Monthly Archives: August 2014

गो ट्रीज डॉटकॉम और वोडाफोन ने कान्हा-पेंच में 300,000 वृक्ष लगाना शुरू किया

मंडला। भारत के प्रमुख दूरसंचार सेवा प्रदाताओं में से एक, वोडाफोन इंडिया और संयुक्त राष्टÑ के पर्यावरण कार्यक्रम ‘बिलियन ट्री अभियान’ के लिए विशेष भारतीय वृक्षारोपण सहयोगी, गो ट्रीज डॉट…

कपड़ा निमार्ताओं ने भी ई-कॉमर्स की राह पकड़ी

अहमदाबाद। जबोंग और मिंत्रा जैसी ई-कॉमर्स कंपनियों की सफलता से उत्साहित अरविंद लिमिटेड, टीटी लिमिटेड और क्रिएटिव लाइफस्टाइल्स जैसी कपड़ा कंपनियां अपने ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्मों के जरिये आॅनलाइन बाजार में पैठ…

17 हजार करोड़ की रक्षा खरीद को मंजूरी

नई दिल्ली। रक्षा मंत्रालय ने लंबे समय से अटके हजारों करोड़ के सैन्य सौदों को नया बूस्टर डोज दिया है। रक्षा मंत्री अरुण जेटली की अगुवाई वाली रक्षा खरीद परिषद…

प्रोटोकॉल तोड़कर मोदी का स्वागत करेंगे जापानी पीएम

नई दिल्ली। बड़ी उम्मीदों के साथ प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी शनिवार को अपनी जापान यात्रा पर रवाना हो गए। इस यात्रा से द्विपक्षीय संबंधों के नए आयाम खुलने और साथ ही…

चिकित्सा उपकरणों के लिए एफडीआई नीति!

नई दिल्ली। सरकार चिकित्सा उपकरणों के विनिर्माण के क्षेत्र में 100 फीसदी प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) की अनुमति देने के लिए एक अलग नीति तैयार करने के प्रस्ताव पर गंभीरतापूर्वक…

कोयले की किल्लत से होगी बत्ती गुल

नई दिल्ली। इस हफ्ते तो देश एक बड़े बिजली संकट से बाल-बाल बच गया, लेकिन कोयले की कमी और बंद पड़े बिजली संयंत्र शुरू नहीं हुए तो आने वाले सप्ताह…

खनन रॉयल्टी वसूलने के मामले में भारत शीर्ष पर

नई दिल्ली। हाल के दिनों में आयरन ओर के साथ-साथ बाकी खनिजों के लिए रॉयल्टी बढ़ दी गई है। रॉयल्टी बढ?े का असर घरेलू बाजार पर ज्यादा पड़ा है, जहां…

वीडियोकॉन ने लॉन्च की मोबाइल की वी स्टाइल रेंज

नई दिल्ली। वीडियोकॉन ने फीचर फोन की नई रेंज वी स्टाइल लांच की है। इस रेंज के तहत स्मार्ट, मेगा, ग्रेनेड, कर्व, फ्लिप और मिनी हैंडसेट लांच किए गए हैं।…

भारतीय कंपनियों ने एनसीडी से जुटाए 4,000 करोड़ रुपये

नई दिल्ली। भारतीय कंपनियों ने चालू वित्त वर्ष में 4 अगस्त तक नॉन कनवर्टेबल डिबेंचर (एनसीडी) के जरिए 4,000 करोड़ रुपये तक की राशि जुटाई है। कंपनियों ने खासकर कार्यशील…

रंगदारों के आतंक से उजड़ा बस्तर का इतवारी बाजार

जगदलपुर। बस्तर का सबसे पुराना व पारंपरिक इतवारी बाजार हफ्ता वसूलने वालों के कारण उजड़ गया है। बाजार में 500 से ज्यादा रोजगारी आते थे। अब यहां 20-25 रोजगारी ही…