Tuesday, November 30संस्थापक, प्रधान संपादक, स्वामी श्री नवनीत जगतरामका जी
Shadow

Author: किशोर जैन (दुर्ग-भिलाई)

धरती के गर्भ,पहाड़ों एवं गुफाओं  से प्रकट होती चैतन्य देवियों की झांकी बनी आकर्षण का केंद्र..

धरती के गर्भ,पहाड़ों एवं गुफाओं से प्रकट होती चैतन्य देवियों की झांकी बनी आकर्षण का केंद्र..

दुर्ग - भिलाई
भिलाई 11-10-21:- मानव जीवन मे जब ईर्ष्या,लालच,नशा,लोभ जैसी मन की कलुषित वृत्तियाँ  महिषासुर दानव का रूप धारण कर लेती है तब धरा पर राजयोग द्वारा शिव की प्राप्त शक्तियों से उसका सर्वनाश होता है। यह सिर्फ पौराणिक कथा नही अपितू कलयुग रूपी घोर अंधकार की वर्तमान परिस्थितिया है। जिससे आज का मानव ग्रसित है। पीस ऑडिटोरियम ग्राउंड सेक्टर 7 में यह सुंदर संदेश देती लाईट एंड साउंड के सुंदर समायोजन से अद्भुत दिव्य अलौकिक झांकी जिसमे मूर्ति रूप में प्रकट होती चैतन्य देवियों को श्रद्धालु देख दर्शन लाभ प्राप्त कर रहे है। जिसका उदघाटन राकेश कुमार मिश्रा ई डी एम एम, भिलाई इस्पात संयंत्र,भिलाई सेवाकेन्द्रों की निदेशिका ब्रह्माकुमारी आशा दीदी,श्रीमती मिश्रा एवं बी के प्राची ने दिप प्रज्ज्वलित कर किया। झांकी में धरती के गर्भ से अष्ट भुजाधारी माँ दुर्गा प्रकट होकर असुर का वध करती है। गुफाओं से माँ काली ,...
दि बुद्धिस्ट सोसायटी ऑफ इंडिया भिलाई : वर्षावास का 79 वां दिवस संपन्न, समापन समारोह 21 अक्टूबर को

दि बुद्धिस्ट सोसायटी ऑफ इंडिया भिलाई : वर्षावास का 79 वां दिवस संपन्न, समापन समारोह 21 अक्टूबर को

दुर्ग - भिलाई
दि बुद्धिस्ट सोसायटी ऑफ इंडिया भिलाई और महिला प्रकोष्ठ के संयुक्त संचालन मे जारी पूज्य भंते डा.जीवक के वर्षावास का 79 वां दिवस तथागत गौतम बुद्ध की प्रतिमा पर पुष्प अर्पण व बुद्ध वंदना के साथ प्रारंभ हुआ। त्रैमासिक वर्षावास का समापन 21 अक्टूबर को संध्या 4 बजे बुद्ध विहार सेक्टर 6 मे आयोजित किये जाने का निर्णय सभी पदाधिकारियो द्वारा लिया गया। बुद्ध विहार मे उपस्थित बौद्ध उपासक उपासिकाओ को धम्म देशना देते हुए भंते जीवक ने कहा कि शरीर के विकार से ज्यादा पीड़ादायी मन के विकार होते है इसलिए मनोविकार पर नियंत्रण अति आवश्यक है, उन्होने आगे कहा कि मन आधारित मनुष्य के जीने के लिए  आवश्यक वायु दस प्रकार की होती है। आन, अपान, व्यान, उदान, समान, देवदत्त, धनंजय, नाग, कुर्म और त्रिकल। जिसे भीतर लेते है उसे आन कहते है जिसे बाहर छोड़ते है उसे अपान कहते है, धनंजय वायु मष्तिष्क के बीचो-बीच विद्यमान होती ह...
भारतीय जनता पार्टी रिसाली मंडल वार्ड 25 की बैठक आज दिनांक 10 अक्टूबर को आशीष नगर में संपन्न हुई

भारतीय जनता पार्टी रिसाली मंडल वार्ड 25 की बैठक आज दिनांक 10 अक्टूबर को आशीष नगर में संपन्न हुई

दुर्ग - भिलाई
भारतीय जनता पार्टी रिसाली मंडल वार्ड 25 की बैठक आज दिनांक 10 अक्टूबर को आशीष नगर में संपन्न हुई जिसमें मुख्य रुप से रिसाली मंडल अध्यक्ष श्री राजीव पांडे , मंडल महामंत्री श्री ओ पी रजक , श्रीमती संध्या आचार्य जी उपस्थित थे बैठक में बूथ कार्यकारिणी का निर्माण करने संगठन को मजबूत करने हेतु चर्चा हुई एवं नगर निगम चुनाव में भारतीय जनता पार्टी का महापौर बनाने हेतु संकल्प लिया गया , बैठक में मुख्य रुप से वार्ड प्रभारी श्री विमलेश जैन , मोहन बड़े ,अशपुरण चौधरी , मोरध्वज चंद्राकर मनीष जैन ललित चंद्राकर टी आरएस प्रसाद मुनेश कुमार चंद्राकर स्वप्निल साहू धर्मेंद्र सिंह संदीप कुमार रजक अनुराग सोनी आदि मुख्य रूप से उपस्थित थे...
प्रेस विज्ञप्ति : चैतन्य देवियों की झांकी आज से…(कल 9 अक्टूबर से)

प्रेस विज्ञप्ति : चैतन्य देवियों की झांकी आज से…(कल 9 अक्टूबर से)

दुर्ग - भिलाई
भिलाई 8-10-21:- प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय द्वारा  नवरात्री के पावन अवसर पर आज से ( दिंनाक 9 अक्टूबर) से 14 अक्टूबर तक चैतन्य देवियों की झांकी का आयोजन  सेक्टर 7 स्थित पीस ओडिटोरियंम ग्राउंड में संध्या 6:30 बजे से रात्रि 10 बजे तक सर्व के लिए निशुल्क रहेगा। जिसमें ध्वनि एवं प्रकाश के अद्भूत समायोजन से शिव की  शक्ति राजयोग मेडिटेशन साधनारत ब्रह्माकुमारी बहनों को  चैतन्य दैवियों के  रूप मे अंतरिक्ष  में बने सूर्य एवं पहाड़ो में बनी गुफाओं से प्रकट होते दिखाया जाएगा। राजयोग मेडिटेशन द्वारा प्राप्त शक्ति से मन की एकाग्रता बढ़ती है जिससे विराजित चैतन्य देवियों का मन और तन सम्पूर्ण स्थिर रहता है जिससे वह जड़ मुर्ति के  समान प्रतित होती है। झांकी में श्रधालुओ को भी राजयोग कॉमेंट्री द्वारा शांति एवं एकाग्रता का अनुभव कराया जाएगा। इस अवसर पर पर शनिवार 16 अक्टूबर से आयोजित "म...
अंतर्राष्ट्रीय शिक्षक दिवस पर शिक्षा विभाग व कला विभाग के संयुक्त तत्वावधान में ”गुरु की महत्ता“ विषय पर निबंध प्रतियोगिता का आयोजन

अंतर्राष्ट्रीय शिक्षक दिवस पर शिक्षा विभाग व कला विभाग के संयुक्त तत्वावधान में ”गुरु की महत्ता“ विषय पर निबंध प्रतियोगिता का आयोजन

chhattisgarh, india
युनेस्को में पॉंच अक्टूबर उन्नीस सौ चौरान्वे को शिक्षक दिवस मनाने का निर्णय लिया गया तब से इस दिन अंतर्राष्ट्रीय शिक्षक दिवस मनाया जाता है। विद्यार्थी अंतर्राष्ट्रीय शिक्षक दिवस की महत्ता को समझ सके इस उद्देश्य से शिक्षा व कला विभाग के संयुक्त तत्वावधान में ”गुरु की महत्ता“ विषय पर निबंध प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। कार्यक्रम की संयोजिका डॉ. शैलजा पवार ने कार्यक्रम के उद्देश्यों पर प्रकाश डालते हुए कहा कि अंतर्राष्ट्रीय शिक्षक दिवस से हम सीखते है कि शिक्षक पथ प्रदर्शक होता है, शिक्षक हमें ज्ञान देता है, जिससे हम सही और गलत का निर्णय कर पाते है। शिक्षक देश व समाज के निर्माण में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। शिक्षक विद्यार्थी का सर्वांगीण विकास कर उसे देश हित में कार्य करने के लिये प्रेरित करता है। महाविद्यालय के सीओओ डॉ. दीपक शर्मा ने कहा शिक्षक दिवस मतलब शिक्षकों का दिन, यही वह...
रिसाली नगर निगम भिलाई को इसलिए अलग किया गया

रिसाली नगर निगम भिलाई को इसलिए अलग किया गया

दुर्ग - भिलाई
रिसाली नगर निगम भिलाई को इसलिए अलग किया गया था, क्यो  कि यह एक सबसे बडा वार्ड था। जिससे आम नागरिको को बहुत  समस्या होती थी। मुख्य नगर निगम भिलाई का क्षेत्र विस्तृत होने के कारण ही रिसाली नगर निगम को एक अलग निगम बनाया गया जिससे लोगो को सुविधा हो। लेकिन आज अस्तित्व मे आये रिसाली निगम को एक वर्ष होने को है कोरोना के कारण स्थानीय चुनाव बार बार स्थगित होता रहा है। नये आयुक्त की नियुक्ति के बाद भी यहां पर आम जनता सुविधाओ से वंचित है। हर वार्ड मे कुछ ना कुछ समस्या है। ज्यादातर वार्डो की सडको मे गड्ढे हो गये है।पानी के पाईप लाईन फट गये पानी बह रहा है।गंदे पानी के नालियो का संधारण नही है।सभी वार्डो मे नियमित सफाई नही होती ।कचरा रिक्शा वाला एक दो दिन छोड़कर आता है। हिंद नगर रिसाली जो रिसाली मुक्ति धाम का पहुंच मार्ग है।जो सडक नंबर 2 हिंद नगर रिसाली से होकर जाता है,उस मार्ग मे बडे बडे गड्ढो ...
भिलाई : दि बुद्धिस्ट सोसायटी वर्षावास का 71 वां दिन धम्म देशना के साथ संपन्न हुआ

भिलाई : दि बुद्धिस्ट सोसायटी वर्षावास का 71 वां दिन धम्म देशना के साथ संपन्न हुआ

chhattisgarh, india
दि बुद्धिस्ट सोसायटी ऑफ इंडिया भिलाई और महिला प्रकोष्ठ के संयुक्त संचालन मे पूज्य भंते डा.जीवक के वर्षावास का 71 वां दिन याचना वंदना और धम्म देशना के साथ बुद्ध विहार सेक्टर 6 भिलाई मे संपन्न हुआ। बौद्ध धम्म को एक वैज्ञानिक धम्म और अनुसंधान बताते हुए भंते जीवक ने कहा कि एक सच्ची बौद्ध उपासिका गर्भ धारण के दौरान अपने  गर्भस्थ शिशु को धम्म का ज्ञान दे सकती है, जैसे माता पिता के विचार व संस्कार होते है वैसे ही जन्म लेने वाला शिशु भी विचारवान और संस्कारवान होता है। भंतेजी द्वारा पूछे गये प्रश्न का उत्तर देते हुए महिला प्रकोष्ठ की प्रदेश अध्यक्ष भारती खांडेकर ने कहा कि एक माँ के भीतर सभी धम्म समाहित होते है, ममता स्नेह, वात्सल्य और करुणा सभी धम्मो के प्रमुख अंश और अंग होते है। एक पुरूष के जन्म और धम्म के निर्माण व विकास मे नारी का महत्वपूर्ण योगदान होता है। वर्षावास काल मे धम्म देशना के दौ...
दुर्ग भिलाई : स्वरूपानंद महाविद्यालय में विश्व अहिंसा दिवस का आयोजन

दुर्ग भिलाई : स्वरूपानंद महाविद्यालय में विश्व अहिंसा दिवस का आयोजन

बस्तर संभाग
विश्वविद्यालय अनुदान आयोग के निर्देशानुसार महाविद्यालय की यूजीसी समिति, कला संकाय एवं हिंदी विभाग के   संयुक्त तत्वाधान मे आजादी का अमृत महोत्सव कार्यक्रम के अंतर्गत विश्व अहिंसा दिवस के अवसर पर गांधीजी की बुनियादी शिक्षा के तहत चरखा चलाना सत्र, ताना-बाना प्रशिक्षण, भजन गायन एवं निबंध प्रतियोगिता का आयोजन किया गयाl कार्यक्रम की संयोजिका डाॅ. सावित्री शर्मा ने कार्यक्रम के उद्देश्यों पर प्रकाश डालते हुए कहा की कार्यक्रम को मनाने का उद्देश्य अहिंसा की नीति के जरिए विश्व भर में शांति के संदेश को बढ़ावा देना है l गांधी जी ने अहिंसा के दर्शन के माध्यम से संपूर्ण विश्व से यह आग्रह किया था की वह शांति और अहिंसा के विचार पर अमल करें l कार्यक्रम का शुभारंभ गांधी जी की प्रतिमा को कच्चे सूत की माला पहनाकर किया गयाl महाविद्यालय के मुख्य कार्यकारी अधिकारी डॉ. दीपक शर्मा ने कार्यक्रम की सराहना करते ...
23 Sep 2021 राजेश श्रीवास्तव जिला एवं सत्र न्यायाधीश अध्यक्ष जिला विधिक प्राधिकरण दुर्ग

23 Sep 2021 राजेश श्रीवास्तव जिला एवं सत्र न्यायाधीश अध्यक्ष जिला विधिक प्राधिकरण दुर्ग

दुर्ग - भिलाई
राजेश श्रीवास्तव जिला एवं सत्र न्यायाधीश अध्यक्ष जिला विधिक प्राधिकरण दुर्ग के मार्गदर्शन एवं अध्यक्षता में दिनांक 22 नो 2021 को सभागार जिला न्यायालय दुर्ग में एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यशाला किशोर न्याय अधिनियम के विषय पर आयोजित की गई कार्यशाला का शुभारंभ राजेश श्रीवास्तव जिला एवं सत्र न्यायाधीश अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण दुर्ग के द्वारा मां सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्वलित किया गया कार्यशाला में जिले में पदस्थ सभी न्यायाधीश उपस्थित थे प्रतिभागी के रूप में विशेष किशोर पुलिस इकाई के अधिकारी बाल कल्याण अधिकारी बाल कल्याण समिति के अध्यक्ष सदस्य एवं महिला एवं बाल विकास विभाग के अधिकारी एवं ट्रेवल्स उपस्थित थे माननीय जिला एवं सत्र न्यायाधीश द्वारा बताया गया कि जुवेनाइल जस्टिस अधिनियम बाकी अन्य अधिनियम से भिन्न है यह एकमात्र ऐसा अधिनियम है जिसमें जस्टिस शब्द का प्रयोग किया ...
दि बुद्धिस्ट सोसायटी ऑफ इंडिया ने अमरावती के बौद्ध भिक्खु के उपचार हेतु भी सहयोग राशि भेजी

दि बुद्धिस्ट सोसायटी ऑफ इंडिया ने अमरावती के बौद्ध भिक्खु के उपचार हेतु भी सहयोग राशि भेजी

दुर्ग - भिलाई
दि बुद्धिस्ट सोसायटी ऑफ इंडिया भिलाई और महिला प्रकोष्ठ द्वारा संचालित वर्षावास काल मे बुद्ध विहार सेक्टर 6 भिलाई मे पूज्य भंते जीवक का अनेक धार्मिक व सामाजिक विषयो पर व्याख्यान विश्लेषण व धम्म के उपदेश संदेश निरन्तर जारी है। ज्ञात हो कि आगामी 20 अक्टूबर को वर्षावास का समापन होना है। बुद्ध विहार मे उपस्थित बौद्ध उपासक उपासिकाओ को धम्म देशना प्रदान करते हुए भंते जीवक ने कहा कि जिसके पास मन है वह मनुष्य है और जो मन का उपयोग करता है वही मानव कहलाता है, मनुष्य के भीतर नाना प्रकार के विकार समाहित है, ध्यान साधना के जरिये साक्षी भाव से इन विकारो को दूर कर मनुष्य अपने जीवन को मंगलकारी बना सकता है। धम्म देशना के उपरांत भंते जीवक को धम्मदान दिया गया और संस्था के प्रदेश अध्यक्ष अनिल मेश्राम, सुधेश रामटेके, गौतम खोब्रागड़े, ठाणेन्द्र कामडे, सी एस कमलेकर, खरेन्द्र मेश्राम, राजू मेश्राम, सिद्धार्थ खो...