीपी और नीति आयोग ने मलेरिया मुक्त बस्तर अभियान को सराहा

रायपुर
संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम (यूएनडीपी) और नीति आयोग ने प्रदेश के बस्तर संभाग में मलेरिया उन्मूलन के लिए राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन, छत्तीसगढ़ द्वारा संचालित मलेरिया मुक्त बस्तर अभियान की सराहना की है। यूएनडीपी ने नीति आयोग को सौंपे अपनी रिपोर्ट में कहा है कि आकांक्षी जिलों बीजापुर और दंतेवाड़ा में इस अभियान के बहुत अच्छे नतीजे आए हैं। मलेरिया मुक्त बस्तर अभियान के असर से बीजापुर जिले में मलेरिया के मामलों में 71 प्रतिशत और दंतेवाड़ा में 54 प्रतिशत की कमी आई है। यूएनडीपी ने इस अभियान को आकांक्षी जिलों में संचालित सबसे बेहतर अभियानों में से एक बताया है। उसने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि मलेरिया को खत्म करने देश के अन्य आकांक्षी जिलों में भी इस तरह का अभियान संचालित किया जाना चाहिए। आकांक्षी जिलों में संचालित सबसे बेहतर अभियानों में से एक, मलेरिया खत्म करने देश के अन्य आकांक्षी जिलों में इ...
रायपुर : कोरोना-काल में भी खूब काम आई मुख्यमंत्री स्लम स्वास्थ्य योजना की मोबाइल मेडिकल यूनिटें : योजना के तहत अब तक 10 हजार शिविरों का आयोजन

रायपुर : कोरोना-काल में भी खूब काम आई मुख्यमंत्री स्लम स्वास्थ्य योजना की मोबाइल मेडिकल यूनिटें : योजना के तहत अब तक 10 हजार शिविरों का आयोजन

छत्तीसगढ़ न्यूज़, रायपुर
छत्तीसगढ़ के शहरी क्षेत्रों में मुख्यमंत्री स्लम स्वास्थ्य योजना की मोबाइल मेडिकल यूनिटों (एमएमयू) से झुग्गी बस्तियों में निवासरत लोगों को नियमित जांच-उपचार-दवा का लाभ तो मिल ही रहा है, कोरोना-काल में भी संक्रमण को नियंत्रित करने में ये बहुत काम की साबित हुई हैं। योजना की शुरुआत के बाद से अब तक इस योजना के तहत दस हजार शिविरों के आयोजन किए जा चुके हैं। करीब पांच लाख मरीजों तक मुफ्त जांच, उपचार और दवा की सुविधा पहुंचाई जा चुकी है। राज्य स्थापना दिवस 01 नवंबर 2020 को मुख्यमंत्री स्लम स्वास्थ्य योजना का शुभारंभ सांसद श्री राहुल गांधी की उपस्थिति में मुख्यमंत्री श्री बघेल द्वारा किया गया था। राज्य के सभी 14 नगर पालिक निगमों में आधुनिक उपकरण से सुसज्जित 60 एमएमयू स्वास्थ्य सेवाएं दे रही हैं। इन मोबाइल मेडिकल यूनिटों में एमबीबीएस डाक्टर द्वारा लगभग 1600 स्लम बस्तियों में कैम्प लगाकर मरीजों को स...
रायपुर : मुख्यमंत्री से रायपुर प्रेस क्लब के प्रतिनिधिमंडल ने की सौजन्य मुलाकात

रायपुर : मुख्यमंत्री से रायपुर प्रेस क्लब के प्रतिनिधिमंडल ने की सौजन्य मुलाकात

छत्तीसगढ़ न्यूज़, रायपुर
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल से उनके निवास कार्यालय में रायपुर प्रेस क्लब के प्रतिनिधिमंडल ने अध्यक्ष श्री दामू आम्बेडारे के नेतृत्व में सौजन्य मुलाकात की। प्रतिनिधि मंडल ने दिवंगत पत्रकारों के परिजनों को 5 लाख रूपये की आर्थिक सहायता  तथा कोरोना पीड़ित पत्रकारों के ईलाज की प्रतिपूर्ति के लिए मुख्यमंत्री का आभार जताया। दिवंगत पत्रकारों के परिजनों को 5 लाख रूपये तथा कोरोना पीड़ित पत्रकारों के ईलाज की प्रतिपूर्ति के लिए जताया आभार प्रतिनिधि मंडल ने  मुख्यमंत्री को अन्य मांगों के संबंध में ज्ञापन सौंपा जिस पर मुख्यमंत्री श्री बघेल ने सहानुभूतिपूर्वक विचार करने का आश्वासन दिया। प्रतिनिधिमंडल में श्री संजय शुक्ला, सुश्री शगुप्ता सीरीन, श्री मनोज नायक, श्री दीपक पांडेय, श्री अनिल द्विवेदी तथा श्री सुखनंदन बंजारे उपस्थित थे।...
रायपुर : छत्तीसगढ़ में एक-दो दिनों में मानसून के सक्रिय होने की संभावना

रायपुर : छत्तीसगढ़ में एक-दो दिनों में मानसून के सक्रिय होने की संभावना

रायपुर
भारत मौसम विज्ञान के पूर्वानुमान के अनुसार छत्तीसगढ़ राज्य में आगामी एक-दो दिनों में मानसून के सक्रिय होने की संभावना जताई गई है। राज्य के अधिकांश हिस्सों में कही कही हल्के और कही कही गहरे बादल छाए हुए है। छत्तीसगढ़ में 11 एवं 12 जून को कहीं-कहीं भारी बारिश की संभावना व्यक्त की गई है। इस दौरान बादलों की गरज और बिजली की चमक तथा 30-40 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से तेज हवाएं चलने का भी अनुमान है।...
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने की दो बड़ी घोषणाएं : गरीब परिवारों को जुलाई से नवम्बर तक पांच माह का मिलेगा निःशुल्क चावल

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने की दो बड़ी घोषणाएं : गरीब परिवारों को जुलाई से नवम्बर तक पांच माह का मिलेगा निःशुल्क चावल

रायपुर
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने कोरोना महामारी के चलते प्रदेश के गरीब परिवारों को बड़ी राहत देते हुए जुलाई से नवम्बर माह तक का चावल निःशुल्क प्रदान करने की घोषणा की है। प्रदेश के सभी बीपीएल राशन कार्ड धारकों को जुलाई से नवम्बर तक पांच माह का चावल निशुल्क दिया जाएगा। इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने राज्य खाद्य सुरक्षा अधिनियम के तहत जारी सभी राशन कार्डों को पीएम गरीब कल्याण योजना के समकक्ष अतिरिक्त चावल भी देने की घोषणा की है । मुख्यमंत्री की इस घोषणा से प्रदेश के 67 लाख 90 हजार 987 राशनकार्ड के 2 करोड़ 51 लाख 46 हजार 424 सदस्य लाभान्वित होंगे। राज्य खाद्य सुरक्षा अधिनियम में जारी सभी कार्डों को पीएम गरीब कल्याण योजना के समकक्ष दिया जाएगा अतिरिक्त चावल गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा राज्य के गरीब एवं जरूरतमंद परिवारों को राहत प्रदान करने के लिए सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत माह मई एवं जू...
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल : फ्री वैक्सीनेशन की घोषणा देरी से लिया गया निर्णय, वैक्सीन की निरंतर आपूर्ति ही सबसे बड़ी चुनौती

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल : फ्री वैक्सीनेशन की घोषणा देरी से लिया गया निर्णय, वैक्सीन की निरंतर आपूर्ति ही सबसे बड़ी चुनौती

छत्तीसगढ़ न्यूज़, रायपुर
छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने कहा है कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की फ्री वैक्सीनेशन की घोषणा देरी से लिया गया निर्णय है। उन्होंने कहा कि वैक्सीन की निरंतर आपूर्ति केन्द्र सरकार कैसे करेगी, यही सबसे बड़ी चुनौती है। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमने छत्तीसगढ़ विधानसभा में बजट सत्र में ही यह घोषणा कर दी थी कि छत्तीसगढ़ में हम हर व्यक्ति का फ्री वैक्सीनेशन करेंगे। केन्द्र सरकार ने स्वास्थ्य कार्यकर्ता, फ्रंटलाईन वर्कर और 45 वर्ष के अधिक आयु के लिए तो फ्री वैक्सीनेशन की व्यवस्था की लेकिन जब 18 से 44 आयु वर्ग की बात आयी तो उन्होंने यह राज्यों के ऊपर छोड़ दिया, तब भी सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने प्रधानमंत्री से फ्री वैक्सीनेशन की मांग की थी, लेकिन उन्होंने सुना नहीं। बाद में राज्यों ने अपने खजाने से वैक्सीनेशन की व्यवस्था की। मुख्यमंत्री ने कहा कि मुख्य समस्या वैक्सीन की पूर्ति...