नक्सल संगठन में भेदभाव व जवानों द्वारा लगातार चलाये जा रहे ऑपरेशन के प्रभाव से 3 नक्सलियों ने किया आत्मसमर्पण

सुकमा. छत्तीसगढ़  के सुकमा  जिले में 8 लाख इनामी नक्सली समेत तीन नक्सलियों ने हथियार डाल दिए हैं. पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक नक्सली करटामी बादल और उसकी पत्नी 5 लाख की इनामी नक्सली ने सरेंडर किया है. दो लाख इनामी एक और नक्सली ने मड़कम बीजू ने भी आत्मसमर्पण किया है. एसपी शलभ सिन्हा और सीआरपीएफ 226 अधिकारियों के समक्ष इन नक्सलियों ने आत्मसमर्पण किया है. सरेंडर करने वाले नक्सली करटामी ने पुलिस को बताया है कि नक्सल संगठन में बड़े लीडर खासकर जो आंध्र प्रदेश से जुड़े हुए नक्सली है हमेशा से भेदभाव और शोषण करते है. इसलिए अपनी पत्नी कमली के साथ पुलिस और सीएसरपीएफ 226 के समक्ष आत्म समर्पण किया.

एस पी  शलभ सिन्हा ने कहा कि लगातार जवानों द्वारा चलाए जा रहे ऑपरेशन के कारण नक्सल संगठन  पर दबाव बन रहा है. साथ ही नक्सल संगठन में भी स्थानीय नक्सलियों के साथ भेदभाव किया जा रहा है. इसलिए तीनों नक्सलियों ने सरेंडर किया है. तीनों को प्रोत्साहन राशि दी गई है और शासन की योजना का लाभ भी दिया जाएगा