Thursday, September 23संस्थापक, प्रधान संपादक, स्वामी श्री नवनीत जगतरामका जी
Shadow

बस्तर संभाग

कोण्डागांव : मर्दापाल सीएचसी में अव्यवस्थाओं पर अधिकारियों को दिया नोटिस

कोण्डागांव : मर्दापाल सीएचसी में अव्यवस्थाओं पर अधिकारियों को दिया नोटिस

बस्तर संभाग
कोण्डागांव, 30 जुलाई 2021. शुक्रवार को कलेक्टर पुष्पेन्द्र कुमार मीणा ने मर्दापाल स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र (सीएचसी), उप तहसील कार्यालय एवं माकड़ी सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र का आकस्मिक निरीक्षण किया। इस दौरान सर्वप्रथम उन्होंने मर्दापाल सीएचसी का निरीक्षण किया। जहां उन्होंने अव्यवस्थाओं के प्रति नाराजगी जाहिर करते हुए सभी अधिकारियों को कारण बताओ नोटिस जारी किया। इस दौरान उन्होंने दवा कक्ष की दवाईयों को देखा जहां कुछ अवसान तिथि को प्राप्त कर चुकी दवाईयां प्राप्त हुई। जिसके संबंध में पूछे जाने पर प्रभारी अधिकारी द्वारा दवाईयों के प्रयोग में न होकर केवल नष्ट करने के आदेश न प्राप्त होने तक रखे जाने की प्रतिबद्धता के संबंध में बताया गया साथ ही यह भी बताया गया कि यह दवाईयां अब मरीजों के उपचार हेतु प्रयुक्त नहीं की जा रही है। यहां की अव्यवस्थाओं को देखते हुए कलेक्टर ने सभी प्रभारी एलोप...

कोण्डागांव : उर्वरकों की कालाबाजारी रोकने एसडीएम ने टीम सहित किया दुकानों का निरीक्षण

बस्तर संभाग
कोण्डागांव, 30 जुलाई 2021 लगातार उर्वरकों की कालाबाजारी एवं एमआरपी से अधिक दरों पर उर्वरकों के विक्रय के संबंध में प्राप्त हो रही शिकायतों पर कार्यवाही हेतु कलेक्टर पुष्पेन्द्र कुमार मीणा ने दवा बीज एवं उर्वरक विक्रेताओं की दुकानों पर नियंत्रण स्थापित कर इस प्रकार की गतिविधियों को रोकने हेतु अधिकारियों को निर्देश जारी किये थे। जिसके परिपालन में शुक्रवार को एसडीएम गौतमचंद पाटिल के नेतृत्व में कृषि विभाग के एसडीओ उग्रेश देवांगन एवं विभागीय दल द्वारा दवा बीज एवं उर्वरक विक्रेताओं की दुकानों का आकस्मिक निरीक्षण किया गया। जिसमें प्राप्त शिकायतों के आधार पर अधिक दाम पर उर्वरक विक्रय संबंधी जांच करते हुए राठौर एग्रो दुकान में भंडारण संबंधी दस्तावेज, मूल्य सूची इत्यादि का अभाव पाये जाने पर संबंधित विक्रेता द्वारा 21 दिनों तक उर्वरक विक्रय करने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। इसके अतिरिक्त पलारी स्...
बीजापुर : जाति-आय प्रमाण पत्र के लिए बीजापुर आने-जाने की परेशानी से मिलेगी निजात, कुटरू-गंगालूर बनेंगे तहसील, नैमेड़ में खुलेगा तीस बिस्तर अस्पताल

बीजापुर : जाति-आय प्रमाण पत्र के लिए बीजापुर आने-जाने की परेशानी से मिलेगी निजात, कुटरू-गंगालूर बनेंगे तहसील, नैमेड़ में खुलेगा तीस बिस्तर अस्पताल

बस्तर संभाग
बीजापुर। क़ुटरु और गंगालूर क्षेत्र के ग्रामीणों की बहुप्रतिक्षित माँग आख़िरकार पूरी हो गई। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने एक और एतिहासिक फ़ैसला लेते हुए क़ुटरु और गंगालूर को तहसील का दर्जा देने का निर्णय लिया है। इसे अनुपूरक बजट में पारित कर दिया है। अब क़ुटरु और गंगालूर तहसील बनेंगे। जिसका सीधा फायदा इलाके के ग्रामीणों को मिलेगा। भूमि से सम्बंधित कार्यों के अलावा जाति, निवास एवं आय प्रमाण पत्र बनाने में होने वाली परेशानी दूर होगी। बार-बार ज़िला मुख्यालय आने से निजात भी मिलेगी। इसी तरह स्वास्थ्य सुविधाओं को बेहतर करने ग्राम पंचायत नैमेड को बड़ी सौग़ात देते हुए तीस बिस्तर अस्पताल की स्वीकृति भी दे दी है। बस्तर म विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष एवं विधायक विक्रम मंडावी ने मुख्यमंत्री के इस निर्णय का स्वागत करते हुए आभार व्यक्त किया है।...
मनवा बीजापुर ट्राफी से फुटबॉल का रोमांच, 5 अगस्त को जिला स्तरीय मुकाबला

मनवा बीजापुर ट्राफी से फुटबॉल का रोमांच, 5 अगस्त को जिला स्तरीय मुकाबला

बस्तर संभाग
बीजापुर। ग्रामीण खेल प्रतिभाओं को प्रोत्साहित कर उन्हे अवसर उपलब्ध कराने के उद्देश्य से जिला प्रशासन एवं खेल अकादमी बीजापुर द्वारा मनवा बीजापुर फुटबॉल प्रतियोगिता का आयोजन किया जा रहा है। इस दिशा में अब तक उसूर, भोपालपटनम एवं भैरमगढ़ में ब्लाक स्तरीय फुटबॉल स्पर्धा संपन्न हो चुकी है। वहीं बीजापुर में 30 जुलाई को ब्लाक स्तरीय फुटबॉल प्रतियोगिता रखी गयी है। इसके पश्चात 5 अगस्त को जिला स्तरीय मनवा बीजापुर फुटबॉल प्रतियोगिता का आयोजन किया जायेगा। उक्त सभी स्पर्धा के विजेता तथा उप विजेता टीमों को स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर मुख्य अतिथि द्वारा पुरस्कार प्रदान किया जायेगा। ब्लाक स्तरीय फुटबॉल स्पर्धा के विजेता टीम को 5 हजार रूपए तथा उप विजेता टीम को 3 हजार रूपए सम्मान निधि दी जायेगी। वहीं जिला स्तरीय मनवा बीजापुर फुटबॉल प्रतियोगिता के विजेता टीम को 15 हजार रूपए और उप विजेता टीम को 9 हजार रूपए का पु...
बीजापुर : वर्चुवल धरना प्रर्दशन कर सौंपा ज्ञापन, शालेय शिक्षक संघ ने मुख्यमंत्री के समक्ष रखी मांगें

बीजापुर : वर्चुवल धरना प्रर्दशन कर सौंपा ज्ञापन, शालेय शिक्षक संघ ने मुख्यमंत्री के समक्ष रखी मांगें

बस्तर संभाग
बीजापुर. छ्ग शालेय शिक्षक संघ के प्रांतीय आहवान पर प्रदेश के समस्त जिलों मे वर्चुवल धरना प्रर्दशन कर विभिन्न माँगो को लेकर मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा गया।बीजापुर मे जिलाध्यक्ष प्रहलाद जैन, जिला सचिव कैलाश रामटेके के नेतृत्व मे एसडीएम देवेश ध्रुव को ज्ञापन सौंपा गया। जिसमे सरकार से माँग की गई कि प्रथम नियुक्ति तिथि से वरिष्ठता,पदोन्न्ति,समयमान वेतन प्रदाय किया जाये,सहायक शिक्षकों की वेतन विसंगति दूर करने ,शिक्षक पंचायत नगरीय निकायों मे लंबित अनुकंपा नियुक्ति दी जाये,लंबित मँहगाई,भत्ता, संविलियन वेटेज,पुराना पेंशन,स्वैछिक स्थानांतरण,संविलियन के पूर्व लंबित एरीयर्श राशि प्रकरणों का अविलंब निराकरण किया जाए। संगठन के जिला सचिव कैलाश रामटेके ने बताया कि जिले के सैकड़ों शिक्षकों ने वर्चुवल धरना प्रर्दशन कर अपनी माँगो से शासन-प्रशासन को अवगत कराया है। जिलाघ्यक्ष प्रहलाद जैन ने बताया कि दिवं...
कोण्डागांव : संवेदना‘ से मानसिक विकारों से जुझ रहे लोगों को मिल रहा सहारा, 11 मरीज हुये स्वस्थ

कोण्डागांव : संवेदना‘ से मानसिक विकारों से जुझ रहे लोगों को मिल रहा सहारा, 11 मरीज हुये स्वस्थ

बस्तर संभाग
कोण्डागांव, 29 जुलाई 2021. शारीरिक व्याधियां यदि किसी इंसान को हो तो उनकी पहचान एवं ईलाज करना संभव हो पाता है परन्तु मानसिक व्याधियों से जुझ रहे इंसान की पहचान एवं उनके ईलाज में लोगों को कठिनाईयों का सामना करना पड़ता है। मानसिक रोगियों को कई बार स्वयं की बीमारी के संबंध में भी ज्ञान नहीं होता और वे स्वयं को आहत करने के साथ अन्य लोगों को भी अनभिज्ञता में गंभीर रूप से हताहत कर जाते हैं। ऐसी स्थिति में मरीजों के परिजनों को सामाजिक एवं आर्थिक समस्याओं का सामना करना पड़ता है। मानसिक व्याधियों के उपचार हेतु अस्पतालों के दूरस्थ शहरों में होने से गरीबी रेखा से नीचे एवं मध्यम वर्ग के लोगों को आर्थिक समस्याओं के चलते इन महंगे अस्पतालों में ईलाज कराना संभव नहीं हो पाता। जिससे मानसिक रोगियों को बिना ईलाज के ही परिजनों द्वारा भटकने के लिये छोड़ दिया जाता है या फिर हिंसक होने पर घरों में ही लोहे की जंजीरों...
कोण्डागांव : जिला अस्पताल में केंटिन संचालन हेतु निविदा 07 अगस्त तक आमंत्रित

कोण्डागांव : जिला अस्पताल में केंटिन संचालन हेतु निविदा 07 अगस्त तक आमंत्रित

बस्तर संभाग
कोण्डागांव, 29 जुलाई 2021/* कार्यालय सिविल सर्जन सह अस्पताल अधीक्षक जिला अस्पताल कोण्डागांव द्वारा जारी विज्ञप्ति अनुसार जिला अस्पताल कोण्डागांव परिसर में केंटिन संचालन करने हेतु निविदा जारी की गई है। जिसमें निविदा प्रपत्र जमा करने की अंतिम तिथि 07 अगस्त 2021 दोपहर 2ः00 बजे तक रखी गई है। उक्त निविदा 11 अगस्त को दोपहर 3ः00 बजे प्राधिकृत अधिकारियों के समक्ष प्रथम तल एमसीएच अस्पताल मिटिंग हाॅल में खोली जावेगी। इस संबंध में अधिक जानकारी हेतु इच्छुक व्यक्ति अथवा फर्म कोण्डागांव जिले की वेबसाईट kondagaon.gov.in एवं राज्य की वेबसाईट cgstate.gov.in पर अवलोकन कर सकते हैं।...
कोण्डागांव : उड़ान आजीविका केन्द्र के उत्पादों हेतु कच्चे माल का होगा जिले में उत्पादन

कोण्डागांव : उड़ान आजीविका केन्द्र के उत्पादों हेतु कच्चे माल का होगा जिले में उत्पादन

बस्तर संभाग
कोण्डागांव, 29 जुलाई 2021. गुरूवार को कलेक्टर पुष्पेन्द्र कुमार मीणा ने उड़ान आजीविका केन्द्र के कार्यों की समीक्षा, तीव्र गति से उत्पादन बढ़ाने एवं निरंतर कच्चे माल की आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिये रणनीति निर्माण हेतु बैठक आयोजित की गई। इस बैठक में कलेक्टर ने राष्ट्रीय आजीविका मिशन बिहान एवं उद्यानिकी विभाग को मिलकर मसालों के निर्माण में प्रयुक्त होने वाले अपरिष्कृत सामग्रियों को जिले में ही उत्पादित कर इनकी आपूर्ति उड़ान में करने को कहा। इसके लिये हल्दी, मिर्ची, धनिया, तिखुर, कटहल, नींबु, लहसुन, अदरक, आम आदि के पौधों के रोपण हेतु उद्यानिकी विभाग को कृषि विज्ञान केन्द्र कोण्डागांव के वैज्ञानिकों से सलाह लेते हुए अच्छे किस्म के पौधों का रोपण सुनिश्चित करते हुए आगामी वर्ष के लिये भी रणनीति तैयार करने के निर्देश दिये। उड़ान में उच्च गुणवत्ता के कच्चे माल की आपूर्ति हेतु कृषि विज्ञान केन्द्र ...
कोण्डागांव : जोहारलाल का दो फसल लेने का सपना हुआ साकार

कोण्डागांव : जोहारलाल का दो फसल लेने का सपना हुआ साकार

बस्तर संभाग
कोण्डागांव, 29 जुलाई 2021. कोण्डागांव जिले के विकासखण्ड बड़ेराजपुर के ओडकापारा निवासी कृषक ‘जोहारलाल नेताम‘ भी उन जैसे हजारों किसानों में थे जिनकी कृषि भूमि पर वर्ष में एक बार मानसुनी सीजन के दौरान फसल लहलहाती थी और सीजन के बाद बाकी के शेष महीने खेत उजाड़ वीरान मैदान में तब्दील हो जाते थे कारण स्पष्ट था कि वर्षा के बाद के शूष्क महीनों में फसल के लिए सबसे जरूरी घटक सिचाई की सुविधा का ना हो पाना था। हालकि दूर्गम पहाड़ियों से फूट निकलने वाले छोटे बडे़ नदी नाले वर्षा के दिनों में तो वेग जलधारा से प्रवाहित हो कर मुख्य नदियों में समाहित होते है परंतु शूष्क महीनों में उनका स्वरूप बदल कर क्षीण डबरी में परिवर्तित हो कर रह जाता है। इसके साथ ही जल स्तर निम्नतम स्तर में पहुंचने के परिणाम स्वरूप सिचाई की आशा विलुप्त होने से एक किसान के लिए द्वि फसली की अवधारणा हमेशा ही बेमानी रही है। नरवा विकास योजना क...
मनवा बीजापुर फ़ोटोग्राफी कांटेस्ट के नतीजे 30 जुलाई को विजेता 15 अगस्त को मुख्य अतिथि के हाँथों होंगे पुरुस्कृत

मनवा बीजापुर फ़ोटोग्राफी कांटेस्ट के नतीजे 30 जुलाई को विजेता 15 अगस्त को मुख्य अतिथि के हाँथों होंगे पुरुस्कृत

बस्तर संभाग, मनोरंजन
बीजापुर। जिला प्रशासन  द्वारा बीते दिनों मनवा बीजापुर फ़ोटोग्राफी कॉन्टेस्ट आयोजन करवाया गया था, जिसे दो श्रेणियों में पेशेवर और प्रारंभिक पर बंटा गया था। फोटोग्राफी का विषय प्रकृति, कृषि, ग्रामीण-शहरी जीवनशैली, आदिवासी  संस्कृति और पर्यटन पर केंद्रित था। कॉन्टेस्ट में जिले के लगभग 150 से अधिक पेशेवर एवं प्रारम्भिक फोटोग्राफरों ने भाग लिया जिसमे लगभग 3000 से अधिक फ़ोटो अलग अलग विषयों पर ऑनलाइन जमा हुये। इस पर अधिक जानकारी देते हुए उप संचालक समाज कल्याण विभाग  उमेश पटेल ने बताया कि विजेताओं की घोषणा 30 जुलाई को की जाएगी तथा 15 अगस्त को मुख्य अतिथि द्वारा पुरुस्कार  वितरण किया जाएगा।...