Saturday, September 18संस्थापक, प्रधान संपादक, स्वामी श्री नवनीत जगतरामका जी
Shadow
bijapur-kua-news

बीजापुर : पचास साल में पूरी नहीं हो पाई एक अदद हैंडपंप की मांग

बीजापुर। जिला मुख्यालय से करीब 20 किमी दूर गंगालूर ग्राम पंचायत के तोंगबाल पारा में दशकों से बसते आ रहे दो सौ ग्रामीण साफ पानी पीने के अपने अधिकार से बेदखल है। बीजापुर से चेरपाल फिर चेरपाल से कुछ किमी आगे गंगालूर को जोड़ती सड़क को छोड़ कच्ची सड़क के सहारे तोंगबाल पहुंचा जा सकता है।

यहां रहने वाले बदरू हेमला, आयतु हेमला समेत पारा के बाषिंदों की एक अदद मांग हैण्डपंप को लेकर है। पांच दशक से बसते आ रहे दो सौ ग्रामीणों की प्यास एक खेत के बीचों-बीच मौजूद कुआ से बुझती है, जिसमें बारह मास पानी रहता है। पंचायत प्रतिनिधियों से हैण्डपंप की मांग करते थक चुके तोंगबाल वासियों के लिए यही कुआ सहारा बना हुआ है।

पीने का पानी उन्हें इसी चुए से मिलता है। जिसे सुरक्षित करने पारा के दर्जनभर परिवारों ने उपाय निकाला और एक सूखे पेड़ की खोखले तने को चुए में गाड़ कर कुआ सा आकार दे दिया। इस तरह प्राकृतिक जल स्त्रोत को सुरक्षित कर बीते पांच दशक से भी अधिक समय से दर्जनभर परिवार अपनी प्यास बुझाते आ रहे हैं। रहवासियों की मानें तो पीने के पानी के लिए दूसरा कोई जरिया नहीं हैं। समीप नदी जरूर है मगर उसका पानी निस्तारी के काम आता है। साफ पानी के लिए वे कुए के भरोसे ही है।

ग्रामीणों की मांग हैं कि आवश्यकता के मद्देनजर यहां सोलर पंप के अलावा अन्य तीन सामान्य हैंडपंप स्थापित किया जाए, जिससे पीने का पानी और निस्तार की सुविधा भी उन्हें मिलेगी। ग्रामीण पिछले कई वर्षों से समस्या से निजात पाने पंचायत का ध्यानाकर्षण करते आ रहें हैं, लेकिन समस्या हल नहीं हुई। कुए का पानी पीकर कुछ बुजुर्गों की जवानी भी बीत गई, लेकिन हालात नहीं बदले। तोंगबाल पहाड़ियों से घिरा खूबसूरत पारा है लेकिन यहां पहुंचने पक्की सड़क भी नहीं है।

ऐसे में किसी मरीज को आपात स्थिति में अस्पताल ले जाने की जरूरत भी पड़े तो परेशानी उठानी पड़ती है। नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र गंगालूर, चेरपाल है, लेकिन सड़क के अभाव में बरसात के दिनों में परेशानी बढ़ जाती है। बिजली की सुविधा पारा में जरूर है। घरों को एकल बत्ती कनेक्षन से जोड़ा गया है।

पोर्टल/समाचार पत्र विज्ञापन हेतु संपर्क : +91-9229705804
Advertise with us

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *