Tuesday, September 21संस्थापक, प्रधान संपादक, स्वामी श्री नवनीत जगतरामका जी
Shadow

भिलाई : नवनियुक्त पदाधिकारियो को प्रदेश अध्यक्ष अनिल मेश्राम द्वारा नियुक्ति पत्र सौपे गये

दि बुद्धिस्ट सोसायटी ऑफ इंडिया शाखा भिलाई और महिला प्रकोष्ठ के संयुक्त नेतृत्व मे बुद्ध विहार सेक्टर 6 भिलाई मे पूज्य भंते डा. जीवक के जारी वर्षावास के दौरान श्रावण पूर्णिमा के अवसर पर इसके महत्व को भंते जीवक ने उपस्थित बौद्ध उपासक उपासकिओ को धम्म देशना देते हुए कहा कि भगवान बुद्ध ने आषाढ पूर्णिमा से श्रावण पूर्णिमा तक दस शीलो का पालन किया था। भंते ने कहा कि जो व्यक्ति अपने जीवन काल मे राग, द्वेष और निन्दा से दूर रहता है उसका जीवन निर्मल निष्कलंक और सफल होता है। उन्होने कहा कि वैसे तो वर्षावास का प्रत्येक दिन महत्वपूर्ण होता है किन्तु पूर्णिमा और अमावस्या के दिन बौद्धो को सामूहिक रूप से एकत्र होकर धम्म ज्ञान का ग्रहण व अनुसरण करना चाहिए, ज्ञान और शील का अपने आचरण मे समावेश करना चाहिए। इस दौरान जयश्री बौद्ध व अरूण श्यामकुवर द्वारा जाहिर चार आर्य सत्य के संबंध मे जिज्ञासा व शंका का समाधान भंते द्वारा किया गया। धम्म देशना के दौरान अनिल मेश्राम, सुधेश रामटेके, ठाणेन्द्र कामडे, गौतम खोब्रागड़े, अरूण श्यामकुवर, राजू मेश्राम, जयश्री बौद्ध, गीताकिरण श्यामकुवर, संगीता खोब्रागड़े, वंदना बौद्ध, सहित  अनेक पदाधिकारी उपस्थित थे।

पोर्टल/समाचार पत्र विज्ञापन हेतु संपर्क : +91-9229705804
Advertise with us

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *