आंगनबाड़ियों में दिया जा रहा गर्म पका भोजन : दोपहर 12 से 02 बजे के बीच तय समय में हितग्राही पहुंच रहे आंगनबाड़ी

राज्य शासन के निर्देशानुसार 16 सितंबर से ग्रामीण क्षेत्र के आंगनबाड़ी केन्द्रों को खोलकर गर्म पका भोजन दिया जा रहा है। इसके मद्देनजर धमतरी जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में भी बुधवार से बच्चों, गर्भवती और शिशुवती महिलाओं को दोपहर 12 से दो बजे तक गर्म पका भोजन खिलाया जा रहा है। कोरोना संक्रमण से बचाव को ध्यान में रख कलेक्टर श्री जय प्रकाश मौर्य ने महिला एवं बाल विकास विभाग के अमले को सख्त निर्देश दिए हैं कि आंगनबाड़ी केन्द्रों को हर रोज एक प्रतिशत हाईपो क्लोराईट के घोल से अनिवार्य रूप से पांेछा जाए। उन्होंने साथ ही इस दौरान सामाजिक दूरी, साबून से हाथ धुलाई, भोजन पकाते वक्त स्वच्छता इत्यादि का ध्यान रखने भी कहा है। आंगनबाड़ी केन्द्रों में हाथ धुलाई के लिए साबून का उपयोग करने तथा हितग्राहियों को सर्दी-खांसी, बुखार होने पर आंगनबाड़ी नहीं आने के लिए निर्देशित किया गया है।
गौरतलब है कि कलेक्टर के निर्देश हैं कि बच्चों को दर्ज संख्या के आधार पर भोजन करने के लिए एक समय तय करते हुए बुलाया जाए, जिससे कि आंगनबाड़ी में सामाजिक दूरी का पालन करना संभव हो। उन्होंने यह भी निर्देशित किया है कि जिन हितग्राहियों (बच्चे, गर्भवती और शिशुवती माताओं) का घर आंगनबाड़ी केन्द्र के करीब है, वे गर्म पका भोजन घर ले जाकर करें, यह व्यवस्था की जाए।