वॉट्सअप पर कोरोनावायरस से मौत की अफवाह फैलाने वाले व्याख्याता के खिलाफ कार्रवाई, कलेक्टर ने किया निलंबित

कांकेर : कोरोनावायरस,  एक सरकारी कर्मचारी पर कार्रवाई का कारण बन गया है। दरअसल हिमन कोर्राम नाम के व्याख्याता ने कोरोनावायरस से एक ग्रामीण की मौत का संदेश वॉट्सअप पर वायरल कर दिया। कई ग्रुप में इस मैसेज को शेयर कर दिया। स्थानीय लोगों ने इस मैसेज को फर्जी बताते हुए थाने में शिकायत की। इस मामले  की जानकारी कलेक्टर को भी हुई।

उन्होंने हिमन को निलंबित कर दिया। हिमन वर्तमान में शिक्षा विभाग में बीआसी (ब्लॉक रिसोर्स कोऑर्डिनेटर) के रूप में काम करते हैं। हिमन ने मैसेज में लिखा कि एक ग्रामीण की मौत हो गई। वह चिकन खाता था। डॉक्टरों ने पाया कि उस ग्रामीण को कोरोनावायरस था। इसलिए कोई भी चिकन न खाएं।

मैसेज के आखिर में लिखा था स्वास्थ्य विभाग द्वारा जनहित में जारी। यह मैसेज फर्जी निकला। राज्य में अब तक एक भी मरीज कोरोनावायरस से पीड़ित नहीं पाया गया है। सरकार ने चिकन या अंडे से भी इसका कोई सम्बंध नहीं बताया है।