कबीरधाम जिले के 16 नए नल-जल योजना को मिली मंजरी, 14 और मिलने की उम्मीद : जिले के जलसंकट ग्रस्त ग्राम पंचायतों में अब नहीं होगी पानी की समस्या

राज्य शासन द्वारा कबीरधाम जिले के 468 पंचायत के 964 गांवों और उनके 2464 बसाहटो में तथा जिले के सभी छः नगरीय निकायों में शुद्ध पेयजल आपूर्ति के लिए विशेष प्रयास किए जा रहे हैं। मुख्यमंत्री श्री भुपेश बघेल द्वारा वन परिवहन तथा कवर्धा विधायक श्री मोहम्मद अकबर की अनुशंसा पर जिले के कवर्धा और पंडरिया विधानसभा क्षेत्र के जलसंकट ग्रस्त ग्राम ंपंचायतों में 16 नए नलजल योजना की मंजूरी दी गई है। 14 और नए नल जल योजना मिलने की उम्मीद लगाई जा रही है। 16 नल-जल योजना मूर्त लेने के बाद ग्रामीणों को शुद्ध पेयजल की निरंतर आपूर्ति हो सकेगी। जिले के कवर्धा, पंडरिया, बोडला और सहसपुर लोहारा के कुल 468 पंचायत के 964 गांवों और उनके 2464 बसाहटो में 11 हजार 817 हैण्डपंप स्थापित कर ग्रामीण क्षेत्रांे मे नियमित रूप से पेयजल व्यवस्था सुनिश्चित की जा रही है।
नलजल योजना, 193 स्थल जल प्रदाय योजना से मिल रहा पानी
लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग द्वारा कबीरधाम जिले अंतर्गत ग्रामीण क्षेत्रो मे 145 नलजल योजना, 193 स्थल जल प्रदाय योजना, तथा विद्युत विहीन, ग्रामों में 281 सोलर पंप एवं चरम वांमपंथ प्रभावित क्षेत्रो मंे 61 सेनेटरी वेल के माध्यम से ग्रामीणांे को सतत् एवं गुणवत्ता युक्त पेयजल मुहैया कराया जा रहा है। साथ ही 53 नग नलजल प्रदाय योजना, 9 आवर्धन योजना, 07 स्थल जल प्रदाय योजना, 13 सोलर आधारित जल प्रदाय योजना वर्तमान में का काम चल रहा है, जिसे भी जल्द से जल्द तैयार कर ग्राम पंचायत को हस्तांतरित कर दिया जाएगा।ं नल जल का काम पूरा होने के बाद संबंधित ग्रामों में भी पेयजल की समस्या दूर हो जाएगी।
वनमंत्री तथा कवर्धा विधायक श्री अकबर के अनुशंसा से 16 नए नल जल योजना को मिली मंजूरी

वन, परिवहन तथा कवर्धा विधायक श्री मोहम्मद अकबर द्वारा कबीरधाम जिले के कवर्धा और पंडरिया विधानसभा क्षेत्र के ग्रामीण क्षेत्रों में पेयजल समस्या को दूर करने के लिए विशेष प्रयास किए जा रहे है। ग्रामीण क्षेत्रो में पेयजल समस्या को दूर करने के लिए वनमंत्री एवं कवर्धा विधायक श्री अकबर की अनुशंसा से कवर्धा और व पंडरिया पेयजल समस्या ग्रस्त ग्रामो के लिए 30 नल जल योजना तैयार कर प्रेषित की गई है, जिसमे से 16 योजना की मंजूरी मिल गई है। योजना टेंडर प्रक्रिया मंे है, जिसे भी जल्द से जल्द क्रियान्वयित कराते हुए योजना का लाभ संबंधित ग्राम पंचायत को दिए जाने के लिए सतत् प्रयास किया जा रहा है।

सुतियापाट जलाशय सतही स्त्रोत पर आधारित ठाठापुर-दशरंगपुर-इंदौरी समूह जल प्रदाय योजना

कबीरधाम जिले के मध्यम सुतियापाट जलाशय पेयजल स्त्रोत पर आधारित ठाठापुर-दशरंगपुर- इंदौरी, 23 ग्रामों और 2 नगर पंचायत में पेयजल एवं निस्तारी समूह जल प्रदाय योजना विकासखंड कवर्धा एवं सहसपुर.लोहारा के अंतर्गत भू-जल स्तर से प्रभावित कुल 23 ग्राम आते है। ग्रीष्म ऋतु में पेयजल समस्या को देखते हुए सहसपुर लोहारा विकासखण्ड के सुतियापाट जलाशय से ग्रेवटी एण्ड पमिं्पग आधारित समूह (23 ग्राम) जल प्रदाय योजना तैयार किया गया है। उक्त योजना की लागत राशि 7357.92 करोड रूपए प्रस्तावित की गई है जिसकी स्वीकृति जल्द से जल्द प्राप्त कर योजना का क्रियान्वयन किया जाएगा।

जल जीवन मिशन के तहत वर्ष 2024 तक हर घर नल-हर घर जल पहुंचाने का लक्ष्य

लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के कार्यपालन अभियंता श्री सुनिल शुक्ला ने बताया कि भारत सरकार जल शक्ति मंत्रालय के निर्देशानुसार ग्राम वासियों को शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराने की दिशा मंे एक उल्लेखनीय पहल करते हुए हर घर नल, हर घर जल प्रदाय के लिए जल जीवन मिशन के तहत वर्ष 2019-20 से 2023-24 तक प्रत्येक घर को घरेलू नल कनेक्शन प्रदान किया जाना है। इसके लिए लागत 51447.लाख रूपए का कार्य योजना तैयार कर प्रस्तुत की गई है, जिसकी स्वीकृति प्राप्त होते ही तत्काल कार्यवाही संपादित कराई जाएगी।