Thursday, January 27संस्थापक, प्रधान संपादक, स्वामी श्री नवनीत जगतरामका जी
Shadow

Author: बिशेष दुदानी (वेब मास्टर)

Bishes Dudani (बिशेष दुदानी) is renowed Reporter and Writer. He works for Ispat Times Raipur, also Writer (Fictional) and Former IT Engineer.
रायपुर : शैक्षणिक सत्र 2021-22 के लिए वर्चुअल स्कूल में शीघ्र प्रारंभ होगा प्रवेश

रायपुर : शैक्षणिक सत्र 2021-22 के लिए वर्चुअल स्कूल में शीघ्र प्रारंभ होगा प्रवेश

छत्तीसगढ़ न्यूज़
वर्तमान में कोविड-19 महामारी के कारण न केवल सभी स्कूल बंद है बल्कि छत्तीसगढ़ राज्य ओपन स्कूल के विद्यार्थी भी संपर्क केन्द्रों में जाकर अध्ययन नहीं कर पा रहे है। ऐसी स्थिति में यह आवश्यक हो गया है कि सूचना प्रौद्योगिकी का उपयोग कर एक वर्चुअल स्कूल की स्थापना की जाये। अतः छत्तीसगढ़ राज्य ओपन स्कूल के अंतर्गत छत्तीसगढ़ वर्चुअल स्कूल की स्थापना की गयी है। शैक्षणिक सत्र 2021-22 के लिए वर्चुअल स्कूल में शीघ्र प्रवेश प्रारंभ होगा। शिक्षा के क्षेत्र में प्रौद्योगिकी के विकास के कारण अनेक देशों ने प्रौद्योगिकी का उपयोग कर वर्चुअल स्कूलों की स्थापना की गई है। संयुक्त राज्य अमेरिका एवं ऑस्ट्रेलिया जैसे देशों में पिछले कई वर्षों से वर्चुअल स्कूल संचालित हैं। यह वर्चुअल स्कूल ऐसे विद्याथियों को पढ़ाने का कार्य करते हैं जो नियमित रूप से स्कूलों में अध्ययन नहीं कर सकते। छत्तीसगढ़ में ऐसे विषयों की पढ़ाई...
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा ‘ प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना ‘ की आठवीं किश्त जारी करने हेतु आयोजित वर्चुअल कार्यक्रम में शामिल हुए

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा ‘ प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना ‘ की आठवीं किश्त जारी करने हेतु आयोजित वर्चुअल कार्यक्रम में शामिल हुए

छत्तीसगढ़ न्यूज़
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा  'प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना' की आठवीं किश्त जारी करने हेतु आयोजित वर्चुअल कार्यक्रम में शामिल हुए इस अवसर पर मुख्यमंत्री निवास से  कृषि मंत्री श्री रविन्द्र चौबे, मुख्यमंत्री सचिवालय के सचिव श्री सिध्दार्थ कोमल परदेशी, कृषि विभाग के सचिव श्री अमृत खलखो और  संचालक समेटी ( SAMETI ) एवँ राज्य नोडल अधिकारी छत्तीसगढ़ श्री जी.के. निर्माम भी उपस्थित हैं । इसके साथ ही केंद्रीय कृषि मंत्री श्री नरेन्द्र सिंह तोमर, सभी राज्यों एवँ केंद्र शासित प्रदेशों के मुख्यमंत्री, राज्यों के कृषि मंत्री, कृषि मंत्रालय से सम्बद्ध सचिवगण भी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जुड़े हुए हैं।...
मुख्यमंत्री ने प्रदेशवासियों को परशुराम जयंती एवं अक्षय तृतीया की दी शुभकामनाएं

मुख्यमंत्री ने प्रदेशवासियों को परशुराम जयंती एवं अक्षय तृतीया की दी शुभकामनाएं

छत्तीसगढ़ न्यूज़
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने शस्त्र विद्या के महान गुरु, भगवान विष्णु के छठे अवतार भगवान परशुराम जी की जयंती पर प्रदेशवासियों को शुभकामनाएं दी है। मुख्यमंत्री ने अपने शुभकामना संदेश में कहा है कि भगवान परशुराम पराक्रम के प्रतीक माने जाते हैं। मानवहित के लिए किये गए कार्यों के लिए भी उन्हें जाना जाता है। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने प्रदेशवासियों को अक्षय तृतीया (अक्ति) की बधाई और शुभकामनाएं दी हैं। उन्होंने इस अवसर पर प्रदेशवासियों के सुख-समृद्धि और खुशहाली की कामना की है। मुख्यमंत्री ने कहा है कि अक्षय तृतीया के शुभ अवसर पर किये गए काम अक्षय माने जाते हैं। इस दिन विवाह होना भी शुभ-माना गया है, इसलिए भारत में बहुत बड़ी संख्या में इस दिन विवाह होते हैं। इनमें कई बाल-विवाह के मामले भी सामने आते हैं। श्री बघेल ने कहा कि बाल-विवाह एक सामाजिक कुरीति है, हमें इससे मुक्त होना है। इसके लिए श...
रायपुर : गौठान से बढ़ गई आमदनी, घर खर्च चलाने में हो रही आसानी

रायपुर : गौठान से बढ़ गई आमदनी, घर खर्च चलाने में हो रही आसानी

छत्तीसगढ़ न्यूज़
पहले अपने ही गांव में बेराजगार रहने वाली अनेक महिलाओं को अब गौठान के माध्यम से रोजगार मिल गया है। महिला स्व-सहायता समूह से जुड़कर गौठानों का बखूबी संचालन ही नहीं कर रही है, अपितु अपने आमदनी का जरिया भी बना चुकी है। कोरोना संक्रमण काल से जहां अनेक व्यापार व व्यवसाय प्रभावित हो रहे हैं, वही ग्राम सुराजी योजना के तहत् निर्मित गौठानों से जुड़ी महिला स्व-सहायता समूह की महिलाएं आमदनी अर्जित कर घर का खर्च भी उठा रही है। उत्तर बस्तर कांकेर की स्व-सहायता समूह की महिलाओं द्वारा विभिन्न आर्थिक गतिविधियां जैसे- वर्मीकंपोस्ट उत्पादन, मुर्गी पालन, सब्जी उत्पादन, मशरूम उत्पादन इत्यादि कार्य कर आमदनी प्राप्त की जा रही है। यहां चारामा विकासखण्ड के आंवरी गोठान में वर्मी कम्पोस्ट खाद का उत्पादन, मुर्गी पालन, सब्जी उत्पादन, मक्का एवं अरहर तथा मशरूम उत्पादन कर स्व-सहायता समूह की महिलायें आसपास के गांवो में मु...
कोरोना से माता-पिता खो देने वाले बच्चों की पढ़ाई का खर्च उठाएगी छत्तीसगढ़ सरकार, साथ में देगी छात्रवृृृत्ति भी

कोरोना से माता-पिता खो देने वाले बच्चों की पढ़ाई का खर्च उठाएगी छत्तीसगढ़ सरकार, साथ में देगी छात्रवृृृत्ति भी

छत्तीसगढ़ न्यूज़
कोविड के खिलाफ लड़ाई के दौरान छत्तीसगढ़ सरकार ने एक ऐसा निर्णय लिया है जो कोविड पीड़ितों के कुछ आंसू पोंछ सकेगा।कोविड के निर्मम प्रहार के चलते जिन बच्चों का सब कुछ छीन गया है, अब छत्तीसगढ़ सरकार उनका संबल बनने जा रही है,और न केवल उनकी शिक्षा का दायित्व उठायेगी बल्कि उनके भविष्य को संवारने की हर संभव कोशिश भी करेगी। सरकार की इस संवेदनशील पहल को अमली जामा पहनाया जाएगा छत्तीसगढ़ महतारी दुलार योजना के माध्यम से। यह योजना इस वित्तीय वर्ष से लागू की जाएगी। ऐसे बच्चे जिन्होंने अपने माता-पिता कोइस वित्तीय वर्ष के दौरान कोरोना के कारण खो दिया है, उन की पढ़ाई का पूरा खर्च अब छत्तीसगढ़ सरकार उठाएगी। साथ ही पहली से आठवीं तक के ऐसे बच्चों को 500 रुपयेप्रतिमाह और 9 वीं से 12 वीं तक के बच्चों को 1000 रुपये प्रतिमाह की छात्रवृत्ति भी राज्य सरकार द्वारा दी जाएगी। शासकीय अथवा प्राईवेट किसी भी स्कूल में पढ़ाई करन...
रायपुर : मुख्यमंत्री ने वर्षा ऋतु के पहले समितियों से धान का उठाव करने के दिए निर्देश

रायपुर : मुख्यमंत्री ने वर्षा ऋतु के पहले समितियों से धान का उठाव करने के दिए निर्देश

छत्तीसगढ़ न्यूज़
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने वर्षा ऋतु के पूर्व समितियों से धान का उठाव सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं, जिसके तारतम्य में विभाग द्वारा खरीफ विपणन वर्ष 2020-21 में किसानों से उपार्जित धान का निराकरण तेजी से किया जा रहा है। प्रदेश में खरीफ विपणन वर्ष 2020-21 में उपार्जित 92 लाख मीट्रिक टन धान की रिकार्ड मात्रा में से अब तक 75.59 लाख मीट्रिक टन धान का उठाव किया जा चुका है एवं 16.41 लाख मीट्रिक टन धान ही समितियों में उठाव हेतु शेष है, जिसका वर्षा ऋतु प्रारंभ होने के पूर्व उठाव करने का लक्ष्य विभाग द्वारा तय किया गया है। राज्य में समितियों में शेष धान का कस्टम मिलिंग हेतु मिलर्स द्वारा निरंतर उठाव जारी है। साथ ही समितियों से परिवहन के माध्यम से भी धान का निरंतर उठाव किया जा रहा है। इसके अलावा अतिशेष धान की नीलामी की कार्यवाही सतत् रूप से प्रक्रियाधीन होने के फलस्वरूप सफल क्रेताओं द्वारा...
रायपुर : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सीजी टीका वेब पोर्टल का किया शुभारंभ

रायपुर : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सीजी टीका वेब पोर्टल का किया शुभारंभ

छत्तीसगढ़ न्यूज़
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने कोरोना से बचाव के लिए राज्य के 18 से 44 आयु के सभी वर्ग के लोगों के लिए सुविधाजनक तरीके से टीका लगवाने की व्यवस्था सुनिश्चित करने हेतु आज शाम राजधानी स्थित अपने निवास कार्यालय से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सीजी टीका वेब पोर्टल का शुभारंभ किया। यह वेब पोर्टल चिप्स द्वारा तैयार किया गया है, जिसमें ऑनलाईन पंजीयन के साथ-साथ यह सुविधा भी उपलब्ध है कि बिना मोबाइलधारी व्यक्ति भी जिला प्रशासन द्वारा पंचायतों, नगरीय निकायों एवं नगर निगमों सहित अन्य स्थानों पर स्थापित हेल्प डेस्क के सहयोग से अपना पंजीयन इस वेब पोर्टल में कराकर टीका लगवा सकता है। छत्तीसगढ़ सरकार का सीजी टीका वेब पोर्टल यहां के लोगों की सामाजिक और भौगोलिक परिस्थिति को ध्यान में तैयार किया गया है, ताकि लोगों को टीकाकरण के लिए किसी भी तरह की परेशानी न हो। छत्तीसगढ़ सरकार की इस अभिनव पहल से लोगों को...
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सभी जिला कलेक्टरों को बेमौसम बारिश से हुई क्षति, के लिए तत्काल सहायता उपलब्ध कराने के दिये निर्देश

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सभी जिला कलेक्टरों को बेमौसम बारिश से हुई क्षति, के लिए तत्काल सहायता उपलब्ध कराने के दिये निर्देश

छत्तीसगढ़ न्यूज़
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने प्रदेश में हुई बेमौसम बारिश से फसल सहित अन्य हानि का आंकलन करने और प्रभावितों को तत्काल आवश्यक सहायता उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री ने कलेक्टरों से कहा है कि बारिश और आंधी-तूफान की वजह से फसल सहित अन्य जन-धन के नुकसान के सर्वे के लिये तत्काल टीम का गठन कर आंकलन करें और पीड़ितों को तत्काल राजस्व पुस्तक परिपत्र 6-4 के तहत आवश्यक आर्थिक सहायता राशि प्रदान की जाए।...
छत्तीसगढ़ में कोरोना अब ढलान पर, संक्रमण की रफ्तार धीमी हुई

छत्तीसगढ़ में कोरोना अब ढलान पर, संक्रमण की रफ्तार धीमी हुई

छत्तीसगढ़ न्यूज़
छत्तीसगढ़ में कोविड-19 महामारी की दूसरी लहर अब ढलान पर है। राज्य में संक्रमण की दर में कमी आयी है साथ ही कोविड से मृत्यु की संख्या भी कम हुई है। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के नेतृत्व और निर्देशन पर राज्य के अस्पतालों में आक्सीजन और बिस्तरों की उपलब्धता भी बढ़ी है साथ ही प्रदेश में अब हर वर्ग का टीकाकरण भी तेजी से जारी है। कोविड-19 महामारी की दूसरी लहर में प्रदेश में पाॅजिटिव प्रकरणों में कमी देखी जा सकती हैै। जहां 24 अप्रैल को राज्य में करीब 17 हजार धनात्मक प्रकरण थेे वहीं 26 अप्रैल को 15 हजार 84 तथा 29 अप्रैल को 15 हजार 804, 4 मई को 15 हजार 785 वो अब धीरे-धीरे घटकर 8 मई को 12 हजार 239, 9 मई को 9 हजार 120 तथा 10 मई को 11 हजार 867 रही। प्रदेश में कोविड-19 दैनिक धनात्मकता दर में भी काफी कमी आयी है। 23 अप्रैल को जहां यह 31.4 थी वह क्रमशः घटते हुए 26 अप्रैल को 27.8, 30 अप्रैल को 25.2, 3 म...
रायपुर : स्वास्थ्य मंत्री टी.एस. सिंहदेव ने कोरोना जांच और टीकाकरण की प्रगति की समीक्षा की

रायपुर : स्वास्थ्य मंत्री टी.एस. सिंहदेव ने कोरोना जांच और टीकाकरण की प्रगति की समीक्षा की

छत्तीसगढ़ न्यूज़
स्वास्थ्य मंत्री श्री टी.एस. सिंहदेव ने आज स्वास्थ्य विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ प्रदेश में कोरोना जांच एवं टीकाकरण की प्रगति की समीक्षा की। उन्होंने सिविल लाइन स्थित नवीन विश्राम भवन में आयोजित समीक्षा बैठक में सभी वर्गों के टीकाकरण में तेजी लाने के निर्देश दिए। उन्होंने नागरिकों के लिए सुविधाजनक जगहों और भवनों में टीकाकरण केंद्र स्थापित करने कहा। उन्होंने टीकाकरण केन्द्रों में सभी जरूरी सुविधाएं सुनिश्चित करने के निर्देश दिए ताकि टीकाकरण के लिए पहुंचने वाले लोगों को किसी तरह की परेशानी न हो। श्री सिंहदेव ने छत्तीसगढ़ मेडिकल सर्विसेस कार्पोरेशन को टीका बनाने वाली दोनों कंपनियों के साथ समन्वय कर 18 वर्ष से 44 वर्ष आयु वर्ग के लिए ज्यादा से ज्यादा संख्या में टीकों की व्यवस्था करने कहा। उन्होंने टीकाकरण के लिए आवश्यक कन्ज्युमेबल्स (Consumables) भी पर्याप्त संख्या में भंडारित करने कहा। ...