Tuesday, September 21संस्थापक, प्रधान संपादक, स्वामी श्री नवनीत जगतरामका जी
Shadow
neelam-sarai-bijapur

बीजापुर : नीलम सरई तक पर्यटकों की पहुंच आसान बनाने बनेगी समिति शराब ले जाने पर रहेगी पाबंदी, बाइक से सोढ़ी पारा पहुंचे कलेक्टर

बीजापुर। नीलम सरई जलप्रपात को पर्यटन के लिहाज से विकसित करने प्रशासन ने खास दिलचस्पी दिखाई है। शुक्रवार को कलेक्टर रितेष अग्रवाल उसूर के सोढ़ी पारा पहुंचे। उन्होंने बतौर टूर गाइड काम कर रहे गांव के स्थानीय युवकों से मुलाकात की। गौरतलब है कि मनवा बीजापुर के तहत् कलेक्टर रितेष अग्रवाल ने नीलम सरई जलप्रपात तक सैलानियों की पहुंच को आसान बनाने सोढ़ी पारा के ही कुछ युवकों के लिए टूरिस्ट गाइड हेतु प्रशिक्षण की व्यवस्था की थी। अनएक्सप्लोर्ड बस्तर के माध्यम से गांव के कुछ युवकों का चयन किया गया और उन्हें वर्कषाॅप के जरिए प्रषिक्षित किया गया। नीलम सरई को पर्यटकों का आकर्षण का केंद्र बनाने के साथ गांव वालों की समस्याएं सुनने के मकसद से कलेक्टर गांव के अंतिम छोर पर स्थित माता गुड़ी में पहुंचे। यहां शेड के नीचे चैपाल लगाई और ग्रामीणों से उनकी समस्याएं सुनी। यह पहला मौका था जब सुदूर उसूर इलाके के सोढ़ी पारा जैसे अंदरूनी गांव में कलेक्टर पहुंचे थे। उसूर पोटाकेबिन तक चारपहिया वाहने से पहुंचे कलेक्टर अग्रवाल को मातागुड़ी तक पहुंचने बाइक पर सवार होना पड़ा। सड़क ना होने की वजह से कलेक्टर को परेषानी उठानी पड़ी, इसके मद्देनजर कलेक्टर ने मौके पर उपस्थित तकनीकी सहायक को सड़क का प्रस्ताव बनाने के निर्देष देते जल्द अमली जामा पहनाने को कहा।

बाॅक्स सैलानियों के नाम-पते होंगे दर्ज
बीते वर्षों में नीलम सरई जलप्रपात सुर्खियों में आने के बाद स्थानीय लोगों के साथ बाहर से पहुंचने वाले सैलानियों की संख्या में इजाफा देख कलेक्टर ने व्यवस्थित कार्ययोजना बनाने के निर्देश सीईओ जनपद एसबी गौतम को दिए। स्थानीय युवकों और दर्षनीय बीजापुर के सदस्यों से चर्चा के बाद कलेक्टर ने पंचायत स्तर पर पर्यटन हेतु समिति गठिन करने के निर्देष दिए। जिसमें पंचायत की सहभागिता से मातागुड़ी के समीप नाका लगाया जाएगा। मौके पर समिति के नाम से पर्ची भी कटेगी। आगंतुकों के नाम-पते दर्ज रजिस्टर में दर्ज होंगे। उनसे निर्धारित शुल्क लिया जाएगा। लोग चाहे तो लोकल फूड का आनंद भी ले पायेंगे। जिसके लिए अतिरिक्त शुल्क देना होगा। पहाड़ी चढ़ाई शुरू करने से पहले नाके पर आगंतुकों के सामान की जांच भी होगी। शराब ले जाने पर पाबंदी होगी। खाने-पीने की वस्तुएं ले जाते वक्त अतिरिक्त पाॅलिथिन साथ ले जाना होगा, जिसमें बिस्किट, चिप्स आदि के खाली रैपर वापस नीचे लाकर समिति को देने होंगे, ऐसा कर नीलम सरई जलप्रपात पर गंदगी फैलाने से रोका जाएगा।

बाॅक्सः-
बाहरी टूरिस्ट के लिए अलग पैकेजः
नीलम सरई पर्यटन के लिए स्थानीय और बाहरी टूरिस्ट के लिए पैकेज अलग होंगे। जिसमें प्रवेश शुल्क के साथ गाइड चार्जेस अलग से देने होंगे। सैलानियों के लिए लोकल फूड की व्यवस्था रहेगी, लेकिन इसके भी चार्जेस तय होंगे। कलेक्टर अग्रवाल ने सीईओ जनपद को अतिषीघ्र कार्रवाई के निर्देश दिए हैं।

पोर्टल/समाचार पत्र विज्ञापन हेतु संपर्क : +91-9229705804
Advertise with us

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *