Saturday, September 18संस्थापक, प्रधान संपादक, स्वामी श्री नवनीत जगतरामका जी
Shadow
bijapur-school-chale-hum

बीजापुर : डेढ़ दशक बाद गोरना में गूंजा “स्कूल चले हम” कोविड गाइडलाइन के बीच शुरू हुई पढ़ाई, गाँव वालों ने कहा-सुखद आश्चर्य से कम नहीं

बीजापुर. कोविड के कारण देशभर में भले ही सालभर बाद स्कूलों को दोबारा खोलने की कवायद जारी है, और इसके चलते स्कूलों में रौनक फिर एक बार लौट भी रही है, लेकिन बीजापुर ब्लाक का गोरना प्रायमरी स्कूल का खुलना शिक्षा विभाग के साथ गाँव वालों के लिए कई उम्मीदें भी साथ लेकर आया है। जिसकी वजह यहाँ स्कूल का रीओपन है। पन्द्रह सालों तक गोरना प्रायमरी स्कूल में घण्टी नहीं बजी थी। नक्सल समस्या के चलते यहाँ स्कूल का संचालन बीते पन्द्रह बरस से बन्द था, लेकिन पिछले वर्षों में सरकार की मंशा और शिक्षा विभाग की जमीनी स्तर पर मेहनत रंग लाई। परिणाम स्वरूप बीते शिक्षा सत्र यहाँ स्कूल को दोबारा शुरू करवाने में शिक्षा विभाग कामयाब रहा, हालांकि कोविड के चलते कक्षा नहीं लग सकी, लेकिन नए शिक्षा सत्र में सरकार के आदेशानुसार स्कूल के पट खुले तो नजारा कुछ और ही दिखा। शाला में दर्ज 45 में से 38 बच्चे पहले ही दिन कलम-कॉपी, पुस्तक लेकर स्कूल पहुँचे। गौरतलब है कि पन्द्रह सालों से यहाँ स्कूल का संचालन बन्द था और बिल्डिंग भी नहीं थी, लिहाजा डीएमएफ मद से शेड तैयार करवा स्कूल का संचालन दोबारा शुरू करने का निर्णय लिया गया। शिक्षा दूतों की नियुक्ति हुई।

पहले दिन जब बच्चे पहुँचे यह देख स्वयं शिक्षा दूत भी खुशी से फुले नहीं समाए। आत्मविश्वास से लबरेज शिक्षा दूतों ने पहले दिन ही अधयापन के साथ खेल आदि गतिविधियों के जरिए बच्चों को पूरे दिन नियमित स्कूल आने प्रेरित करते रहें।
गाँव वालों के लिए भी यह छण अविस्मरणीय बन गया, चूंकि स्कूल से उन्हें भी भावी पीढ़ी को बेहतर देने की उनकी उम्मीदें फिर से जागी थी।
विदित हो कि डेढ़ दशक से भी ज्यादा समय से जिले के अंदरूनी इलाकों में नक्सल समस्या के चलते दर्जनों स्कूल बंद थे। जिन्हें बीते वर्षों में पुनः खोलने की कवायद शुरू हुई थी।इनमें सनजयपारा का गोरना प्रायमरी स्कूल भी शामिल था। जहाँ कल तक चॉक-ब्लैकबोर्ड तो दूर शिक्षा की दस्तक दुभर हो चली थी, डेढ़ दशक बाद फिर से ककहरा की गूंज सुनाइ पड़ी। वाकई यह छण शिक्षा विभाग के साथ गोरना वासियों के लिए किसी सुखद आश्चर्य से कम नहीं।

पोर्टल/समाचार पत्र विज्ञापन हेतु संपर्क : +91-9229705804
Advertise with us

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *