कोरोना पीड़ित बताकर वीडियो वायरल करने पर हुई कार्रवाई, कलेक्टर ने नर्स को किया निलंबित

रायपुर | छत्तीसगढ़ सरकार ने बोर्ड परीक्षाओं समेत 12वीं कक्षा तक की सभी परीक्षाओं को स्थगित करने के आदेश दिए हैं। इसके साथ ही मेडिकल कॉलेज में एमबीबीएस द्वितीय वर्ष की परीक्षा पर भी रोक लगा दी है। रायपुर एनआईटी में भी छुटि्टयों को 5 अप्रैल तक बढ़ा दिया है। छात्रों से हॉस्टल खाली कराए जा रहे हैं। राज्य सरकार ने कोरोना से संबंधित जानकारी, शिकायत या फिर सुझाव देने के लिए टोल फ्री नंबर निदान-1100 जारी किया है।

कोरोनावायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिए प्रदेश सरकार ने शहरी क्षेत्र के नागरिकों के लिए निदान-1100 की सेवा शुरू की है। यह एक टोल फ्री नंबर है। नगरीय निकायों में निवासरत नागरिक इस नंबर पर भी कोरोना से संबंधित शिकायत, सुझाव और जानकारी दर्ज करा सकते हैं। अगर किसी ऐसे व्यक्ति की जानकारी हो, जिसने हाल ही में विदेश यात्रा की हो और स्वास्थ्य परीक्षण न कराया हो तो उसके बारे में भी इस नंबर पर सूचना दी जा सकती है।

एनआईटी पहले 22 मार्च तक किया गया था बंद
रायपुर में कोरोना पॉजिटिव मरीज मिलने के बाद एनआईटी ने संस्थान को 5 अप्रैल तक बंद करने का निर्णय लिया है। कॉलेज के हॉस्टल को भी खाली कराए जा रहे हैं। सभी कक्षाओं को भी सस्पेंड कर दिया गया है। पहले 22 मार्च कर एनआईटी में छुट्टी दी गई थी। राज्य सरकार ने सभी परीक्षाओं को स्थगित करने का फैसला लिया है। कक्षा पहली से 12वीं तक की कोई भी परीक्षा नहीं होगी। साथ ही ओपन स्कूल की सभी परीक्षाओं स्थगित किया गया है।

पेंड्रा में संदिग्ध महिला का वीडियो वायरल करने पर नर्स सस्पेंड
नवनिर्मित जिले पेंड्रा में कोरोना संदिग्ध महिला का वीडियो वायरल करने पर स्टाफ नर्स शोभा बड़ा को निलंबित कर दिया है। वीडियो बनाने वाले लैब टेक्नीशियन महिलपाल सिंह को नोटिस जारी कर 3 दिन के अंदर जवाब मांगा है। जबकि कोरोना की संदिग्ध महिला की रिपोर्ट निगेटिव आई है। महिला ने अफवाह फैलाने के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की है। कलेक्टर शिखा राजपूत तिवारी ने यह कार्रवाई की है।

स्वास्थ्य सचिव ने कहा-कोरोना पीड़ित की हालत स्थिर
स्वास्थ्य विभाग की प्रमुख सचिव निहारिका बारिक सिंह ने कोरोनावायरस को लेकर फैल रही अफवाहों पर ध्यान नहीं देने की अपील की है। उन्होंने कहा है कि 2 दिन पहले कोरोना संक्रमित राज्य में पहले मरीज़ का पता चला है। 23 वर्षीय युवती विदेश प्रवास के बाद घर वापस आई है। जांच के बाद रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। अभी उसके स्वास्थ्य की हालत स्थिर है और रायपुर के एम्स अस्पताल में भर्ती है। सोशल मीडिया पर चल रही अफवाहों पर ध्यान न दें।