Friday, October 22संस्थापक, प्रधान संपादक, स्वामी श्री नवनीत जगतरामका जी
Shadow

Author: बिशेष दुदानी (वेब मास्टर)

Bishes Dudani (बिशेष दुदानी) is renowed Reporter and Writer. He works for Ispat Times Raipur, also Writer (Fictional) and Former IT Engineer.
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल : छत्तीसगढ़ शांति का टापू है : क़ानून व्यवस्था को बनाए रखना हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल : छत्तीसगढ़ शांति का टापू है : क़ानून व्यवस्था को बनाए रखना हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता

chhattisgarh, india
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल की अध्यक्षता में आज यहां न्यू सर्किट हाउस के ऑडिटोरियम में कलेक्टर्स कॉन्फ्रेंस आयोजित हुई। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने सभी जिला कलेक्टरों से कहा कि ने ग्रास रूट पर मूलभूत प्रशासन पर अधिकतम ध्यान केंद्रित किया जाए। मंत्रालय से लिए गए निर्णय को धरातल पर पहुँचाने का बीड़ा ज़िला प्रशासन पर है। इसकी समीक्षा आँकड़ों से नहीं, छत्तीसगढ़ के नागरिकों को इन योजनाओं से पहुँचे प्रत्यक्ष लाभ से परफार्मेंस का आँकलन किया जाएगा। बैठक में कृषि मंत्री श्री रविंद्र चौबे, मुख्य सचिव श्री अमिताभ जैन, पुलिस महानिदेशक श्री डी. एम. अवस्थी, पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग की अपर मुख्य सचिव श्रीमती रेणु जी.पिल्ले, मुख्यमंत्री के अपर मुख्य सचिव श्री सुब्रत साहू सहित प्रमुख सचिव, विभिन्न विभागों के सचिव, कमिश्नर, जिलों के कलेक्टर तथा वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित रहें। मुख्यमंत्री श्री भूपेश ...
रायपुर : पुलिस जवानों के समर्पण और कर्तव्यपरायणता से समाज को मिल रही सुरक्षा : राज्यपाल सुश्री उइके

रायपुर : पुलिस जवानों के समर्पण और कर्तव्यपरायणता से समाज को मिल रही सुरक्षा : राज्यपाल सुश्री उइके

chhattisgarh, india
पुलिस के जवान मातृभूमि की सेवा के लिये अपने जीवन की भी परवाह नहीं करते हैं। हम आज अपने घरों में सुरक्षित हैं, क्योंकि पुलिस के जवान दिन-रात पूरे समर्पण भाव से अपनी ड्यूटी में तैनात रहते हैं। आज पुलिस स्मृति दिवस का अवसर उन वीर जवानों के शौर्य की याद दिलाता है, जिन्होंने मातृभूमि की रक्षा के लिए सब कुछ न्यौछावर कर दिया। उक्त बातें राज्यपाल सुश्री अनुसुईया उइके ने आज चौथी वाहिनी, छसबल माना रायपुर के प्रांगण में पुलिस स्मृति दिवस के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में कहीं। उन्होंने शहीद जवानों एवं उनके माता-पिता को नमन किया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल एवं गृहमंत्री श्री ताम्रध्वज साहू ने पुलिस के शहीद जवानों को पुष्पचक्र अर्पित कर श्रद्धांजलि अर्पित की। उन्होंने शहीद पुलिस जवानों के परिजनों से मुलाकात कर ढाढस बंधाया और हरसंभव सहायता का आश्वासन दिया। राज्यपाल सुश्री उइके ने कहा कि कोर...
विशेष लेख : पिता के साथ मिलाता है ताल में ताल, दस साल का छयांक नृत्य में दिखाता है कमाल

विशेष लेख : पिता के साथ मिलाता है ताल में ताल, दस साल का छयांक नृत्य में दिखाता है कमाल

chhattisgarh, india
राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव का आयोजन एक बार फिर राजधानी रायपुर में होने जा रहा है। छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा किये जा रहे इस आयोजन में शामिल होने के लिए आदिवासी नृत्य से ताल्लुक रखने वाले कलाकार अपनी तैयारी में जुट गए हैं। कलाकार लगातार अभ्यास कर रहे हैं, उन्हें भरोसा है कि यदि उन्होंने अच्छे से मेहनत की तो उनका चयन निश्चित ही आदिवासी नृत्य समारोह के लिए होगा। आदिवासी नृत्य महोत्सव की तैयारी में बड़े-बड़े कलाकारों के बीच कुछ नन्हें कलाकार भी है, जो अपनी प्रतिभा दिखाने के लिए अपने स्तर पर कड़ी मेहनत कर रहे हैं। विशेष पिछड़ी जनजाति कमार से संबंधित विवाह कार्यक्रम के दौरान खुशियों को गीतों और पारम्परिक नृत्य के माध्यम से मंच पर प्रस्तुत करने दस साल का छयांक अपने पिता श्री अमर सिह और समूह के अन्य सदस्यों के साथ जुटा हुआ है। अभी तक कई कार्यक्रमों में अपनी प्रस्तुति दे चुके छयांक के नृत्य का कमाल ...
रायपुर की पदयात्रा पे निकले 58 गांवों के 3000 ग्रामीण लोग, नारायणपुर जिले में शामिल करने की मांग को लेकर राज्यपाल से मिलेंगे

रायपुर की पदयात्रा पे निकले 58 गांवों के 3000 ग्रामीण लोग, नारायणपुर जिले में शामिल करने की मांग को लेकर राज्यपाल से मिलेंगे

chhattisgarh, india
छत्तीसगढ़ के कांकेर जिले के 58 गांवों के 3 हजार से ज्यादा ग्रामीण हाथों में तिरंगा और महात्मा गांधी की फोटो लेकर राजधानी रायपुर के लिए पदयात्रा पर निकल गए हैं। ग्रामीणों की मांग है कि, कोलर इलाके के 58 गांवों को पड़ोसी नारायणपुर जिले में शामिल किया जाए। इससे पहले ग्रामीण 45 दिनों तक रावघाट मंदिर के पास धरने पर भी बैठे थे। लेकिन इनकी समस्याएं जानने के लिए कोई भी जिम्मेदार इन तक नहीं पहुंचा। अब ग्रामीण खुद अपनी मांगों को लेकर छत्तीसगढ़ की राज्यपाल अनुसुइया उइके से मुलाकात करने के लिए पैदल निकल गए हैं। 150 किमी का करना पड़ता है सफर तय 58 गांवों के ग्रामीणों का कहना है कि, हमें शासकीय कामों के लिए 150 किलोमीटर का सफर तय कर कांकेर जिला मुख्यालय जाना पड़ता है। आने-जाने में 1 से 2 दिन का समय लगता है। इस इलाके में पक्की सड़कें भी नहीं हैं। ऐसे में कई किलोमीटर पैदल सफर तय करते हैं। जबकि नारायणपुर जिल...
मुख्यमंत्री ने श्री धन्वंतरी जेनेरिक मेडिकल स्टोर योजना का किया शुभारंभ : योजना के अंतर्गत 84 मेडिकल स्टोर हुए शुरू

मुख्यमंत्री ने श्री धन्वंतरी जेनेरिक मेडिकल स्टोर योजना का किया शुभारंभ : योजना के अंतर्गत 84 मेडिकल स्टोर हुए शुरू

chhattisgarh, india
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने कहा है कि महंगी होती स्वास्थ्य सेवाओं को गरीब से गरीब व्यक्ति की पहंुच में लाने का प्रयास राज्य सरकार द्वारा पूरी संवेदनशीलता के साथ किया जा रहा है। इसके लिए अनेक योजनाएं प्रारंभ की गई हैं। इसी कड़ी में आज श्री धन्वंतरी मेडिकल स्टोर योजना का शुभारंभ किया गया है। इन मेडिकल स्टोर्स में जेनेरिक दवाइयां 50 से 71 प्रतिशत कम कीमत पर उपलब्ध होगी। मुख्यमंत्री आज यहां अपने निवास कार्यलय से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए श्री धन्वन्तरी जेनरिक मेडिकल स्टोर योजना का शुभारंभ करने के बाद कार्यक्रम को सम्बोधित कर रहे थे। इस योजना के अंतर्गत राज्य में 84 दुकानों का शुभारंभ मुख्यमंत्री श्री बघेल ने किया। श्री धन्वंतरी जेनेरिक मेडिकल स्टोर्स से उपभोक्ताओं को सस्ती दर पर गुणवत्तापूर्ण दवाईयां उपलब्ध होगी। उपभोक्ताओं को दवाइयों की एमआरपी पर न्यूनतम 50.09 प्रतिशत और अधिकतम 71 प्रतिश...
पुलिस स्मृति दिवस : राज्यपाल शहीद पुलिसकर्मियों के परिजनों से करेंगी भेंट और लेंगी परेड की सलामी

पुलिस स्मृति दिवस : राज्यपाल शहीद पुलिसकर्मियों के परिजनों से करेंगी भेंट और लेंगी परेड की सलामी

chhattisgarh, india
राज्यपाल सुश्री अनुसुईया उइके एवं मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल की उपस्थिति में 21 अक्टूबर को पुलिस स्मृति दिवस परेड का आयोजन किया जायेगा। शहीदों की स्मृति में कार्यक्रम चौथी वाहिनी, छसबल, माना में सुबह  8.50 से 10.21 बजे तक संपन्न होगा। कार्यक्रम में राज्यपाल महोदया 1 सितम्बर 2020 से 31 अगस्त 2021 तक छत्तीसगढ राज्य में शहीद हुए 32  पुलिसकर्मियों के परिजनों से भेंट करेंगी। कार्यक्रम के प्रारंभ में राज्यपाल महोदया को परेड द्वारा सलामी एवं बैण्ड द्वारा राष्ट्रीय धुन का वादन और पाल-बियरर पार्टी द्वारा सम्मान सूची का प्रस्तुतिकरण किया जायेगा। इसके उपरांत 9.10 बजे पुलिस महानिदेशक द्वारा श्रद्धांजलि उद्बोधन, 9.13  बजे गृहमंत्री द्वारा श्रद्धांजलि उद्बोधन, 9.15  बजे मुख्यमंत्री द्वारा श्रद्धांजलि उद्बोधन और 9.22 बजे राज्यपाल महोदया द्वारा श्रद्धांजलि उद्बोधन किया जायेगा। कार्यक्रम में पाल-बियरर ...